होम »  लिविंग हेल्दी & nbsp;»  Thyroid Hormone को मैनेज करने और थायरॉइड ग्रंथि की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए कमाल हैं ये 4 फल

Thyroid Hormone को मैनेज करने और थायरॉइड ग्रंथि की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए कमाल हैं ये 4 फल

Fruits For Thyroid: ग्रंथि द्वारा उत्पादित हार्मोन की मात्रा में कोई भी असंतुलन थकान, बालों के झड़ने, वजन बढ़ने, ठंड लगने और कई अन्य लक्षण पैदा कर सकता है. यहां 4 फल हैं जो आपकी डाइट का हिस्सा होने चाहिए.

Thyroid Hormone को मैनेज करने और थायरॉइड ग्रंथि की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए कमाल हैं ये 4 फल

Fruits For Thyroid Patient: यहां 4 फल हैं जो आपकी डाइट का हिस्सा होने चाहिए.

खास बातें

  1. एक बैलेंस डाइट थायराइड की समस्या से राहत दिला सकती है.
  2. थायराइड रोग के लक्षणों को मैनेज करने में डाइट एक अहम भूमिका निभाती है.
  3. यहां 4 फल हैं जो आपकी डाइट का हिस्सा होने चाहिए.

Fruits For Thyroid Patient: आज के समय की गतिहीन जीवन शैली और खराब खान-पान ने कई स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं को जन्म दिया है. सबसे आम में से एक थायराइड विकार है. थायराइड एक छोटी तितली के आकार की ग्रंथि होती है जो गर्दन के निचले हिस्से के बीच में मौजूद होती है. भले ही यह एक छोटा अंग है, लेकिन हमारे शरीर में इसकी कई महत्वपूर्ण भूमिकाएं होती हैं. यह ग्रंथि थायराइड हार्मोन का उत्पादन करती है जो विकास, कोशिका की मरम्मत और मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करने में मदद करती है. ग्रंथि द्वारा उत्पादित हार्मोन की मात्रा में कोई भी असंतुलन थकान, बालों के झड़ने, वजन बढ़ने, ठंड लगने और कई अन्य लक्षण पैदा कर सकता है.

भुनी हुई लौंग और शहद हैं Cold And Cough से तुरंत छुटकारा पाने की कारगर Home Remedies, चुटकियों में मिलेगी निजात

थायरॉयड ग्रंथि और आपकी डाइट के बीच संबंध


थायराइड रोग दो प्रकार के होते हैं - हाइपोथायरायडिज्म (कम हार्मोन का उत्पादन होता है) और हाइपरथायरायडिज्म (अधिक हार्मोन का उत्पादन होता है). दोनों स्थितियां अलग-अलग बीमारियों के कारण होती हैं जो थायरॉयड ग्रंथि के काम करने के तरीके को प्रभावित करती हैं.

थायराइड रोग के लक्षणों को मैनेज करने में डाइट एक अहम भूमिका निभाती है. एक पौष्टिक और अच्छी तरह से बैलेंस डाइट थायराइड की समस्या का इलाज करने में मदद नहीं कर सकता है, लेकिन सही दवा के साथ मिलाने जाने पर यह लक्षणों को कम कर सकता है. आयोडीन, कैल्शियम और विटामिन डी जैसे कुछ आवश्यक पोषक तत्वों से भरपूर फूड्स लेने से लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है. यहां 4 फल हैं जो आपकी डाइट का हिस्सा होने चाहिए.

भीगी हुई किशमिश खाने के 7 जबरदस्त फायदे, पाचन, आंखों की रोशनी और इम्यूनिटी के लिए वरदान

1. सेब

सेब स्वास्थ्यप्रद फूड्स में से एक है और दुनिया भर में काफी लोकप्रिय है. रोजाना एक सेब खाने से वजन बढ़ने से रोका जा सकता है. ब्लड शुगर लेवल को मैनेज किया जा सकता है और थायरॉइड ग्लैंड को भी काम करने की स्थिति में रखा जा सकता है. अध्ययनों से पता चलता है कि सेब आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई कर सकता है जो थायरॉयड ग्रंथि को अच्छी तरह से काम करने में मदद करता है. सेब कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कम करता है और थायरॉइड, मोटापा और हृदय रोग से बचाता है.

2. जामुन

एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होने के कारण, जामुन आपके थायरॉइड अंगों के लिए बेहतरीन हैं. वे थायराइड हार्मोन के उत्पादन को प्रोत्साहित करने और उन्हें सुचारू रूप से कार्य करने में मदद करते हैं. जामुन में विटामिन और खनिज भी होते हैं जो हमें मुक्त कणों से होने वाले ऑक्सीडेटिव क्षति से बचाते हैं. अगर आप डायबिटीज और वजन बढ़ने से पीड़ित हैं, तो दो समस्याएं जो थायराइड रोग के मामले में आम हैं. जामुन भी फलों का पसंदीदा विकल्प है.

3. संतरे

विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर, संतरा आपके कोशिकाओं को और नुकसान से बचाते हुए मुक्त कणों को बेअसर कर सकता है. मुक्त कण थायरॉयड ग्रंथि में सूजन पैदा करते हैं और इसके कामकाज को प्रभावित कर सकते हैं. विटामिन सी भी इम्यूनिटी को बढ़ाता है, ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखता है, कोलेस्ट्रॉल लेवल का मैनेज करता है, त्वचा की क्षति को रोकता है और घावों को ठीक करने में मदद करता है.

बिना रेजर का इस्तेमाल किए अपनी बॉडी से अनचाहे बालों को हटाने के लिए 5 सुपर इफेक्टिव घरेलू उपाय

4. अनानास

अनानास में विटामिन सी और मैंगनीज की उच्च मात्रा होती है, ये दोनों पोषक तत्व हमारे शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचा सकते हैं. इस खट्टे फल में विटामिन बी भी होता है जो थायरॉइड के लक्षणों में से एक थकान को दूर करने में मदद कर सकता है. अनानास का सेवन कैंसर, ट्यूमर और कब्ज से पीड़ित लोगों के लिए भी अच्छा होता है.

सावधान! अश्वगंधा खाने के खतरनाक नुकसान

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Healthy Heart Tips: अपने दिल को बीमारियों से बचाने और हेल्दी रखने के लिए इन 5 फॉर्मूले को फॉलो करें

Stress And Weight दोनों के बीच क्या है लिंक, सेलेब न्यूट्रिशनिस्ट नमामी अग्रवाल ने बताए इससे निपटने के टिप्स


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Hair Care Tips: बालों का झड़ना नहीं रुक रहा है, तो फेमस डर्मेटोलॉजिस्ट गीतिका मित्तल के बताए इन टिप्स को अपनाएं

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

--------------------------------विज्ञापन---------------------------------- -