होम »  मनसिक स्वास्थ्य »  विटामिन डी की कमी आपके मानसिक स्वास्थ्य और Mood पर डालती है बुरा असर? एक्सपर्ट से जानें दोनों के बीच का लिंक

विटामिन डी की कमी आपके मानसिक स्वास्थ्य और Mood पर डालती है बुरा असर? एक्सपर्ट से जानें दोनों के बीच का लिंक

Vitamin D Deficiency: विटामिन डी की कमी न केवल हड्डियों के खराब स्वास्थ्य से जुड़ी है, बल्कि यह आपके मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) को भी प्रभावित करती है. विशेषज्ञ से इन दोनों के बीच के लिंक को समझने के लिए यहां पढ़ें.

विटामिन डी की कमी आपके मानसिक स्वास्थ्य और Mood पर डालती है बुरा असर? एक्सपर्ट से जानें दोनों के बीच का लिंक

Vitamin D Deficiency: विटामिन डी के निश्चित स्तर का सेवन बेहतर मूड और मानसिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है

खास बातें

  1. सूरज की रोशनी विटामिन डी के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है.
  2. विटामिन डी की कमी हड्डी की खराब सेहत से जुड़ी है.
  3. अंडे की जर्दी विटामिन डी का अच्छा स्रोत है.

Vitamin D Deficiency And Mood: विटामिन डी एक अच्छा अस्थि खनिज घनत्व बनाए रखने के लिए जरूरी है. मोटापे और पुरानी बीमारियों वाले लोग इस धूप विटामिन की कमी (Vitamin D Deficiency) के एक उच्च जोखिम में होते हैं. विटामिन डी की कमी से रिकेट्स और ओस्टोमैलेशिया भी हो सकते हैं जिन्हें कंकाल रोगों के रूप में वर्गीकृत किया गया है. इसके साथ ही किसी को अन्य स्वास्थ्य समस्याओं जैसे चयापचय सिंड्रोम, मधुमेह, स्व-प्रतिरक्षित रोग और हृदय रोग, श्वसन संक्रमण, खाद्य एलर्जी, और अस्थमा के बाद के जीवन में भी खतरा हो सकता है. आमतौर पर कई लोगों में फ्रैक्चर, दर्द और दर्द भी देखा जाता है. इसके अलावा, विटामिन डी की कमी से मनोवैज्ञानिक परिणाम भी होते हैं.

पेट की गैस से हैं परेशान? यहां हैं गैस्ट्रिक समस्याओं से छुटकारा पाने के 6 आसान और कारगर तरीके

विटामिन डी की कमी और मानसिक स्वास्थ्य | Vitamin D Deficiency And Mental Health


विभिन्न अध्ययनों से पता चलता है कि इस धूप विटामिन की कमी मानसिक विकारों से जुड़ी हुई है. जी हां, आपने सही सुना है! विभिन्न अध्ययनों से पता चलता है कि अवसाद, द्विध्रुवी विकार, सिज़ोफ्रेनिया या यहां तक कि जुनूनी बाध्यकारी विकार (ओसीडी) जैसे मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों वाले लोगों को आवश्यक विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सिडेंट की कमी हो सकती है. इस प्रकार, कई अध्ययनों से पता चला है कि कम विटामिन डी अवसाद से जुड़ा हुआ है. ऐसा इसलिए है क्योंकि विटामिन डी रिसेप्टर्स पूरे मानव मस्तिष्क में फैले हुए हैं और इसका निम्न स्तर आपको चिंता सहित विभिन्न मूड विकारों के जोखिम में डाल सकता है.

पेट और कमर की चर्बी घटाने के लिए शानदार है ये आयुर्वेदिक ड्रिंक, आज से ही शुरू कर दें पीना!

0qdvfaigVitamin D Deficiency And Mood: अध्ययनों के अनुसार, विटामिन डी आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है

विटामिन डी की कमी एक वैश्विक स्वास्थ्य समस्या है और इसका उच्च या निम्न स्तर समस्याग्रस्त हो सकता है. आपको अपने डॉक्टर से खाद्य पदार्थों या पूरक आहार के सेवन की सही मात्रा के बारे में बात करनी होगी. कम विटामिन डी न केवल आपके मानसिक कल्याण को प्रभावित करता है बल्कि उच्च रक्तचाप से भी जुड़ा होता है. विटामिन डी का निम्न स्तर उच्च रक्तचाप से बंधा है. इस प्रकार, सही विटामिन डी पूरक उच्च रक्तचाप को रोक सकता है.

Vegetarian Superfoods: अगर आप शाकाहारी हैं तो, डाइट में इन 5 सुपरफूड को शामिल करना बिल्कुल न भूलें!

पर्याप्त विटामिन डी लेने के लिए आपको क्या करना चाहिए?

विटामिन डी वाले खाद्य पदार्थों का सेवन: इष्टतम वजन बनाए रखने के लिए अपने दैनिक आहार में सामन, मैकेरल, सार्डिन, मशरूम, अंडे की जर्दी और अनाज, कम वसा वाले डेयरी उत्पादों जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें. शरीर में सूजन पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन न करें.

ओवरबोर्ड न जाएं: अपने डॉक्टर से उस मात्रा के बारे में बात करें जितनी आपको दैनिक खुराक की जरूरत है. समय-समय पर विटामिन डी के स्तर की जांच करें. इस धूप विटामिन पर ओवरबोर्ड जाना भी उचित नहीं है.

सूरज की रोशनी में बैठें: यह विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा पाने का सबसे अच्छा तरीका है. धूप में जाने से बचें क्योंकि यह धूप की कालिमा या रंजकता का कारण बन सकता है.

Weight Loss Tips: वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं, तो इन 5 डाइट मिस्टेक्स को न करें नजरअंदाज!

विटामिन डी की खुराक लेने से पहले हमेशा अपने चिकित्सक से सलाह लें.

(डॉ. शिवांगी पवार सलाहकार मनोचिकित्सक हैं)

अस्वीकरण: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है. एनडीटीवी इस लेख की किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता, या वैधता के लिए जिम्मेदार नहीं है. सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है. लेख में दिखाई देने वाली जानकारी, तथ्य या राय एनडीटीवी के विचारों को प्रतिबिंबित नहीं करती है और एनडीटीवी उसी के लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व नहीं मानता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

सर्दियों में स्ट्रेच मार्क्स, क्रैक हील्स के साथ स्किन की हर समस्या से निजात दिलाता है कोकोआ बटर

How To Improve Brain Health: ब्रेन फंक्शन को इंप्रूव करने के लिए अपनाएं ये शानदार तरीके, आज से ही करें फॉलो

सबसे हेल्दी कुकिंग ऑयल जैतून के तेल के हैं कई कमाल के फायदे, जानें क्यों है एक्सपर्ट की पहली पसंद


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Vitamin D Side Effects: सर्दियों में ज्यादा भी न करें विटामिन डी का सेवन, हो सकती हैं ये 7 गंभीर समस्याएं!

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------