होम »  मनसिक स्वास्थ्य »  माइग्रेन में सुरक्षित और इफेक्टिव है एस्प्रिन, पढ़ें माइग्रेन के 5 घरेलू नुस्खे...

माइग्रेन में सुरक्षित और इफेक्टिव है एस्प्रिन, पढ़ें माइग्रेन के 5 घरेलू नुस्खे...

Aspirin for migraine: हाल ही में सामने आई एक स्टडी के अनुसार एस्प्रिन माइग्रेन के इलाज में कारगर साबित हो सकती है. एक नए अध्ययन में तीव्र माइग्रेन (Acute Migraines) के इलाज के लिए अन्य महंगी दवाओं के साथ-साथ आवर्ती हमलों को रोकने के लिए एस्पिरिन को एक प्रभावी और सुरक्षित विकल्प माना गया है.

माइग्रेन में सुरक्षित और इफेक्टिव है एस्प्रिन, पढ़ें माइग्रेन के 5 घरेलू नुस्खे...

Migraines Symptoms: माइग्रेन के लक्षणों को समझ कर घरेलू नुस्खों से इसे ठीक किया जा सकता है.

खास बातें

  1. एस्प्रिन माइग्रेन के इलाज में कारगर साबित हो सकती है.
  2. माइग्रेन सामान्य तौर पर होने वाला एक विशिष्ट प्रकार का सिरदर्द है.
  3. इसकी शुरुआत बचपन, किशोरावस्था या वयस्क होने पर कभी भी हो सकती है.

Aspirin For Migraine: माइग्रेन के मरीज इस बात पर ध्यान दें. हाल ही में सामने आई एक स्टडी के अनुसार एस्प्रिन माइग्रेन के इलाज में कारगर साबित हो सकती है. हाल ही में माइग्रेन के लिए एस्पिरिन के सुरक्षित फायदों का पता वैज्ञानिकों ने लगाया है. एक नए अध्ययन में तीव्र माइग्रेन (Acute Migraines) के इलाज के लिए अन्य महंगी दवाओं के साथ-साथ आवर्ती हमलों को रोकने के लिए एस्पिरिन को एक प्रभावी और सुरक्षित विकल्प माना गया है. अमेरिकन जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित, समीक्षा में 4,222 रोगियों और रोकथाम या रेक्यूरेंट अटैक में हजारों रोगियों में माइग्रेन के उपचार के 13 परीक्षणों के प्रमाण शामिल हैं. अध्ययन के निष्कर्ष बताते हैं कि माइग्रेन के लक्षणों की शुरुआत (Migraine Symptoms) में दिए जाने पर 900 से 1,300 मिलीग्राम तक की खुराक में उच्च खुराक एस्पिरिन, तीव्र माइग्रेन सिरदर्द (Acute Migraine Headaches) के लिए एक प्रभावी और उपचार विकल्प है. 

Winter Hair Care: सर्दियों में झड़ने लगे हैं बाल? जानें कैसे करें बालों की देखभाल

माइग्रेन सामान्य तौर पर होने वाला एक विशिष्ट प्रकार का सिरदर्द है. माइग्रेन ग्रस्त लोगों को नियमित तौर पर सिरदर्द के दौरे पड़ते हैं. अक्सर यह दर्द कान व आंख के पीछे अथवा कनपटी में होता है. वैसे यह दर्द सिर के किसी भी भाग में हो सकता है. इससे कुछ लोगों के देखने की क्षमता भी कम हो जाती है. 


"यह एक आनुवांशिक बीमारी है, जो खानपान, वातावरण में बदलाव, बढ़ते तनाव या कभी-कभी बहुत अधिक सोने से भी हो सकता है. इसकी शुरुआत बचपन, किशोरावस्था या वयस्क होने पर कभी भी हो सकती है. कभी-कभी उल्टी, जी मिचलाना आदि की शिकायत भी हो सकती है. अगर उपचार न हो तो यह दर्द 4-5 घंटों तक रह सकता है."

#HomeRemedies: कटने पर करें ये उपचार, जल्दी मिलेगा आराम...

