होम »  लिविंग हेल्दी »  Diet Changes For Gut Health: डाइट में ये 5 बदलाव आपकी गट हेल्थ को करेंगे बूस्ट, पेट की सभी समस्याएं रहेंगी दूर!

Diet Changes For Gut Health: डाइट में ये 5 बदलाव आपकी गट हेल्थ को करेंगे बूस्ट, पेट की सभी समस्याएं रहेंगी दूर!

Healthy Gut Tips: अगर हमारी आंत अनहेल्दी हो तो यह संपूर्ण स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है. इससे बचने के लिए आपको अपनी डाइट में कुछ जरूरी बदलाव करने की जरूरत है. यहां कुछ ऐसे ही बदलाव के बारे में बताया गया है जो आपकी आंत को हेल्दी बनाए रख सकते हैं.

Diet Changes For Gut Health: डाइट में ये 5 बदलाव आपकी गट हेल्थ को करेंगे बूस्ट, पेट की सभी समस्याएं रहेंगी दूर!

Healthy Gut Tips: अगर हमारी आंत अनहेल्दी हो तो यह संपूर्ण स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है.

खास बातें

  1. फाइबर से भरपूर फूड्स का सेवन आपकी गट हेल्थ को इंप्रूव करता है.
  2. हेल्दी गट के लिए हमेशा प्रोबायोटिक्स का सेवन करें.
  3. हाइड्रेट रहने से पेट के सूक्ष्मजीव को पनपने में आसानी होती है.

How Can I Improve My Gut Health: आपकी डाइट आपके जीवन का मेन कारक है जो आपके नियंत्रण में है और आपके स्वास्थ्य के हर पहलू को प्रभावित कर सकता है. अगर आपको पता नहीं है, तो यह आपकी आंत है जो आपकी डाइट और आपके स्वास्थ्य के बीच महत्वपूर्ण लिंक के रूप में काम करती है. अध्ययन बताता है कि अधिकतर प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले हेल्दी बैक्टीरिया और सूक्ष्मजीव भोजन को न केवल एनर्जी में तोड़ने हैं बल्कि आंत के स्वास्थ्य को भी हेल्दी बनाए रखने में बड़ी भूमिका निभाते हैं. हम जो भी खाते हैं उसका असर हमारे स्वास्थ्य पर पड़ता है, लेकिन अगर हमारी आंत अनहेल्दी हो तो यह संपूर्ण स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है. इससे बचने के लिए आपको अपनी डाइट में कुछ जरूरी बदलाव करने की जरूरत है. यहां कुछ ऐसे ही बदलाव के बारे में बताया गया है जो आपकी आंत को हेल्दी बनाए रख सकते हैं.

Benefits Of Red Foods: क्या आप जानते हैं लाल रंग के फूड्स खाने के फायदे? यहां जानें 5 अद्भुत स्वास्थ्य लाभ

गट हेल्थ को बेहतर करने के लिए शानदार टिप्स | Great Tips To Improve Gut Health


बैलेंस डाइट बनाए रखना

आंत के सूक्ष्मजीव में उचित संतुलन बनाए रखना आपके स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है क्योंकि असंतुलन से चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम और सूजन आंत्र रोग जैसे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं का कारण बन सकता है. इसके साथ ही यह मेटाबॉलिक सिंड्रोम, हृदय संबंधी रोग, मोटापा, एलर्जी, मधुमेह, मुंहासे, कोलोरेक्टल कैंसर और यहां तक कि मनोभ्रंश जैसे तंत्रिका संबंधी विकार भी पैदा कर सकता है. ऐसे में आपको अपनी डाइट और आंत के सूक्ष्मजीवों के बीच संतुलन बनाए रखना जरूरी है.

ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के साथ इन बीमारियों के लिए भी अचूक उपाय है लहसुन की चाय!

gtq6fv3oGut Health: डाइट और आंत के सूक्ष्मजीवों के बीच संतुलन बनाए रखना जरूरी है.

