होम »  लिविंग हेल्दी »  प्रेगनेंट महिलाओं को कैसे कपड़े पहनने चाहिए, इस यूनिवर्सिटी में आया नया कोर्स, लड़के भी ले सकेंगे एडमिशन

प्रेगनेंट महिलाओं को कैसे कपड़े पहनने चाहिए, इस यूनिवर्सिटी में आया नया कोर्स, लड़के भी ले सकेंगे एडमिशन

प्रेगनेंसी (Pregnancy) होने पर कई सवाल दिमाग में होते हैं कि प्रेगनेंट महिलाओं की ड्रेस (Pregnant Women Dress) कैसी होती है, प्रेगनेंट महिलाओं को क्या खाना चाहिए, प्रेगनेंट महिलाओं के लिए एक्सरसाइज (Exercise For Pregnant Women) कौन सी बेहतर है? प्रेगनेंसी से जुड़ी हर बात की जानकारी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) नए अकैडमिक सेशन से 'गर्भ संस्कार' (Garbh Sanskar) पर एक प्रमाण पत्र और डिप्लोमा कोर्स शुरू करने जा रहा है.

प्रेगनेंट महिलाओं को कैसे कपड़े पहनने चाहिए, इस यूनिवर्सिटी में आया नया कोर्स, लड़के भी ले सकेंगे एडमिशन

प्रेगनेंसी (Pregnancy) होने पर कई सवाल दिमाग में होते हैं, यहां जानें प्रेगनेंसी टिप्स.

खास बातें

  1. इस कोर्स को शुरू करने वाली देश की पहली यूनिवर्सिटी होगी लखनऊ.
  2. नए अकैडमिक सेशन से शुरू होगा 'गर्भ संस्कार' कोर्स.
  3. गर्भवती महिला को क्या पहनना चाहिए यह भी कोर्स में शामिल.

प्रेगनेंसी (Pregnancy) होने पर कई सवाल दिमाग में होते हैं कि प्रेगनेंट महिलाओं की ड्रेस (Pregnant Women Dress) कैसी होती है, प्रेगनेंट महिलाओं को क्या खाना चाहिए, प्रेगनेंट महिलाओं के लिए एक्सरसाइज (Exercise For Pregnant Women) कौन सी बेहतर है? प्रेगनेंसी से जुड़ी हर बात की जानकारी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) नए अकैडमिक सेशन से 'गर्भ संस्कार' (Garbh Sanskar) पर एक प्रमाण पत्र और डिप्लोमा कोर्स शुरू करने जा रहा है. ऐसा करने वाली यह देश की पहली ऐसी यूनिवर्सिटी होगी. नए पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को मातृत्व के बारे में पढ़ाया जाएगा जिसमें एक गर्भवती (Pregnant) महिला को क्या पहनना चाहिए, क्या खाना चाहिए, उसके साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए, खुद को कैसे फिट रखना चाहिए और उसके लिए किस तरह का संगीत अच्छा है. कहा गया है कि यह कोर्स रोजगार पैदा करने करने के लिए भी असरदार होगा. यूनिवर्सिटी के अनुसार, पुरुष छात्र भी इस कोर्स में दाखिला ले सकते हैं. यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता दुर्गेश श्रीवास्तव कहते हैं, 'उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel), जो राज्य के विश्वविद्यालयों की कुलपति भी हैं, के प्रस्ताव के बाद यह फैसला लिया गया है. उन्होंने प्रशासन के सामने लड़कियों को माताओं के रूप में उनकी संभावित भूमिका के बारे में बताने या प्रशिक्षित करने का प्रस्ताव दिया था.'

ये चार चीजें पेट की गैस का तुरंत इलाज और कब्ज के घरेलू उपचार के लिए हैं कमाल! जानें Acidity में क्या खाना चाहिए?

क्‍या डायबिटीज के मरीज खा सकते हैं केला? जानें Blood Sugar Levels पर क्‍या होता है केले का असर...


