होम »  ख़बरें »  Home Remedies: दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा, कैसे बचाएं खुद को, पढ़ें नुस्खे

Home Remedies: दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा, कैसे बचाएं खुद को, पढ़ें नुस्खे

चलिए एक नजर देखते हैं कि प्रदूषण (air quality index India) के बीच रहते हुए भी कैसे आप खुद को इसके प्रभावों से बचा कर रख सकते हैं. 

Home Remedies: दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा, कैसे बचाएं खुद को, पढ़ें नुस्खे

Remedies for Fighting Air Pollution: राष्ट्रीय राजधानी (Air quality in Delhi) में बढ़ते प्रदूषण ने दिल्ली के लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है. दिल्ली का आधा से अधिक हिस्सा अत्यंत खराब वायु गुणवत्ता से जूझ रहा है, सबसे अधिक खराब वायु गुणवत्ता की मार दिल्ली एनसीआर में  है. दुनियाभर में 18 साल से कम उम्र के 93 फीसदी बच्चे प्रदूषित हवा में सांस लेने को मजबूर हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) की वायु प्रदूषण और बच्चों के स्वास्थ्य पर जारी एक नई रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है. 'वायु प्रदूषण और बाल स्वास्थ्य, स्वच्छ वायु निर्धारित करना' नाम से जारी इस रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि वर्ष 2016 में, वायु प्रदूषण से होने वाले श्वसन संबंधी बीमारियों की वजह से दुनियाभर में पांच साल से कम उम्र के 5.4 लाख बच्चों की मौत हुई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, पांच साल से कम उम्र के 10 बच्चों की मौत में से एक बच्चे की मौत प्रदूषित हवा की वजह से हो रही है.

Pollution in Delhi: भारत में दिल्ली-एनसीआर, सोनभद्र-सिंगरौली, कोरबा और ओडिशा का तेलचर क्षेत्र इन 50 शहरों की सूची में शामिल है. यह तथ्य साफ-साफ बता रहे हैं कि ऊर्जा और परिवहन क्षेत्र में जीवाश्म ईंधन जलने का वायु प्रदूषण से सीधा-सीधा संबंध है. तो चलिए एक नजर देखते हैं कि प्रदूषण (air quality index India) के बीच रहते हुए भी कैसे आप खुद को इसके प्रभावों से बचा कर रख सकते हैं. 


 

अश्वगंधा के 5 जबरदस्त फायदे, लेकिन ध्यान रहे देती नुकसान भी...

Remedies for Stamina: यौन शक्ति को बढ़ाने के 6 असरदार घरेलू नुस्खे


प्रदूषण से होने वाली बीमारियां - Air pollution cause health problems in Hindi

प्रदूषण का आपके शरीर पर काफी प्रभाव हो सकता है. यह आपके अंदरूनी अंगों को तो प्रभावित करता ही है साथ ही साथ प्रदूषण शरीर के बाह्य यानी बाहरी अंगों पर भी प्रभाव डालता है. जी हां, प्रदूषण के चलते सांस लेने में तकलीफ, आंखों में जलन, खांसी, साइनस, टीबी और गले में में इन्फेक्शन, अस्थमा, फेफड़ों से जुड़े रोग भी प्रदूषण की देन हो सकते हैं.

 

सिर्फ एक ट्रिक और झड़ते बालों की परेशानी दूर, जानिए कैसे

सेहत को कई चमत्कारी फायदे देता है तांबे के बरतन में पानी पीना

प्रदूषण के प्रभाव को कम करने के घरेलू नुस्खे - Remedies for Fighting Air Pollution


हालांकि आप वायु प्रदूषण या एयर पॉल्यूशन से खुद को सौ फीसदी तो नहीं बचा सकते, लेकिन फिर भी अपने बचाव के लिए कुछ कदम उठा सकते हैं, जैसे- 

- जब भी घर से बाहर जाएं तो मुंह पर मास्क लगाकर जाएं.

- कोशिश करें कि घर में ही रहें. बाहर निकला ही हो तो उस समय निकलें जब पर्यावरण में प्रदूषण (Delhi pollution level today live) का स्तर कम हो.

- अगर आप मुंह पर मास्क लगा कर बाहर निकल रहे हैं, तो उसे बार-बाद छूएं नहीं.

- यह जरूरी नहीं कि प्रदूषण सिर्फ शरीर के अंदरूनी हिस्सों पर असर करता है. यह आपके बाहरी हिस्सों जैसे त्वचा और आंखों को भी प्रभावित कर सकता है. तो जब भी घर से बाहर निकलें आंखों पर चश्मा जरूर लगा लें.

- आपको याद होगा पहले हमारे बड़े रोज सुबह शाम घर के बाहर सड़क पर पानी डाला करते थे. बस आपको भी यही करना है. घर के बाहर सड़क को गीला करें. ऐसा करने से धूल के दूषित कण हवा में नहीं उड़ेंगे.

- बाहर के साथ साथ घर की हवा भी प्रदूषित होती है, तो घर में नियमित डस्टिंग करते रहें.

- इस बात का भी पूरा ध्यान रखें कि आप जिस मास्क को एक बार इस्तेमाल कर चुके हैं उसे दोबारा इस्तेमाल न करें. हां, अगर आपका मास्क रीयूजेबल है तो बात अलग है.

- सुबह की वॉक के लिए मुंह पर मास्क लगा कर ही जाएं जरूरी न हो तो जब तक वायु की गुणवत्ता सही नहीं हो जाती तब तक आप घर पर योगा व एक्सरसाइज करके अपने आप को फिट रख सकते हैं.

Grow Your Height Naturally: हाइट बढ़ाने के 5 घरेलू नुस्खे, जो बढ़ाएं लंबाई


अश्वगंधा के 5 जबरदस्त फायदे, लेकिन ध्यान रहे देती नुकसान भी...

 

प्रदूषण के असर को कम करने के लिए कैसी हो डाइट - Foods to Reduce Harmful Effects of Air Pollution

प्रदूषण के प्रभाव से खुद को बचाने के लिए सही खान-पान अपनाएं, इंसान का शरीर अपने खाने से एनर्जी लेता है. यह तो साफ है कि आप क्या खाते हैं यह आपकी सेहत को प्रभावित करता है. चलिए फिर देखते हैं कि किस तरह की डाइट से आप प्रदूषित शहर की आबोहवा में बचे रह सकते हैं. 

- तुलसी कई तरह के रोगों में काम आएगी. प्रदूषण से बचने के लिए रोज तुलसी के पत्तों का पानी पीएं.

- रोज गर्म दूध जरूर पीएं. ऐसा करने से फेफड़ों को धूल के कणों से बचाया जा सकता है.

- फेफड़ों में जमी कफ और गंदगी बाहर निकालने के लिए शहद में काली मिर्च मिलाकर खाएं.

- प्रदूषण बढ़ने पर या सामान्य तौर पर भी अपने खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ जरूर खाएं. गुड़ खून साफ करता है. यह प्रदूषण के प्रभाव को कम करेगा.

- अदरक का यह नुस्खा आपके खूब काम आएगा. इसके लिए अदरक का रस और सरसों का तेल नाक में डालना होगा. यह बूंद-बूंद कर डालें. 

- ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें.

इनपुट आईएएनएस

और घरेलू नुस्खों के लिए क्लिक करें.

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------