होम »  यौन स्वास्थ्य »  जानिए क्‍या करें जब लिंग का अग्रभाग हो संवेदनशील

जानिए क्‍या करें जब लिंग का अग्रभाग हो संवेदनशील

लिंग के अग्रभाग का संवेदनशील होना कई जोड़ों के संतोषजनक यौन जीवन को प्रभावित करता है. डॉ. आशीष मित्तल कहते हैं कि यह पुरुषों के इरेक्‍शन में कमी कर सकता है और यहां तक कि स्तंभन दोष का भी कारण बन सकता है.

जानिए क्‍या करें जब लिंग का अग्रभाग हो संवेदनशील

लिंग के अग्रभाग का संवेदनशील होना कई जोड़ों के संतोषजनक यौन जीवन को प्रभावित करता है. डॉ. आशीष मित्तल कहते हैं कि यह पुरुषों के इरेक्‍शन में कमी कर सकता है और यहां तक कि स्तंभन दोष का भी कारण बन सकता है. यह बैलेनाइटिस के रूप में भी जाना जाता है, जो एक संक्रमण है जिसमें व्यक्ति शरीर के हिस्‍सों में संवेदनशीलता महसूस करता है, जिसमें लिंग का शुरुआती हिस्‍सा शामिल है. इस हालत को नियमित देखभाल और कुछ दवाओं के साथ ठीक किया जा सकता है. खतना करवाने वाले व्यक्ति को बैलेनाइटिस से प्रभावित होने की संभावना नहीं होती. 

ऑर्गेज्म तक न पहुंच पाने के ये हो सकते हैं कारण, आपको भी जरूर जानने चाहिए

लिंग के सिरे के संवेदनशील होने पर रेडनेस, दर्द, सूजन, खुजली और डिस्चार्ज जैसी समस्‍याएं होती हैं. अपने लिंग को नियमित रूप से साफ रखें, क्योंकि स्किन की सिलवटों में डिस्‍चार्ज, ऑयल और कोशिकाएं फंस सकती हैं. यदि स्थिति खराब हो जाती है, तो आपको पेशाब करते समय दर्द महसूस होने लगता है.


8 वजहें, आखिर क्यों महिलाओं के लिए अच्छा है हस्तमैथुन, जानें लाइफस्टाइल कोच लुक कुटिनो से

डॉ. आशीष मित्तल कहते हैं, लिंग के संवेदनशील सिरे से स्तंभन दोष होने की संभावना होती है. लिंग के सिरे में दर्द के कारण पुरुषों में इरेक्शन खत्‍म होने लगता हैं.

एक लिंग के संवेदनशील सिरे के कारणों के बारे में बात करते हुए डॉ. आशीष ने कहा कि इसके लिए आनुवंशिकी को दोषी ठहराया जा सकता है. इंफेक्‍शन भी इसका कारण हो सकता है.

ierr1rmo

Photo Credit: iStock

लिंग के सिरे के संवेदनशील होने का उपचार इस बात पर निर्भर करता है कि यह किस कारण से हुआ है. नियमित रूप से साबुन और साफ पानी से लिंग के अग्रभाग को धोने से संवेदनशीलता को कम किया जा सकता है. संवेदनशील लिंग के सिरे के अधिक गंभीर मामलों को चिकित्सकीय मदद से निपटाया जाना चाहिए.

अनचाहे गर्भधारण से बचने में मदद कर सकते हैं ये घरेलू नुस्‍खे

डॉ. मित्तल कहते हैं, फिमोसिस के मामले में, जहां लिंग की उपरी स्किन को वापस नहीं लिया जा सकता है, सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है. यह स्थिति 3-4% पुरुषों को प्रभावित करती है और आम है.

लिंग के सिरे के संवेदनशील होने के अन्‍य कारण

लिंग को साफ न रखने से इंफेक्‍शन का खतरा बढ़ सकता है. हर बार जब आप टॉयलेट जाएं, तो अपने लिंग को साफ करें. साथ ही, डायबिटीज को कंट्रोल करने में असमर्थ होना आपके लिंग के सिरे को संवेदनशील बना सकता है. टाइप-2 मधुमेह के लिए निर्धारित दवाओं के साइड इफेक्‍ट होने से भी आपके लिंग का सिरा संवेदनशील हो सकता है. गठिया के कारण भी लिंग का सिरा संवेदनशील हो सकता है, जो जोड़ों और आंखों को प्रभावित करता है. अधिक वजन वाले लोग और हृदय, किडनी रोग या लीवर की बीमारी से पीड़ित लोगों में लिंग के सिरे के संवेदनशील होने का खतरा अधिक होता है.

(डॉ. आशीष कुमार मित्तल कोलंबिया एशिया अस्पताल और कॉन्फिडेंस क्लीनिक, गुड़गांव में एक सलाहकार मनोचिकित्सक हैं)

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------