घरेलू नुस्खे: दांत में है दर्द, तो ये 5 उपाय आएंगे काम

nb56um6

माइग्रेन का दर्द तेज रोशनी, कुछ खास तरह की खुशबू या शोर होने से हो सकता है. Photo Credit: iStock

माइग्रेन के लक्षण और इलाज के विकल्प (Migraines Symptoms And Treatment Options)

माइग्रेन के कुछ सबसे सामान्य लक्षणों में एक सिरदर्द शामिल है, जो अक्सर एक सुस्त दर्द के रूप में शुरू होता है. फिर एक बेहद ज्यादा दर्द होने पर कई बार यह बरदाश्त से बाहर हो जाता है. माइग्रेन के सिरदर्द अक्सर मतली, उल्टी और प्रकाश, ध्वनि और गंध के प्रति संवेदनशीलता के साथ होते हैं.

माइग्रेन का दौरा 4 से 72 घंटों तक रह सकता है. माइग्रेन अटैक की फ्रीक्वेंसी हफ्ते में कई बार या फिर साल में एक बार भी हो सकती है.

क्या काजू खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है? ऋजुता दिवेकर ने बताया सच...

माइग्रेन के लक्षणों से घर पर कैसे निपटें (How to deal with migraine symptoms at home?)

माइग्रेन के दर्द के लिए प्राकृतिक उपचार, माइग्रेन के दर्द से राहत पाने के लिए एक दवा-मुक्त तरीका है. हर बार जब आप माइग्रेन की शुरुआत या सिरदर्द और मतली के लक्षण महसूस करते हैं, तो आप राहत पाने के लिए घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं- 

1. फूड ट्रिगर से बचें

आहार माइग्रेन को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. माइग्रेन के रोगियों को शराब, प्रोसेस्ड और जंक फूड, अचार युक्त भोजन, कैफीन और मिलावटी भोजन से दूर रहना चाहिए.

2. मतली के लिए अदरक

अदरक को मतली के इलाज के लिए एक प्रभावी घरेलू उपचार माना जाता है. अदरक माइग्रेन के लक्षणों की गंभीरता को कम कर सकता है और ऐसे समय में बड़ी राहत प्राप्त कर सकता है.

सनबर्न और स्किन टैन से राहत दिलाएंगे ये 7 घरेलू नुस्खे

pdafsuf8

माइग्रेन के कारण होने वाली मितली से राहत पाने में अदरक मदद कर सकती है.
 

3. मैग्नीशियम से भरपूर भोजन

अपने आहार में मैग्नीशियम वाली चीजो को शामिल करें. मैग्नीशियम की कमी सिरदर्द और माइग्रेन से जुड़ी है. मैग्नीशियम का सेवन बढ़ाने और माइग्रेन के लक्षणों को रोकने के लिए अधिक बादाम, पत्तेदार हरी सब्जियां, काजू, ब्राजील नट्स, दलिया, अंडे और सूरजमुखी के बीज खाएं.

Kareena Kapoor's Diet Plan: 'गुड न्यूज' में नए लुक के लिए करीना ने फॉलो किया था यह 'सीक्रेट डाइट प्लान'

4. पुदीने का तेल

पुदीना तेल में मेन्थॉल होता है, जो माइग्रेन अटैक को रोकने में कारगर होता है. यह पाया गया कि माथे से जुड़े दर्द, मितली और रोशनी के प्रति संवेदनशीलता के लिए दवाओं की तुलना में माथे पुदीने का तेल लगाना ज्यादा प्रभावी होता है.

5. माइग्रेन से राहत पाने के लिए नियमित रूप से योग करें

माइग्रेन से राहत के लिए अपनी दिनचर्या में योग को शामिल करें. श्वास, ध्यान और शरीर की मुद्राएं स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करती हैं. कई रिसर्च यह साबित कर चुके हैं कि योग माइग्रेन की अवधि और तीव्रता से राहत देने में मदद कर सकता है. माइग्रेन-ट्रिगर क्षेत्रों में तनाव को कम करने की चिंता को कम करने से लेकर योगा माइग्रेन के इलाज और रोकथाम के लिए बहुत फायदेमंद है.(इनपुट-आईएएनएस)

(अस्वीकरण: यहां दी गई सामग्री या सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

What Is Bipolar Disorder: क्या होता है बाइपोलर डिसऑर्डर, कैसे होता है बॉर्डरलाइन बाइपोलर डिसऑर्डर से अलग

और खबरों के लिए क्लिक करें.

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------