होम »  यौन स्वास्थ्य »  How To Improve Fertility: अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए एक्सपर्ट ने बताए 8 आसान और कारगर उपाय

How To Improve Fertility: अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए एक्सपर्ट ने बताए 8 आसान और कारगर उपाय

Ways To Increase Fertility: इन दिनों बांझपन एक आम समस्या है. पुरुष और महिला दोनों बांझपन का अनुभव कर सकते हैं. यहां कुछ तरीके हैं जो स्वाभाविक रूप से बांझपन को बढ़ावा देते हैं.

How To Improve Fertility: अपनी प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए एक्सपर्ट ने बताए 8 आसान और कारगर उपाय

Ways To Increase Fertility: कई कारक आपकी प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं

खास बातें

  1. बांझपन पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित कर सकता है.
  2. कई सरल तरीके आपको प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं.
  3. आपके शरीर का वजन आपकी प्रजनन क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है.

Tips To Increase Your Fertility Naturally: पितृत्व की यात्रा कभी-कभी जटिल हो सकती है लेकिन यह जान लें कि आप इस कठिनाई में अकेले नहीं हैं. कई कपल्स बांझपन का सामना करते हैं क्योंकि यह लगभग पंद्रह प्रतिशत जोड़ों को प्रभावित करता है. सौभाग्य से, आपकी प्रजनन क्षमता को बढ़ावा देने के लिए कुछ प्राकृतिक तरीके हैं. जीवनशैली और भोजन परिवर्तन प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं. नीचे प्रजनन क्षमता को बढ़ावा देने और तेजी से गर्भवती होने के लिए आठ सहायक सुझाव दिए गए हैं.

Yoga For Glowing Skin: मलाइका अरोड़ा ने बताए स्किन को हेल्दी और ग्लोइंग रखने के लिए 3 बेहतरीन योगासन

प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के शानदार तरीके | Great Ways To Increase Fertility


1. एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर फूड्स खाएं

फोलेट और जिंक जैसे एंटीऑक्सिडेंट पुरुषों और महिलाओं के लिए प्रजनन क्षमता को बढ़ा सकते हैं. वे आपके शरीर के अंदर मुक्त कणों को बाहर निकालते हैं, जो अंडे की कोशिकाओं और शुक्राणु दोनों को नुकसान पहुंचाने के लिए जाना जाता है. विटामिन सी और ई, फोलेट, बीटा कैरोटीन और ल्यूटिन सहित फल, सब्जियां, अनाज और नट्स जैसे खाद्य पदार्थ एंटीऑक्सिडेंट से भरे हुए हैं. इसलिए, इन खाद्य पदार्थों को जितना संभव हो उतना खाएं; वे आपकी प्रजनन क्षमता को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देंगे.

Mask Mistakes for Covid-19: कैसे पहनें सही तरीके से मास्क, न करें ये गलत‍ियां

ntjn2j6gHow To Improve Fertility: एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर भोजन को अपने आहार में शामिल करें

2. अगर आपके पास पीसीओएस है तो कार्ब्स को कम खाएं

पीसीओएस होने वाली महिलाओं के लिए कई प्रजनन विशेषज्ञ कम कार्ब वाली डाइट (पैंतालीस प्रतिशत से कम कैलोरी वाले कार्बोहाइड्रेट) का सेवन करने की सलाह देते हैं. कई अध्ययनों से पता चलता है कि कार्ब की खपत का प्रबंधन पीसीओएस के कुछ पहलुओं पर लाभकारी प्रभाव पड़ता है. एक लो-कार्ब डाइट आपको हेल्दी वजन बनाए रखने, इंसुलिन के स्तर को कम करने और वसा हानि को प्रोत्साहित करने में मदद करता है. यह, बदले में, मासिक धर्म की नियमितता में सहायता करता है.

फेफड़ों को मजबूत कर इनकी कैपेसिटी बढ़ाने वाली 8 आसान और कारगर एक्सरसाइज

3. रिफाइंड कार्ब्स कम खाएं

कार्बोहाइड्रेट की मात्रा शरीर के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन इसका रिफाइंड रूप ठीक नहीं है. परिष्कृत कार्ब्स विशेष रूप से समस्याग्रस्त हैं. इनमें शुगर से भरपूर ड्रिंक और फूड्स शामिल हैं, चावल, सफेद पास्ता और ब्रेड जैसे प्रसंस्कृत अनाज भी.

परिष्कृत कार्ब्स जल्दी से अवशोषित हो जाते हैं, जिससे इंसुलिन के स्तर और ब्लड शुगर में अप्रत्याशित वृद्धि होती है. इंसुलिन के स्तर में लगातार वृद्धि से प्रजनन हार्मोन का उत्पादन कम हो सकता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि आपके शरीर को लगता है कि उसे प्रजनन हार्मोन की आवश्यकता नहीं है. इसलिए, यह ओव्यूलेशन और अंडे की परिपक्वता में कमी में योगदान कर सकता है. जैसा कि पीसीओएस उठाए गए इंसुलिन के स्तर से संबंधित है, परिष्कृत कार्ब्स इसे बदतर बना सकते हैं.

4. अधिक फाइबर खाएं

फाइबर आपके शरीर को अतिरिक्त हार्मोन को निकालने में मदद करता है और एक संतुलित ब्लड शुगर लेवल होता है. फाइबर के कुछ रूप आपकी आंतों को बांधकर अतिरिक्त एस्ट्रोजन से छुटकारा दिला सकते हैं. फिर अतिरिक्त एस्ट्रोजन को अपशिष्ट के रूप में शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है.