पिछले साल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह के दौरान आनंदीबेन पटेल ने महाभारत के योद्धा अभिमन्यु का उदाहरण देते हुए कहा था कि उन्होंने अभिमन्यु ने अपनी मां के गर्भ में रहकर ही युद्ध कला सीख ली थी. उन्होंने यह भी दावा किया था कि जर्मनी में एक संस्थान इस तरह का कोर्स करवाता है. दुर्गेश श्रीवास्तव ने कहा, 'इस कार्यक्रम के लिए एक गाइडलाइन तैयार की गई है, जिसमें स्टूडेंट्स 16 मूल्यों के बारे में जानेंगे. ये कार्यक्रम मुख्य रूप से गर्भवती महिलाओं द्वारा लिए जाने वाले परिवार नियोजन और पोषण मूल्यों पर आधारित है. इस नए पाठ्यक्रम के तहत विभिन्न कार्यशालाओं का आयोजन भी किया जाएगा.

बदन दर्द को हल्के में लेना पड़ सकता है भारी, इन नेचुरल तरीकों से पाएं राहत, जानें शरीर में दर्द के कारण!

mhv7bve8Pregnancy: प्रेगनेंसी में अच्छी नींद के साथ पोष्टिक भोजन करना भी जरूरी!

अगर कर रहे हैं फैमिली प्लानिंग, तो ये खाने से होगा फायदा...

लखनऊ यूनिवर्सिटी के छात्रों और स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर्स ने इस नए कोर्स को सही बताया है. यूनिवर्सिटी के छात्र संजीव कहते हैं, 'पाठ्यक्रम वास्तव में अच्छा है और हम इसका स्वागत करते हैं. ये एक संवेदनशील मुद्दा है. अगर स्टूडेंट्स को मातृत्व के बारे में प्रशिक्षित किया जाएगा, तो वो किसी दंपति को एक स्वस्थ बच्चा पैदा करने में मदद करेंगे. इसका मतलब हमारे देश के लिए एक स्वस्थ भविष्य से भी है.'

मीठा खाने से नहीं बढ़ता है Blood Sugar Level! तो क्यों होती है डायबिटीज, क्या हैं इसके कारण

वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. मधु गुप्ता ने कहा कि पाठ्यक्रम महिलाओं और बाल कल्याण कार्यक्रम का समर्थन भी करेगा. वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मधु गुप्ता ने कहा, 'हमारे देश की संस्कृति काफी समृद्ध है. पूर्व-गर्भाधान और गर्भाधान दोनों के दौरान, एक महिला की भावना और उसकी सोच उसके बच्चे में दिखाई देती है. 

गर्भवती महिलाएं अपनाएं ये टिप्स

- कम से कम दस घंटे की नींद लें.
- हल्‍की-फुल्‍की कसरत जरूर करें.
- पोषक तत्वों से भरपूर भोजन लें. 
- काम के बीच में स्‍नैक्‍स और पेय पदार्थ लें.
- फोलिक एसिड की पर्याप्त मात्रा लेना बहुत जरूरी है. 
- हरी पत्त‍ियों में पाया जाने वाला फोलिक एसिड बच्चे के जन्म से जुड़ी कई परेशानियां दूर करने का काम कर सकता है.
- जितना ज्यादा हो सके प्रोटीन खाएं. प्रोटीन बच्चे के विकास में जरूरी हो सकता है.
- गर्भावस्था के दौरान जंक फूड खाने से परहेज करना ही बेहतर होगा.

और खबरों के लिए क्लिक करें 

इन 4 लोगों को नहीं खाने चाहिए बादाम, जानें बादाम के फायदे-नुकसान और एक दिन में कितने बादाम खाने चाहिए

आसानी से वजन कम करने के लिए रात को सोने से पहले करें ये काम, तेजी से घटेगा Body Fat और पेट की चर्बी! 

शानदार हैं ये तेजी से वजन बढ़ाने के उपाय, अपनाएंगे 5 टिप्स तो मिलेगी हेल्दी बॉडी और कमाल की पर्सनालिटी!

क्या डायबिटीज के मरीज पी सकते हैं कॉफी, Blood Sugar Level पर क्‍या होता है कैफीन का असर

त्‍वचा की देखभाल कैसे करता है सेब का सिरका? जानें Skin Care Routine में कैसे शामिल करें घरेलू नुस्‍खे से तैयार टोनर


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्रेगनेंसी में बढ़ सकता है ब्लड शुगर लेवल, जानें गर्भावस्था में डायबिटीज होने का कारण और बचाव के उपाय!



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------