होम »  आंखें »  World Sight Day 2020: विश्व दृष्टि दिवस पर जानें आंखों में होने वाली 5 कॉमन समस्याएं और उनसे निजात पाने के उपाय

World Sight Day 2020: विश्व दृष्टि दिवस पर जानें आंखों में होने वाली 5 कॉमन समस्याएं और उनसे निजात पाने के उपाय

World Sight Day 2020: आंखों में कई तरह की समस्याएं होती है, लेकिन हमें सिर्फ यही पता होता है कि आंखें कमजोर (Weak Eyes) हो रही हैं या आंखों में रेडनेस आ रही है, लेकिन इस विश्व दृष्टि दिवस (World Sight Day) के मौके पर डॉक्टर राहिल चौधरी से जानें आंखों में होने वाली 5 कॉमन समस्याएं और उनसे छुटकारा पाने के उपाय....

World Sight Day 2020: विश्व दृष्टि दिवस पर जानें आंखों में होने वाली 5 कॉमन समस्याएं और उनसे निजात पाने के उपाय

World Sight Day 2020: आंखों की कॉमन समस्याओं को दूर करने के लिए करें ये उपाय

खास बातें

  1. बाकी अंगों की तरह आंखों की देखभाल करना भी जरूरी है.
  2. आंखों में होने वाली ये हैं 5 कॉमन समस्याएं
  3. यहां जानें कैसे करें आंखों की समस्याओं को दूर.

World Sight Day 2020: आजकल आंखों का कम उम्र में ही खराब हो जाना कोई हैरान करने वाली बात नहीं है. खासकर कोरोनावायरस (Coronavirus) के दौर में पूरी दुनिया एक मोबाइल फोन और कम्प्यूटर पर सिमट गई है. इस महामारी के दौर में हर चीज वर्चुअच हो गई है. मोबाइल और कम्प्यूटर का ओवर यूज आपकी आंखों को खराब कर सकता है, जिस तरह से हमारी लाइफस्टाइल है उससे मुमकिन है कि आंखों की रोशनी (Eyesight) जल्द कमजोर हो जाएं. अगर आप बी आंखों में जलन (Eye Irritation) या रेडनेस महसूस कर रहे हैं, तो आपको आंखों की समस्या (Eye Problems) हो सकती है. अक्टूबर के दूसरे गुरुवार को विश्व दृष्टि दिवस मनाया जाता है.

रोजाना सुबह ब्रेकफास्ट में खाएं ये 7 फूड्स, पाचन होगा हेल्दी, बढ़ेगी इम्यूनिटी और हमेशा दूर रहेंगी बीमारियां!

आंखों में कई तरह की समस्याएं होती है, लेकिन हमें सिर्फ यही पता होता है कि आंखें कमजोर (Weak Eyes) हो रही हैं या आंखों में रेडनेस आ रही है, लेकिन इस विश्व दृष्टि दिवस (World Sight Day) के मौके पर डॉक्टर राहिल चौधरी से जानें आंखों में होने वाली 5 कॉमन समस्याएं और उनसे छुटकारा पाने के उपाय....


आंखों को खराब कर सकती हैं ये 5 समस्याएं, ऐसे करें इलाज | These 5 Problems Can Spoil The Eyes, Treat Like This

1. कम्प्यूटर विजन सिंड्रोम

डॉक्टर राहिल चौधरी बताते हैं कि आजकल जो सबसे कॉमल आंखों की समस्या दिखाई ददे रही हैं वह स्क्रीन के ज्यादा इस्तेमाल से हो रही है. इस सिड्रोम में आंखों में भारीपन, आंखों में थकावट, आंखों में सूजन, आंखों में रुखापन हो सकता है. अगर आपको इस तरह की समस्या आ रही है, तो आपको सबसे पहले 20-20-20 रेजोल्यूशन को फॉलो करना चाहिए. यानि हर 20 मिनट में 20 फिट दूर देखकर आंखों को 20 बार झपकाएं. थोड़ी-थोड़ी देर में ब्रेक लीजिए और आंखों को आराम दीजिए. डॉक्टर राहिल बताते हैं कि आप दिन में 3 से 4 बार ल्यूबरिकेशन ड्रोप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

