होम »  ख़बरें »  Pregnancy: प्रारंभिक गर्भावस्था में प्लेसेंटा का बढ़ना है जरूरी, शोधकर्ताओं ने की प्रक्रिया की पहचान

Pregnancy: प्रारंभिक गर्भावस्था में प्लेसेंटा का बढ़ना है जरूरी, शोधकर्ताओं ने की प्रक्रिया की पहचान

Pregnancy Complications: गर्भधारण की जटिलताओं जैसे गर्भपात (Miscarriages), प्रीक्लेम्पसिया और भ्रूण वृद्धि (Foetal Growth) में होने वाली रोक की संभावना को कम करने के लिए नाल के विकास की दर सामान्य होना जरूरी है.

Pregnancy: प्रारंभिक गर्भावस्था में प्लेसेंटा का बढ़ना है जरूरी, शोधकर्ताओं ने की प्रक्रिया की पहचान

Pregnancy Complications: गर्भधारण की जटिलताओं जैसे गर्भपात (Miscarriages), प्रीक्लेम्पसिया और भ्रूण वृद्धि (Foetal Growth) में होने वाली रोक की संभावना को कम करने के लिए नाल के विकास की दर सामान्य होना जरूरी है. हाल ही के एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने इस प्रक्रिया की खोज की है जो प्रारंभिक गर्भावस्था (Early Pregnancy) और कैंसर (Cancer) के बढ़ने और फैलने के दौरान प्लेसेंटल (Placenta) इम्प्लांटेशन में योगदान मददगार है. यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ फ्लोरिडा हेल्थ (USF Health) मोर्सानी कॉलेज ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में किए गए अध्ययन में पता चला कि एक बहुत बड़ा मानव गैर-प्रोटीन कोडिंग जीन उपकला-टू-मेसेनचाइमल संक्रमण (EMT) को कंट्रोल करता है जो कि गर्भावस्था में प्लेसेंटा को बढ़ाने के लिए जरूरी है. अध्ययन को साइंटिफिक रिपोर्ट्स जर्नल में प्रकाशित किया गया था.

क्‍यों होता है सेक्‍स के दौरान दर्द और इससे कैसे बचें

बेहतर और स्‍वस्‍थ यौन जीवन पाने के 5 हेल्‍दी तरीके, ड़र और संक्रमण को रखें दूर


यूएसएफ हेल्थ रिसर्चर्स ने क्रोमोसोम 19 माइक्रोआरएनए क्लस्टर (C19MC के रूप में जाना जाता है) को सक्रिय करने के लिए CRISPR ("CRISPR-dCas9 के लिए शॉर्टहैंड) नामक एक शक्तिशाली जीनोम एडिटिंग तकनीक का इस्तेमाल किया, ताकि वे प्रारंभिक गर्भावस्था में जीन के कार्य का अध्ययन कर सकें. C19MC - मानव जीनोम में सबसे बड़े माइक्रोआरएनए जीन समूहों में से एक है. उनके सेल मॉडल अध्ययन में, एक नेचर रिसर्च जर्नल, यूएसएफ हेल्थ टीम ने दिखाया कि C19MC को मजबूत करने से EMT बाधित हुआ.

सेहत का खजाना है खजूर, बीमारियों को रखता है दूर, Dates के ये 12 कमाल के फायदे कर देंगे आपको हैरान!

लेकिन जब कोशिकाओं से प्लेसेंटा उत्पन्न होता है (ट्रोफोब्लास्ट) तो उस समय हाइपोक्सिया के संपर्क में थे. शोधकर्ताओं ने पाया कि प्रारंभिक प्लेसेंटा (Early Placental) विकास में होने वाली ऑक्सीजन की कमी - C19MC में काफी कमी आई थी.  C19MC फ़ंक्शन के इस नुकसान ने फिर ट्राफोबलास्ट्स को स्टेम-जैसे उपकला कोशिकाओं से मेसेनकाइमल कोशिकाओं में अंतर करने के लिए मुक्त कर दिया, जो मेटास्टेटिक ट्यूमर की तरह फैल सकता था.

और खबरों के लिए क्लिक करें

क्या आपको वजन कम नहीं करना चाहिए! क्या होता है फैट लॉस और वेट लॉस में अंतर?

डायबिटीज का निदान क्या है? जानें ब्लड शुगर लेवल को कैसे मैनेज करें कि कंट्रोल हो जाए Daiabetes!

जायफल कई बीमारियों में है रामबाण, फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान! पाचन और यौन रोगों में भी फायदेमंद

क्या पीरियड के दौरान सेक्स सही है या ग़लत? डॉक्टर से जानें क्या करें और क्या नहीं

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

घरेलू नुस्खे

Diabetes: ये एक चीज कंट्रोल करेगी ब्लड शुगर लेवल, घरेलू नुस्खों में होती है इस्तेमाल, डायबिटीज में भी होगा बचाव

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com