पेट के माइक्रोबायोम को रिस्टोर करने के लिए डाइट

अगर एक दोषपूर्ण डाइट ने आपके पेट के माइक्रोबायोम में असंतुलन पैदा कर दिया है तो यह केवल एक हेल्दी डाइट से सही किया जा सकता है. अगर आप अब तक अपने आहार में हेल्दी फूड्स को शामिल करने पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं, तो खासतौर पर अपनी आंत को हेल्दी रखना मुश्किल काम लग सकता है. वास्तव में, बस कुछ महत्वपूर्ण परिवर्तनों को अपनाकर हेल्दी सूक्ष्मजीवों के फलने-फूलने के लिए आपके पेट में अनुकूल वातावरण बनाने के लिए हेल्दी डाइट बनाई जा सकती है. यहां हेल्दी डाइट बनाने के कुछ तरीके दिए गए हैं-

आसानी से मिलने वाली ये 8 चीजें हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए हैं अद्भुत, आज से ही खाएं!

1. किण्वित पसंदीदा: अपने आहार में अधिक किण्वित खाद्य पदार्थ शामिल करें, जिसमें दही, किमची, सौकरकूट और कौंबा शामिल हैं. ये खाद्य पदार्थ प्रोबायोटिक्स हैं, जिसका अर्थ है कि वे स्वस्थ आंत बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देते हैं और पेट के अस्तर की मरम्मत में मदद करते हैं.

2. हमेशा फाइबर का सेवन करें: जंक फूड्स खाने की बजाय जो आपके पेट को नहीं भरते हैं, फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ जैसे सब्जियां, फल, साबुत अनाज, फलियां, दाल, नट और बीज खाएं. न केवल ये खाद्य पदार्थ आंत के बैक्टीरिया को पनपने में मदद करते हैं, बल्कि आपको लंबे समय तक पूर्ण और ऊर्जावान रखते हुए अस्वास्थ्यकर रोगाणुओं के विकास को रोकने में भी मदद करते हैं.

3. प्रीबायोटिक्स को प्राथमिकता दें: प्रोबायोटिक्स की तरह, प्रीबायोटिक्स स्वस्थ आंत बैक्टीरिया और कवक के विकास को बढ़ावा देते हैं. प्रीबायोटिक्स के महान स्रोतों के रूप में प्याज, लहसुन, जई, सेब, केले, जौ, कोको, फ्लैक्ससीड्स और पत्तेदार साग का सेवन किया जा सकता है.

Weight Loss: अद्भुत आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी त्रिफला कैसे तेजी से घटा सकती है वजन? जानें कारगर तरीका और फायदे

4. तरल पदार्थ और पानी: हर दिन दो से चार लीटर पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिल सकती है और पेट के सूक्ष्मजीव को पनपने में आसानी होती है. छाछ, लस्सी, नींबू पानी, हर्बल और हरी चाय और घर का बना सूप जैसे अन्य पौष्टिक तरल पदार्थ पीने से भी आपकी आंत में संतुलन बहाल करने में मदद मिल सकती है.

5. मीठा छोड़ें: मिठाई का विरोध करना मुश्किल हो सकता है, आपको पता होना चाहिए कि अधिक परिष्कृत चीनी खाने से सबसे बुरी चीज है जो आप अपने पेट की माइक्रोबायोम को प्रभावित कर सकती हैं. यह कृत्रिम मिठास के साथ मीठे पेय और फलों के रस पर भी लागू होता है. इन्हें छोड़ें और इसके बजाय गुड़, ताजे फल और सूखे फल जैसे खजूर, किशमिश और खुबानी की प्राकृतिक मिठास के लिए जाएं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

How To Get Periods: पीरियड्स को प्रीपोन करने के लिए इन कारगर घरेलू उपायों को आजमाएं

बालों पर तेल लगाने का क्या है सही तरीका? बेस्ट रिजस्ट पाने के लिए तेल लगाते समय इन नियमों का पालन करें

Health Tips: ये 5 संकेत बताते हैं कि आप कम खा रहे हैं सब्जियां, शरीर में दिखते हैं ये बदलाव!


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Healthy Pregnancy Tips: हेल्दी प्रेगनेंसी चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले ये 5 कॉमन टेस्ट करवाने चाहिए

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

घरेलू नुस्खे

Remedies For Hair Growth: बालों की ग्रोथ को जल्दी बढ़ाने के लिए प्याज और नींबू के रस के साथ ये 6 घरेलू नुस्खे हैं फायदेमंद

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------