World Sight Day 2020: आंखों को कमजोर होने से बचाने के लिए हर किसी को रोजाना करने चाहिए ये 4 काम!

woman on a laptopWorld Sight Day 2020: स्क्रीन का ज्यादा इस्तेमाल करने से आखों की समस्या हो सकती है

2. एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस

यह समस्या ज्यादा धूल-मिट्टीस पॉल्यूशन से आंखों में खुलजी होना, आंखों का लाल होना, आंखों का फ्रेश फील न करना. अगर आपको इस तरह की समस्या आ रही है, तो आप अपने डॉक्टर से मिलें, जो आपको एक एंटी एलर्जिक ड्रोप देंगे. साथ ही आपको ल्यूब्रिकेटिंग ड्रोप को भी इस्तेमाल करने की सलाह देंगे. इससे आप सहज महसूस करेंगे.

किडनी स्टोन के असहनीय दर्द से निजात पाने के लिए असरदार हैं ये 5 चीजें, डेली डाइट में करें शामिल!

3. रिफ्रैक्टिव एरर

आंखों की यह कॉमन समस्या आंखों में चश्मे का लगना है. यह नंबर माइनस का भी हो सकता है और प्लस का भी हो सकता है. अगर आपकी आंखों पर चश्मे का नंबर है तो आंखों में दर्द, सिर में दर्द, आंखों में थकावट, आंखों में भारीपन की समस्या हो सकती है. अगर आप इस तरह के लक्षणों को महसूस कर रहे हैं तो आपको घबराना नहीं है आजकल कई टेक्नालॉजी हैं जिनकी मदद से आप 18 साल के बाद चश्मा हटा सकते हैं. 

g3bmogso

4. डायबिटीक रेटिनोपैथी

यह सबसे कॉमन समस्याओं में से एक है जिसके कारण आंखों में अंधापन आ सकता है. अगर आपके शरीर में डायबिटीज की समस्या तो इसका प्रभाव आपकी आंखों पर भी पड़ सकता है. इससे आंखों के पर्दे में सूजन या खून आने की समस्या हो सकती है. 

World Sight Day 2020: आपकी रोजाना की ये 5 गलतियां आंखों को करती हैं खराब, हेल्दी आंखों के लिए करें ये काम!

5. सफेद मोतिया बिंद

डॉक्टर बताते हैं कि इससे घबराने की जरूरत नहीं है. इस समस्या का इलाज किया जा सकता है. इसकी सर्जरी में न तो किसी ब्लैड का इस्तेमाल किया जाता है और न ही अस्पताल में रहने की जरूरत है. इसका इलाज लेजर सर्जरी से किया जाता है. जो दर्द रहित होती है. इस सर्जरी में आंखों में लेंस डाला जाता है.

(डॉक्टर राहिल चौधरी, आई डॉक्टर कैट्रेक्ट और रिफ्रैक्टिव सर्जन, आई 7 ग्रुप ऑफ आई हॉस्पिटल)  

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Female Health Check-up: महिलाएं घर पर आसानी से कर सकती हैं ये 6 हेल्थ चेक-अप

पुरुषों को रोजाना क्यों करना चाहिए मुठ्ठीभर मखाने का सेवन? फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान!


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

स्वास्थ्य के लिए कमाल है शहद और गुड़! Diabetes में दोनों में से कौन है ज्यादा फायदेमंद? जानें हेल्दी शुगर का बेहतर विकल्प!

Medication Mistakes! क्या आप भी कर रहे हैं दवा लेते समय ये 5 गलत‍ियां

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------