होम »  लिविंग हेल्दी »  खराब डाइजेशन में सुधार लाने के लिए रामबाण हैं ये 6 घरेलू नुस्‍खे

खराब डाइजेशन में सुधार लाने के लिए रामबाण हैं ये 6 घरेलू नुस्‍खे

क्या आप खाना खाने के बाद असहज महसूस करते हैं? इसका कारण बदहजमी हो सकता है. पाचन संबंधी समस्याएं आम हो सकती हैं, लेकिन वे सामान्य नहीं हैं.

खराब डाइजेशन में सुधार लाने के लिए रामबाण हैं ये 6 घरेलू नुस्‍खे

क्या आप खाना खाने के बाद असहज महसूस करते हैं? इसका कारण बदहजमी हो सकता है. पाचन संबंधी समस्याएं आम हो सकती हैं, लेकिन वे सामान्य नहीं हैं. हम आमतौर पर पाचन विकारों के बारे में बात करने से बचते हैं और इससे जुड़ी समस्याओं के लिए शायद ही कोई मदद लेते हैं. लेकिन इन्‍हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. सबसे आम समस्याएं जो पाचन तंत्र से जुड़ी होती हैं, वे हैं दस्त, कब्ज, इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (IBS), सूजन आंत्र रोग (IBD), पेट में ऐंठन, गैस. खराब डाइजेशन सिस्‍टम के मुख्य कारण खाने की गलत आदतें, कोई शारीरिक गतिविधि न होना, खाने से एलर्जी, दवा या इंफेक्‍शन हो सकता है. हालांकि, कुछ घरेलू उपचार आपके पाचन को स्वाभाविक रूप से बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं.

l94d2e3g

Photo Credit: iStock


डाइजेशन सिस्‍टम को बेहतर बनाने के ये हैं 6 तरीके:

1. खाने को सही तरीके से चबाएं:
अच्छे पाचन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा आपके भोजन को चबाना होता है. जब आप अपने भोजन को अच्छी तरह से चबाते हैं, तो यह आपके पाचन तंत्र के काम को आसान बनाता है, इसलिए आपका शरीर अन्य कार्यों पर ध्यान केंद्रित कर पाता है. खाने के लिए र्प्‍याप्‍त समय निकालें. अपने भोजन को ठीक से और धीरे-धीरे चबाएं. भोजन खत्म करने की जल्दी में न रहें क्योंकि इससे बदहजमी हो सकती है.

हेल्‍दी डाइजेस्टिव सिस्‍टम के लिए कारगर हैं ये 5 जड़ी-बूटियां

2. फाइबर युक्‍त डाइट:
फाइबर पाचन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. दोनों ही प्रकार के फाइबर, घुलनशील और अघुलनशील फाइबर को उपयोग में लाना बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि ये  दोनों आपके पाचन तंत्र को विभिन्न तरीकों से मदद करते हैं. फाइबर के हेल्‍दी स्रोतों में फल, सब्जियां, गेहूं का चोकर, साबुत अनाज, जई का चोकर, बीज और फलियां शामिल हैं. प्रोसेस्ड या जंक फूड खाने से बचें.

3. हाइड्रेटेड रहें:
भरपूर पानी पीना आपके डाइजेशन सिस्‍टम के लिए बेहद अच्छा है. पूरे दिन अपने आप को हाइड्रेटेड रखें. फ्रेश फ्रूट जूस, नींबू पानी और नारियल के पानी को अपनी डाइट में शामिल करें. 

फाइबर के हैं कई फायदे, वजन करता है कम, पेट की समस्याओं में देता है आराम

4. रेगुलर फिजिकल एक्टिविटी अपनाएं:
आपकी बॉडी के लिए फिजिकल एक्टिविटी बेहद जरूरी है. आप सैर, जोगिंग, स्‍वीमिंग, योग या साइकिलिंग कर सकते हैं. रेगुलर फिजिकल एक्टिविटी आपके डाइजेशन सिस्‍टम को फिट रखती है, जिससे पाचन संबंधी समस्याओं की संभावना कम हो जाती है.

6u0sovd

Photo Credit: iStock

5. हेल्‍दी फैट:
फैट आपके डाइजेशन सिस्‍टम को सहजता से चलाने में फायदेमंद होता है. अपनी डाइट में पनीर, जैतून का तेल, अंडे, नट्स, एवोकाडो और फैटी फिश जैसे हेल्‍दी फैट शामिल करें. इसके अलावा ओमेगा-3 फैटी एसिड सूजन को भी कम करता है, जो आगे चलकर इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज जैसे रोगों को रोक सकता है. इसलिए, अपनी डाइट में सैल्मन, टूना, चिया बीज, सन बीज और कद्दू के बीज शामिल करें.

केसर के इन फायदों को जानकर हैरान हो जाएंगे आप

6. स्‍ट्रेस से बचें:
आमतौर पर, तनाव आपकी हेल्‍थ पर नेगेटिव असर डाल सकता है. तनाव पेट के अल्सर, दस्त, कब्ज और आईबीएस जैसे कई पाचन विकारों से जुड़ा हुआ है. हालांकि स्‍ट्रेस होना नॉर्मल है, लेकिन कुछ ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज, मेडिटेशन और योग आपको तनाव से बचा सकते हैं.

8n6hreu8

Photo Credit: iStock

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------