होम »  लिविंग हेल्दी »  How To Check Blood Pressure: ब्लड प्रेशर चेक करते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां, गलत आ सकती हैं रीडिंग!

How To Check Blood Pressure: ब्लड प्रेशर चेक करते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां, गलत आ सकती हैं रीडिंग!

How To Get Correct Bp Reading: कई लोग ब्लड प्रेशर की जांच करते समय कुछ गलत रीडिंग ले लेते हैं. कुछ कारक हैं जो आपकी ब्लड प्रेशर रीडिंग को प्रभावित कर सकते हैं. आपको बीपी चेक करते समय इन गलतियों को दोहराने से बचना चाहिए...

How To Check Blood Pressure: ब्लड प्रेशर चेक करते समय भूलकर भी न करें ये गलतियां, गलत आ सकती हैं रीडिंग!

How To Check Blood Pressure: कई लोग ब्लड प्रेशर की जांच करते समय कुछ गलत रीडिंग ले लेते हैं.

खास बातें

  1. ब्लड प्रेशर की जांच करते समय अपने हाथ की पॉजिशन देख लें.
  2. ब्लड प्रेशर की जांच करते समय आप कैसे बैठें हैं यह भी महत्वपूर्ण है.
  3. यहां जानें कौन से कारक आपकी ब्लड प्रेशर रीडिंग को बिगाड़ सकते हैं.

Factors That Affect Your Bp Readings: कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन हैं और आपकी उम्र या पृष्ठभूमि क्या है, आपके रक्तचाप की नियमित रूप से जांच करवाना हर उम्र के लोगों के लिए जरूरी है. ऐसा इसलिए है क्योंकि लो या हाई ब्लड प्रेशर होने से आपकी सेहत खराब हो सकती है. ये दोनों स्थितियां अनियंत्रित रहने पर कई अन्य पुरानी बीमारियों का कारण बन सकती हैं. उदाहरण के लिए, हाई ब्लड प्रेशर और हृदय रोगों के बीच लिंक बहुत अच्छी तरह से जाना जाता है. कई लोग ब्लड प्रेशर की जांच करते समय कुछ गलत रीडिंग ले लेते हैं. कुछ कारक हैं जो आपकी ब्लड प्रेशर रीडिंग को प्रभावित कर सकते हैं. आपको बीपी चेक करते समय इन गलतियों को दोहराने से बचना चाहिए...

बेहतर नींद और पाचन के साथ इन अद्भुत फायदों के लिए पैरों पर रगड़ें घी, करीना की न्यूट्रिशनिष्ट से जानें टिप्स!

नॉर्मल ब्लड प्रेशर कितना होता है? | What Is Normal Blood Pressure?


अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन का कहना है कि लगभग 120/80 mmHg के रक्तचाप को सामान्य माना जाता है. 130/90 mmHg से ऊपर के ब्लड प्रेशर रीडिंग को उच्च माना जाता है और 90/60 से नीचे वाले को कम माना जाता है. एक प्रैक्टिस हैंड और एक अच्छी ब्लड प्रेशर मशीन आपके ब्लड प्रेशर पर नजर रखने के लिए महत्वपूर्ण है.

ये 4 कारक आपकी ब्लड प्रेशर रीडिंग को प्रभावित करते हैं | These 4 Factors Affect Your Blood Pressure Reading

1. आर्म पॉजिशन

2003 में जर्नल ऑफ ह्यूमन हाइपरटेंशन में प्रकाशित एक अध्ययन बताता है कि आपके रक्तचाप को मापते समय एक मेज पर आराम से पनी बाहों को रखकर रीडिंग मापने से यह गलत आ सकती है. जबकि बाद वाला वास्तविक रीडिंग से कम दे सकता है. इसलिए, अध्ययनों की सलाह है कि आपको ब्लड प्रेशर चेक करने के दौरान अपनी बांह आपके दिल के पास रखना चाहिए.

डेयरी प्रोडक्ट्स पसंद नहीं तो, सोया मिल्क का करें सेवन; यहां जानें इसके 6 गजब के स्वास्थ्य लाभ!

e5f5a85gHow To Check Blood Pressure: ब्लड प्रेशर की जांच करते समय आपके हाथ की स्थिति भी मायने रखती है

2. शरीर की स्थिति

2007 में जर्नल ऑफ क्लिनिकल नर्सिंग में प्रकाशित एक अध्ययन बताता है कि जब आप लेटते हैं या खड़े होते हैं तो रक्तचाप की माप अधिक होने की संभावना होती है. जब आप खड़े होते हैं, तो आपका रक्त आपके पैरों की ओर बढ़ जाता है, जिससे शरीर के निचले हिस्से को रीडिंग देने की संभावना होती है. जब आप लेट होते हैं, तो इसके विपरीत होने की संभावना होती है. इसलिए, जब आपका रक्तचाप मापा जा रहा हो, तो सीधे बैठना सबसे अच्छा है.

दुबलेपन से हैं परेशान, तो तेजी से वजन बढ़ाने के लिए कमाल हैं ये 7 फूड्स, आज से ही खाना शुरू करें!

3. हाथ के बीच का अंतर

हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग के एक लेख में कहा गया है कि रक्तचाप की रीडिंग इस आधार पर भिन्न हो सकती है कि आप इसे किस हाथ से लेते हैं. विभिन्न भुजाओं में रीडिंग के बीच यह अंतर सिर्फ कुछ mmHg का हो सकता है, लेकिन अध्ययनों से पता चलता है कि अगर दोनों के बीच अंतर 10 mmHg से ऊपर है, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है.

इसलिए, निष्कर्ष यह है कि रक्तचाप को मापने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप सीधे बैठे हों और आपका दाहिना हाथ आपके दिल के स्तर पर हो. इसके अलावा, हर बार जब आप चेक-अप के लिए जाते हैं, तो हाथ के अंतर को मैनेज करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है.

खाने को जल्दी डायजेस्ट करने के यहां हैं 9 दिलचस्प तरीके, पाचन शक्ति को भी करेंगे मजबूत!

Vitamin-D Side Effects: खतरनाक है विटामिन डी की ओवरडोज! हो सकते हैं ये नुकसान

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Hair Care Tips: बालों को कलर करने का है प्लान, तो पहले जान लें हेयर कलरिंग से होने वाले 4 नुकसान!

Winter Bone Care Tips: अपनी हड्डियों को हेल्दी और मजबूत करने के लिए अपनाएं ये 6 शानदार उपाय!

Cervical Cancer Prevention: सर्वाइकल कैंसर से बचने के लिए आज ही बदल दें अपनी ये आदतें


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ग्लोइंग स्किन पाने के लिए डर्मेटोलॉजिस्ट ने बताए 5 स्किन केयर सीक्रेट, आपको जरूर होने चाहिए पता

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------