होम »  Women's Health »  What Is PCOD, PCOS: क्या है पीसीओडी या पीसीओएस, प्रकार, लक्षण और कारण

What Is PCOD, PCOS: क्या है पीसीओडी या पीसीओएस, प्रकार, लक्षण और कारण

पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस (PCOS) महिलाओं को होने वाली आम बीमारी है. इसे पॉलिसिस्टिक ओवरी डिजीज यानी पीसीओडी (PCOD) भी कहा जाता है. महिलाओं को पीसीओएस प्रजनन हार्मोंस के असंतुलित होने से होती है. इससे मेटाबॉलिज्म खराब होने लगता है. हार्मोंस असंतुलित होने से पीरियड्स पर असर होता है.

What Is PCOD, PCOS: क्या है पीसीओडी या पीसीओएस, प्रकार, लक्षण और कारण

पीसीओएस को पॉलिसिस्टिक ओवरी डिजीज यानी पीसीओडी (PCOD) भी कहा जाता है.

What is PCOS: कई बार कुछ महिलाओं की लाख कोशिशों के बावजूद उनका वजन कम नहीं होता, बल्कि वह बढ़ता ही जाता है. इसके साथ ही कुछ और लक्षणों के बाद जब वह डॉक्टर को दिखाते हैं, तो उन्हें पता चलता है कि वे पीसीओडी या पीसीओएस से पीडित हैं. ऐसे में सबसे पहले यही सवाल उठता है कि आखिर यह पीसीओएस या पीसीओडी (PCOD) क्या है, पीसीओएस या पीसीओडी के लक्षण क्या हैं, पीसीओएस या पीसीओडी के लिए घरेलू नुस्खे, क्या पीसीओडी के रोगी गर्भधारण (PCOD and Pregnancy) कर सकते हैं या नहीं, तो आपको यह सारी जानकारी हम देंगे. 

Attention Girls! ये हैं वो 6 काम जो पीरियड्स में नहीं करने चाहिए...

8 वजहें, आखिर क्यों महिलाओं के लिए अच्छा है हस्तमैथुन


क्या होता है पीसीओएस या पीसीओडी | What is PCOS or PCOD

पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस (PCOS) महिलाओं को होने वाली आम बीमारी है. इसे पॉलिसिस्टिक ओवरी डिजीज यानी पीसीओडी (PCOD) भी कहा जाता है. महिलाओं को पीसीओएस प्रजनन हार्मोंस के असंतुलित होने से होती है. इससे मेटाबॉलिज्म खराब होने लगता है. हार्मोंस असंतुलित होने से पीरियड्स पर असर होता है. पीसीओएस होने पर अक्सर गर्भधारण में दिक्कत होती है. इसकी वजह है कि इस बीमारी में अंडाणु पूरी तरह विकसित नहीं हो पाते. 

Health Care Tips: महिलाओं के लिए सेहत के टिप्स

पीसीओएस के प्रकार | Types of PCOS

What are the stages of PCOS: अब सवाल यह उठता है कि पीसीओएस कितने प्रकार का होता है या इसमें कितने स्टेज होते हैं. तो चलिए जानते हैं- 

इंसुलिन प्रतिरोधक पीसीओएस : यह वह स्थिति है जब शरीर में इंसुलिन प्रभावित होता है. ऐसे में ब्लड शुगर असंतुलित होने लगता है और ओव्यूलेश की प्रक्रिया प्रभावित होती है.

रोग प्रतिरोधक से जुड़ा पीसीओएस : रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने पर शरीर में ऑटोएंटीबॉडिस बनने लगते हैं. इसके चलते भी पीसीओएस की समस्या हो सकती है.

टाइप-1, टाइप-2 व टाइप-3 पीसीओएस भी होता है.

Breast Cancer: ब्रेस्ट कैंसर कैसे होता है, जानें कारण, लक्षण और उपाय

3mk3v548

Polycystic Ovary Syndrome (PCOS): पीसीओएस के कारण को समझ कर इससे बचा जा सकता है.

पीसीओएस के कारण | Polycystic Ovary Syndrome (PCOS): Causes

- हार्मोंस असंतुलन पीसीओएस या पीसीओडी की मुख्य वजह होता है.

- लाइफस्टाइल पीसीओएस का एक बड़ा कारण है. बदलती जीवनशैली पौष्टिक तत्वों की कमी, कम शारीरिक व्यायाम, नशे की लत भी काफी हद तक इसकी वजह मानी जाती हैं. 

सेक्स लाइफ: औरतों के मुकाबले मर्दों में तीन गुना ज्यादा होती है यह चीज

- महिलाओं की ओवरी कुछ मात्रा में पुरुष हार्मोन, जिन्हें एंड्रोजन कहा जाता है, का भी उत्पादन होता है. जब शरीर में पुरुष हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है तो यह पीसीओएस का कारण बनाता है. 

- पीसीओएस के दौरान हाइपरएंड्रोजनिसम की स्थिति का सामना करना पड़ सकता है. इस स्थिति में ओव्यूलेशन प्रक्रिया के दौरान अंडाणु बाहर नहीं निकल पाते हैं.

- इंसुलिन को भी पीसीओएस का एक कारण माना जाता है. हमारे शरीर में मौजूद शुगर, स्टार्च, इंसुलिन हार्मोन कई जरूरी काम करते हैं. यह भोजन को एनर्जी में बदलते हैं. लेकिन इंसुलिन के असंतुलित होन की स्थिति में एंड्रोजन हार्मोन बढ़ जाता है, जो ओव्यूलेशन को प्रभावित करता है. जो पीसीओएस की वजह बन सकता है.

How To Avoid Pregnancy: अनचाहे गर्भधारण से बचने में मदद कर सकते हैं ये घरेलू नुस्‍खे

ipbabdnnmuq

PCOS Causes: जब शरीर में पुरुष हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है तो यह पीसीओएस का कारण बनाता है.

क्या हैं पीसीओएस के लक्षण, कैसे पहचानें पीसीओडी को | PCOS, PCOD: Symptoms

पीसीओएस के कई लक्षण हैं. इनमें से ज्यादातर लक्षण युवावस्था के तुरंत बाद शुरू होते हैं और वे देर से किशोरों और प्रारंभिक वयस्कता में भी विकसित हो सकते हैं. इन लक्षणों में - 

- वजन बढ़ना, 
- थकान, 
- अवांछित बाल उगना, 
- बाल पतले होना, 
- बांझपन, 
- मुंहासे, 
- पैल्विक पेन, 
- सिर दर्द, 
- नींद की समस्याएं और मूड स्विंग आदि शामिल हैं. 

ऑर्गेज्म तक न पहुंच पाने के ये हो सकते हैं कारण, आपको भी जरूर जानने चाहिए


और खबरों के लिए क्लिक करें.

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------