सोने से पहले दूध में घी मिलाकर पीने से मिलेगी ग्लोइंग स्किन, स्ट्रेस से छुटकारा और अच्छी नींद

h1sdkn0oHow To Improve Fertility: बेहतर स्वास्थ्य और वजन के लिए डाइट में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें

5. स्वैप प्रोटीन स्रोत

वनस्पति प्रोटीन स्रोतों (जैसे बीन्स, नट्स, और बीज) के साथ कुछ जानवरों के प्रोटीन (जैसे मांस, मछली और अंडे) का आदान-प्रदान कम बांझपन के जोखिम से संबंधित है. अपने रोजमर्रा की डाइट में कुछ प्रोटीन को नट्स, सब्जियों, बीन्स, दाल और कम पारा वाली मछली से बदलने की कोशिश करें.

Jumping Squat करते समय होने वाली 10 आम गलतियां, आज ही जान लें और परफेक्ट तरीके से करें स्क्वाट्स

6. सक्रिय रहें

आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए व्यायाम के कई लाभ हैं, जिसमें बढ़े हुए प्रजनन शामिल हैं. मध्यम शारीरिक गतिविधि पुरुषों और महिलाओं, विशेष रूप से मोटापे से ग्रस्त लोगों में प्रजनन क्षमता बढ़ाने के लिए प्रभावी है.

याद रखें, मॉडरेशन जरूरी है. कई हाई डेंसिटी वाले व्यायाम कुछ महिलाओं में प्रजनन क्षमता में कमी के साथ जुड़े रहे हैं. हाई डेंसिटी वाला व्यायाम आपके शरीर में ऊर्जा संतुलन को स्थानांतरित कर सकता है और आपके प्रजनन तंत्र को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है. अगर आप एक वर्कआउट रुटीन को फॉलो करना चाहते हैं, तो मध्यम तीव्रता वाले व्यायाम करें.

7. आराम करने के लिए समय निकालें

तनाव गर्भधारण की संभावना को प्रभावित कर सकता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि जब आपके तनाव का स्तर बढ़ता है, तो आपके गर्भधारण के अवसर कम हो जाते हैं. यह हार्मोनल परिवर्तनों के कारण होता है जब आप तनावग्रस्त हो जाते हैं. परामर्श प्राप्त करने से अवसाद और चिंता का स्तर कम हो सकता है. यह गर्भ धारण करने के अवसरों को भी बढ़ा सकता है. इसके अलावा, अपने लिए समय निकालना न भूलें.

8. हेल्दी वेट बनाए रखें

वजन महिलाओं और पुरुषों में बांझपन का सबसे महत्वपूर्ण कारक है. अधिक वजन या कम वजन के बने रहना बांझपन के साथ जुड़ा हुआ है. ऐसा इसलिए है क्योंकि आपके शरीर में जमा वसा की मात्रा मासिक धर्म की गतिविधि को प्रभावित करती है. मोटे होना विशेष रूप से मासिक धर्म में अनियमितता और डिंबोत्सर्जन की कमी से जुड़ा हुआ है. यह खराब अंडा विकास का कारण बनता है.

गर्भधारण के अवसरों को बढ़ाने के लिए, अपना वजन को लगातार और स्वस्थ बनाए रखना सीखें. स्वस्थ शरीर, प्रजनन प्रणाली के लिए उचित पोषण आवश्यक है, और यह आपको गर्भधारण करने में सहायता करता है. एक हेल्दी डाइट और प्रभावी जीवन शैली में बदलाव से प्रजनन क्षमता को प्रोत्साहित करने में सहायता मिल सकती है. यह आपके शरीर को गर्भावस्था के लिए भी तैयार करता है.

अगर आप गर्भवती होने की इच्छा रखती हैं, तो आपको हेल्दी पोषण और लाइफस्टाइल ऑप्शन अभी से बनाना शुरू कर देना चाहिए. हालांकि, चिंता और तनाव को हमेशा दूर रखने की कोशिश करें.

कोई भी व्यक्ति अपनी उम्र के अनुसार पितृत्व प्राप्त कर सकता है. अगर आपने आईवीएफ के लिए योजना बनाई है, तो अपनी रोजमर्रा की दिनचर्या में उपरोक्त सुझावों को अपनाने से आपके सफल आईवीएफ और गर्भावस्था के अवसर बढ़ेंगे.

(डॉ नंदिता पलशेकर मुंबई के लीलावती अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ और बांझपन विशेषज्ञ हैं)

अस्वीकरण: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है. एनडीटीवी इस लेख की किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता, या वैधता के लिए जिम्मेदार नहीं है. सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है. लेख में दिखाई देने वाली जानकारी, तथ्य या राय एनडीटीवी के विचारों को प्रतिबिंबित नहीं करती है और एनडीटीवी उसके लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व नहीं मानता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

क्या डबल मास्क पहनने से Coronavirus से संक्रमित होने का खतरा कम होता है? किसको पहनने चाहिए दो मास्क

Summer Workout Mistakes: गर्मियों में वर्कआउट करने के दौरान बिल्कुल न करें ये 7 कॉमन मिस्टेक्स


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Summer Cooler Smoothie: गर्मियों में हेल्दी और फिट रहने के लिए कुकुंबर, वॉटरमेलन, ड्राई फ्रूट स्मूदी का करें सेवन

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------