होम »  गर्भावस्था »  अगर कर रहे हैं फैमिली प्लानिंग, तो ये खाने से होगा फायदा...

अगर कर रहे हैं फैमिली प्लानिंग, तो ये खाने से होगा फायदा...

कम मात्रा में फल खाने वाली महिलाओं में इसका खतरा आठ प्रतिशत से 12 फीसदी तक बढ़ सकता है और फास्टफूड खाने वाली महिलाओं में यह आठ प्रतिशत से 16 प्रतिशत तक बढ़ सकता है.

अगर कर रहे हैं फैमिली प्लानिंग, तो ये खाने से होगा फायदा...

अगर आप इस बात को लेकर चिंता में हैं कि आप खुद, आपकी कोई सहेली या रिश्तेदार लंबे समय से कोशिश करने के बावजूद गर्भवती नहीं हो पा रही हैं. तो हो सकता है कि उन्हें अपनी डाइट पर नजर ड़ालने की जरूरत हो. ऑस्ट्रेलिया में हुए एक नये अध्ययन में पता चला है कि कम मात्रा में फल और फास्ट फूड अधिक खाने वाली महिलाओं में एक साल के अंदर गर्भधारण की संभावना काफी कम रहती है. 
 
 
fruits

Photo Credit: iStock


अनुसंधानकर्ताओं ने पहली बार मां बनीं ऐसी 5,598 महिलाओं के खान - पान के बारे में पूछा, जिसमें यह पता चला कि वैसी महिलाएं जिन्होंने गर्भधारण से पहले महीने में हर दिन अमूमन तीन या उससे ज्यादा बार फल खाया, उनकी तुलना में महीने में हर दिन एक से तीन बार से भी कम समय फल खाने वाली महिलाओं को गर्भधारण करने में तकरीबन आधा महीना ज्यादा समय लगा.

इसी तरह से जो महिलाएं फास्ट फूड कभी कभार या कभी नहीं खातीं, उनकी तुलना में एक सप्ताह में चार या उससे अधिक बार फास्ट फूड खाने वाली महिलाओं को गर्भधारण में एक महीना अधिक समय लगा. 
 
fast food


अनुसंधानकर्ताओं ने जब बांझपन को लेकर खान - पान के प्रभाव पर गौर किया तब उन्होंने पाया कि कम मात्रा में फल खाने वाली महिलाओं में इसका खतरा आठ प्रतिशत से 12 फीसदी तक बढ़ सकता है और फास्टफूड खाने वाली महिलाओं में यह आठ प्रतिशत से 16 प्रतिशत तक बढ़ सकता है.

ऑस्ट्रेलिया में यूनीवर्सिटी ऑफ एडीलेड में हुए अध्ययन का नेतृत्व क्लेयर रॉबर्ट्स ने किया. यह अध्ययन ‘ ह्यूमन रिप्रोडक्शन ’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ. यूनीवर्सिटी ऑफ एडीलेड में पोस्ट डॉक्टरेट कर रहीं रिसर्च फेलो जेसिका ग्रीगर ने कहा कि हम महिलाओं से यही कहते हैं कि अगर वे गर्भधारण करना चाहती हैं तो उन्हें अपने भोजन में गुणकारी स्वस्थ चीजों को शामिल करना होगा. हमारे आंकड़ों से यह पता चलता है कि फास्ट फूड लगातार खाने से गर्भधारण में देरी होती है. 

इनपुट भाषा
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------