होम »  ख़बरें »  सावधान! एसिडिटी की दवा एंटासिड रेनिटिडिन से हो सकता है कैंसर!

सावधान! एसिडिटी की दवा एंटासिड रेनिटिडिन से हो सकता है कैंसर!

ड्रग कंट्रोलर के निर्देशों के तहत डॉक्टरों को यह सलाह जारी की गई है कि वे इस दवाई को मरीजों को लेने की सलाह न दें.

सावधान! एसिडिटी की दवा एंटासिड रेनिटिडिन से हो सकता है कैंसर!

ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया  ने रेनिटिडिन (Ranitidine) पर सार्वजनिक स्वास्थ्य चेतावनी जारी की है और कहा है कि इसमें ऐसे रसायन पाए जाते हैं, जिससे कैंसर (Cancer Causes) हो सकता है. रेनिटिडिन एक सस्ते दाम में मिलने वाली बहुत पुरानी दवा है, जिसका इस्तेमाल पेट की एसिडिटी (Acidity) को कम करने के लिए किया जाता है. कई अन्य देशों के ड्रग रेगुलेटर ने भी इसमें हानिकारक रसायन पाएं और इसे अपने यहां प्रतिबंधित (Ranitidine Ban) किया है. स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय के अधीन ड्रग्स कंट्रोलर, वी. जी. सोमानी ने सभी राज्यों को निर्देश जारी कर रेनिटिडिन को लेकर चेतावनी जारी की है और कहा कि वे मरीजों की सुरक्षा के लिए सभी ड्रग निर्माताओं से कदम उठाने के कहें.

Cholesterol Foods: 6 सुपरफूड्स जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को करते हैं कम, रोजाना करें सेवन

इस चीज को चबाने से दूर होगी एसिडिटी या गैस, जानिए क्या है ये...


रेनिटिडिन दवा का उपयोग देश में कई लक्षणों के इलाज में किया जाता है और यह अलग-अलग फोर्मूलेशन में टैबलेट और इंजेक्शन के रूप में उपलब्ध है. यह सेड्युल एच के तहत प्रेसक्रिप्शन ड्रग है, यानी इसे दवाई की दुकान से खरीदने के लिए डाक्टर की पर्ची की जरुरत होती है.

Chirata Benefits: क्या होता है चिरायता, इसके फायदे और नुकसान

इन 4 चीजों से पल में हवा होगी एसिडिटी, यहां हैं घरेलू नुस्खे...

इस दवाई में कैंसर के कारकों का पता सबसे पहले अमेरिका की एफडीए ने लगाया था और इस संबंध में अलर्ट जारी किया था. भारत में इस दवाई का उत्पादन करने वाली कंपनियों को तुरंत प्रभाव से इस दवा का उत्पादन रोकने के लिए कहा गया है. ड्रग कंट्रोलर  के निर्देशों के तहत डॉक्टरों को यह सलाह जारी की गई है कि वे इस दवाई को मरीजों को लेने की सलाह न दें.

Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये हैं वो 5 सुपरफूड जो करेंगे एसिडिटी को दूर

आज़मा कर देखें: एसिडिटी को पल में दूर कर देंगे ये टॉप 5 उपाय...

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------