होम »  लिविंग हेल्दी »  क्या है Arthritis, क्यों और किसे होता है गठिया, जानें गठिया से बचाव के उपाय

क्या है Arthritis, क्यों और किसे होता है गठिया, जानें गठिया से बचाव के उपाय

किन-किन बातो का ध्यान रख कर गठिया से बच सकते है आर्थराइटिस से बचने के लिए आप पैर मौड़कर बैठने से बचें.

क्या है Arthritis, क्यों और किसे होता है गठिया, जानें गठिया से बचाव के उपाय

Arthritis: छोटी-छोटी आदतो पर गौर कर आप इस खतरनाक बीमारी से बच सकते है.

घुटने की आर्थराइटिस शारीरिक विकलांगता के प्रमुख कारण के रूप में उभर रही है और इसका आलथी-पालथी मारकर बैठने की भारतीय शैली है, जिस कारण घुटने ज्यादा घिसते हैं और घुटने बदलवाने की नौबत आ जाती है. नोएडा स्थित फोर्टिस हॉस्पीटल के आर्थोपेडिक एवं ज्वाइंट रिप्लेसमेंट विभाग के निदेशक डॉ. अतुल मिश्रा बताते हैं कि भारत में 15 करोड़ से अधिक लोग घुटने की समस्याओं से पीड़ित हैं, जिनमें से 4 करोड़ लोगों को घुटना बदलवाने (टोटल नी रिप्लेसमेंट) की जरूरत है. एक रिपोर्ट के अनुसार, हमारे देश में हर छह में से एक व्यक्ति आर्थराइटिस से पीड़ित है. आर्थर्राइटिस की समस्या पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक सामान्य है. आज देश में घुटने की आर्थराइटिस से पीडित लगभग 30 प्रतिशत रोगी 45 से 50 साल के हैं, जबकि 18 से 20 प्रतिशत रोगी 35 से 45 साल के हैं.

Health benefits of radish: मूली खाने के 8 फायदे, बीमारियां होंगी दूर, चेहरे पर आएगा ग्लो


Thyroid Remedies: ये 5 चीजें करेंगी थाइराइड को दूर, आज ही आजमाएं

टालना चाहती हैं पीरियड्स, तो अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्‍खे

इन 4 चीजों से पल में हवा होगी एसिडिटी, यहां हैं घरेलू नुस्खे...

Shatavari: क्या हैं सेक्स पावर बढ़ाने के लि‍ए मशहूर शतावरी के फायदे और नुकसान...

श्रद्धा कपूर को हुआ डेंगू, तो रुकी 'साइना' की शूटिंग | पढ़ें डेंगू से बचने के घरेलू उपाय

बैठने की शैली:
हमारे घुटने कमजोर होने का सबसे बड़ा कारण बैठने का तरीका है हमारे देश में लोग पूजा करने, खाना खाने, खाना बनाने, बैठने आदि के दौरान पालथी मारकर बैठते हैं. हम ज्यादातर अलथी-पलथी मारकर बैठते है जिसमे घुटने के जोड़ का अधिक प्रयोग होता है वैसे तो जब हम बहुत ज्यादा उठते और बैठते है तब भी घुटने के जोड़ का ही अधिक इस्तेमाल होता है दूसरा कारण घुटने में दर्द और गठिया का  हमारे जेनेटिक से  भी हो सकता है.

Thyroid Remedies: ये 5 चीजें करेंगी थाइराइड को दूर, आज ही आजमाएं

टालना चाहती हैं पीरियड्स, तो अपनाएं ये 5 घरेलू नुस्‍खे

 

गठिया (आर्थराइटिस) के शुरुआती लक्षण- Arthritis symptoms in Hindi


कैसे पता करें कि कहीं आप गठिया के शिकार तो नहीं बता रहे है डॉ. मिश्रा - 

- गठिया में दर्द
- सूजन, 
- जोड़ो में दर्द, 
- जोड़ो से आवाज आना आर्थराटिस के शुरुआती लक्षण हैं. 
- उसके बाद चलने फिरने में आपको कठिनाई होने लगती है और आप पूरी तरह से गठिया की चपेट में आ जाते हैं.

Kidney stones: खाने से जुड़े बदलाव करेंगे चिंता दूर..

गठिया (आर्थराइटिस) से बचने के तरीके - Arthritis Causes in Hindi
डॉ. मिश्रा बता रहे है कि किन-किन बातो का ध्यान रख कर गठिया से बच सकते है आर्थराइटिस से बचने के लिए आप पैर मौड़कर बैठने से बचें. आलथी-पालथी मारकर नहीं बैठें भारतीय शौचालयों का उपयोग कम करें तथा लम्बे समय तक खड़े होने से बचें. गठिया के शुरुआत में ही व्यायाम, साइकलिंग, स्वमिंग करें. साथ ही अपने खान-पान का भी खासा ध्यान दे. आपको हरी सब्जीया, फल और दूध-डेयरी के समान का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए तथा विटामिन डी की कमी न होने पाए इसके लिए आपको पर्याप्त धूप भी लेनी चाहिए.

जानें कैसे पाएं Premature Ejaculation से निजात...

गठिया (आर्थराइटिस) का इलाज -  Arthritis Treatments in Hindi
गठिया और जोड़ो में दर्द से आप निजात पा सकते है अगर आप शुरुआती दिनों में ध्यान दें ले तो, डॉ. मिश्रा ने कहा कि शुरुआती इलाज के लिए सुरक्षित एनाल्जेसिक जैसी दवाएं,इंट्रा-आर्टिकुलर इंजेशन और फिजियोथेरेपी का उपयोग करके बचा जा सकता है और जब आपका पूरी तरहसे चलना फिरना दूभर हो जाए उस वक्त सबसे सफल उपचार टोटल नी रिप्लेसमेंट है. यह 95 प्रतिशत सफल माना गया है.

इन 4 चीजों से पल में हवा होगी एसिडिटी, यहां हैं घरेलू नुस्खे...

गठिया (आर्थराइटिस) की चपेट में महिलायें अधिक- 
डॉ. मिश्रा के अनुसार 90 प्रतिशत भारतीय महिलाओं में विटामिन डी की कमी है जो सीधे घुटने को प्रभावित करती है. पुरुषों की तुलना में महिलाओं के घुटने जल्दी खराब हो जाते है महिलाओं में घुटने के दर्द की समस्याएं 50 साल की उम्र से ही शुरु हो जाती है जबकि पुरुषों में यह 60 साल के बाद ज्यादा मिलता है. महिलाओं में घुटने की समस्याओं का जल्द शुरु होने का कारण मोटापा, व्यायाम नहीं कर पाना, विटामिन डी की कमी और अच्छे पोषण का न लेना है.

Benefits of Cloves: लौंग के फायदे, ये 5 परेशानियां होंगी दूर

 
इन छोटी-छोटी आदतो पर गौर कर आप इस खतरनाक बीमारी से बच सकते है.

और खबरों के लिए क्लिक करें.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------