होम »  ख़बरें »  ब्रिटेन में सख्त लॉकडाउन लागू, कोविड-19 के नए स्ट्रेन से निपटने की तैयारी

ब्रिटेन में सख्त लॉकडाउन लागू, कोविड-19 के नए स्ट्रेन से निपटने की तैयारी

महामारी की नयी लहर से निपटने के लिए सभी स्कूलों और व्यवसायों को बंद करने संबंधी स्कॉटलैंड का नया कानून मंगलवार से प्रभावी हुआ जबकि ब्रिटेन का कानून बुधवार सुबह से प्रभावी होगा.

ब्रिटेन में सख्त लॉकडाउन लागू, कोविड-19 के नए स्ट्रेन से निपटने की तैयारी

कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन (Coronavirus new strain) के तेजी से फैलते खतरे के बीच ब्रिटेन ने सख्त लॉकडाउन लागू किया है और मंगलवार को प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (UK PM Boris Johnson) ने कहा कि संक्रमण जितनी तेजी से फैल रहा है वह ‘‘बहुत दुखी करने वाला और चिंताजनक'' है और फिलहाल देश के अस्पतालों पर महामारी का सबसे ज्यादा दबाव है. महामारी की नयी लहर से निपटने के लिए सभी स्कूलों और व्यवसायों को बंद करने संबंधी स्कॉटलैंड का नया कानून मंगलवार से प्रभावी हुआ जबकि ब्रिटेन का कानून बुधवार सुबह से प्रभावी होगा. इसबीच, जॉनसन ने लोगों से अनुरोध किया है कि वे घर से काम करने के नियमों का कड़ाई से पालन करें.
नए कानून के फरवरी मध्य तक प्रभावी रहने की संभावना है. टीकाकरण और संक्रमण की दर के आधार पर इसकी समीक्षा की जाएगी. 

सोमवार की रात टीवी पर देश के नाम संबोधन में जॉनसन ने कहा, ‘‘हमारे वैज्ञानिकों ने पुष्टि की है कि नया स्ट्रेन (प्रकार) 50 से 70 प्रतिशत तक ज्यादा संक्रामक है... इसका अर्थ है कि आपके इससे संक्रमित होने और दूसरों को संक्रमित करने की आशंका बहुत-बहुत ज्यादा है.''

उन्होंने कहा, ‘‘हमें राष्ट्रव्यापी सख्त लॉकडाउन लागू करना होगा ताकि इस स्ट्रेन को नियंत्रित कर सकें. इसका अर्थ है कि सरकार एक बार फिर आपको घर के भीतर रहने का निर्देश दे रही है. आप कानूनी मंजूरी के तहत सिर्फ कुछ ही कारणों से जैसे जरुरी चीजों की खरीददारी के लिए, अगर आप बिल्कुल घर से काम नहीं कर पा रहे हों तो तो दफ्तर जाने के लिए, इलाज या जांच के लिए या फिर घरेलू हिंसा से बचने के लिए घर से बाहर निकल सकते हैं.''


वेल्स और नॉर्दन आयरलैंड के विकसित क्षेत्र पहले से ही दिसंबर के मध्य से सख्त लॉकडाउन के तहत हैं. ताजा आंकड़ों के अनुसार, सिर्फ इंग्लैंड में कोविड-19 के मरीजों में पिछले एक सप्ताह में करीब एक तिहाई वृद्धि हुई है और उनकी संख्या करीब 27,000 हो गई है. यह संख्या अप्रैल में महामारी जब चरम पर थी उसके मुकाबले 40 प्रतिशत ज्यादा है. 29 दिसंबर को ब्रिटेन में 80,000 हजार से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है. पिछले सप्ताह संक्रमण से मरने वालों की संख्या में भी 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

जॉनसन ने कहा कि तेजी से फैल रहे संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में ब्रिटेन एक निर्णायक मोड़ पर है. उन्होंने मार्च 2020 में लगाए लॉकडाउन की तरह ही संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की जिसमें स्कूल और कारोबार बंद रहेंगे. जॉनसन ने कहा, ‘‘आज हमारे अस्पताल कोविड-19 के कारण पहले के मुकाबले कहीं अधिक दबाव में हैं. यह साफ है कि वायरस के इस नए रूप को काबू में करने के लिए हमें मिलकर बहुत कुछ करने की जरूरत है. इंग्लैंड में हमें राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लगाना होगा जो इस वायरस से मुकाबला करने के लिहाज से बहुत सख्त हो. इसका मतलब यह है कि सरकार एक बार फिर आपको घर पर रहने का निर्देश दे रही है.''

जॉनसन ने कहा, ‘‘हम इतिहास का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम चला रहे हैं. ब्रिटेन में पूरे यूरोप के मुकाबले कहीं अधिक संख्या में लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है.'' उन्होंने कहा कि यदि सबकुछ उम्मीद के मुताबिक रहा तो फरवरी तक चार शीर्ष प्राथमिकता वाले समूह के सभी लोगों को हम टीके की पहली खुराक दे सकेंगे जिसके बाद कई पाबंदियों को हटाना संभव हो पाएगा.
उन्होंने संबोधन में लोगों से कहा कि बहुत जरूरी खरीदारी करने, नियमित व्यायाम करने या चिकित्सा कारणों से ही वे बाहर निकलें. जॉनसन ने कहा कि ब्रिटेन ‘‘संघर्ष के अंतिम चरण'' में प्रवेश कर रहा है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

सर्दियों में बेहद परेशान करती हैं स्किन की ये 6 समस्याएं, एक्सपर्ट से जानें इनसे छुटकारा पाने के आसान उपाय

स्किन पर चमक लाने के लिए कमाल हैं ये 5 फूड्स, डाइट में शामिल कर पाएं नेचुरल ग्लो!

कोविड-19 वैक्सीन लेने का क्या है पूरा प्रोसेस? स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिए वैक्सीनेशन जुड़े 27 सवालों के जवाब


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Benefits Of Egg: अंडे के बारे में आप नहीं जानते होंगे ये बातें, आज ही जान लें ये जरूरी फैक्ट्स!



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------