होम »  लिविंग हेल्दी »  Foods That Cause Heartburn: इन 7 चीजों को खाने से होती है सीने में जलन की समस्या, जानें राहत पाने के कारगर घरेलू उपाय

Foods That Cause Heartburn: इन 7 चीजों को खाने से होती है सीने में जलन की समस्या, जानें राहत पाने के कारगर घरेलू उपाय

Causes Of Heartburn: लगभग सभी को अपने जीवन में किसी न किसी समय एसिडिटी की समस्या का सामना करना पड़ता है. इसका एसिडीटी का कारण हो या हार्ट बर्न की वजह दोनों के मामले में फूड्स काफी योगदान देते हैं. आपको ऐसे फूड्स को डाइट से दूर करने या उनका सेवन कम करने की जरूरत है जो हार्टबर्न और एसिडिटी का कारण बनते हैं.

Foods That Cause Heartburn: इन 7 चीजों को खाने से होती है सीने में जलन की समस्या, जानें राहत पाने के कारगर घरेलू उपाय

Foods That Cause Heartburn: आपको सबसे पहले हार्ट बर्न के कारणों को जानने की जरूरत है.

खास बातें

  1. एसिडिटी से परेशान लोगों को कभी-कभी अक्सर हार्टबर्न हो सकता है.
  2. प्याज का ज्यादा मात्रा में सेवन भी हार्टबर्न का कारण बनता है.
  3. यहां जानें हार्टबर्न और एसिडिटी से राहत पाने के नेचुरल उपाय.

Home Remedies For Heartburn: एसिडिटी से परेशान लोगों को कभी-कभी हार्टबर्न और यहां तक कि पेट दर्द जैसे लक्षणों से लड़ना पड़ सकता है. जब आप खाना खाते हैं तो गैस्ट्रिक ग्रंथियां उस भोजन को पचाने के लिए एसिड बनाती हैं. जब आवश्यकता से अधिक एसिड बन जाता है, तो यह हार्टबर्न या पेट दर्द का कारण हो सकता है, जो एसिडिटी के संकेत हैं. एसिडिटी, जिसे एसिड रिफ्लक्स के रूप में भी जाना जाता है. हालांकि एसिडिटी के लिए घरेलू उपाय हों या हार्टबर्न का इलाज करने के नेचुरल तरीके आपके लिए चमत्कार कर सकते हैं, लेकिन सबसे पहले हार्ट बर्न के कारणों को जानने की जरूरत है. कुछ फूड्स हार्टबर्न का कारण बनते हैं लेकिन कई लोगों को इनके बारे में जानकारी नहीं होती है और अक्सर ऐसे फूड्स का ज्यादा सेवन करने लगते हैं जो पेट की समस्याओं को पैदा कर सकते हैं जिनमें हार्टबर्न और एसिडिटी आम हैं.

Exercises To Relieve Knee Pain: घुटनों के दर्द की छुट्टी कर देंगी ये 9 एक्सरसाइज, स्ट्रेंथ बढ़ाने में भी है असरदार!

लगभग सभी को अपने जीवन में किसी न किसी समय एसिडिटी की समस्या का सामना करना पड़ता है. इसका एसिडीटी का कारण हो या हार्ट बर्न की वजह दोनों के मामले में फूड्स काफी योगदान देते हैं. आपको ऐसे फूड्स को डाइट से दूर करने या उनका सेवन कम करने की जरूरत है जो हार्टबर्न और एसिडिटी का कारण बनते हैं. इसके साथ ही उनका चीजों का सेवन बढ़ाने की जरूरत है जो हार्टबर्न से राहत दिला सकते हैं.


ये फूड्स बनते हैं हार्टबर्न का कारण | These Foods Cause Heartburn

1. प्याज

प्याज सबसे आम खाद्य पदार्थों में से एक है जो हार्टबर्न पैदा कर सकता है. हम में से ज्यादातर लोग प्याज के बिना अपने खाने की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं, लेकिन भोजन में इस्तेमाल होने वाला कच्चा प्याज हमारे शरीर में एसिड रिफ्लक्स को बढ़ा सकता है. प्याज का सेवन करना अच्छा है लेकिन इसे कच्चा या अधिक मात्रा में लेने से बचें.

Barley Tea Benefits: सुबह उठने के बाद सबसे पहले क्यों पीनी चाहिए जौ की चाय? फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप!

c1a2n1i8

Cause Of Heartburn: प्याज का ज्यादा मात्रा में सेवन हार्टबर्न का कारण बन सकता है

2. चॉकलेट

चॉकलेट में कैफीन और थियोब्रोमाइन जैसे चाय और कॉफी के समान कुछ रसायन होते हैं, जो हार्टबर्न का कारण बन सकते हैं. एसिड रिफ्लक्स आमतौर पर तब होता है जब स्पिंचर को आराम मिलता है और रस हमारे अन्नप्रणाली से बच जाता है. इसलिए, आपको चॉकलेट या चॉकलेट से बनी चीजों का सेवन सीमित करने की जरूरत है.

यहां है एसिडिटी, कब्ज, डैंड्रफ और हेयर फॉल समेत इन 9 समस्याओं का एक सस्ता और अचूक उपाय

3. खट्टा रस

खट्टे फलों में संतरे, नींबू, अंगूर, आदि शामिल हैं, और ये फल प्रकृति में अम्लीय हैं. उनसे बचने की सलाह दी जाती है क्योंकि इससे हार्टबर्न हो सकती है, इसलिए आपको किसी भी जूस में थोड़ा पानी मिलाना चाहिए. खट्टे रस आमतौर पर एसिड रिफ्लक्स का कारण बन सकते हैं, विशेष रूप से उन लोगों को जिन्हें अक्सर एसिडिटी की शिकायत रहती है.

4. कॉफी

जब कॉफ को अधिक मात्रा में लिया जाता है तो ये हार्टबर्न और एसिडिटी को ट्रिगर कर सकती है. अगर आपको पहले ही एसिडिटी या हार्बर्न की समस्या हो तो कॉफी का सेवन उस उस स्थिति को भी ट्रिगर कर सकता है.  कॉफी आपके एसिड के स्तर को तुरंत बढ़ा देता है जिससे पेट दर्द और एसिडिटी हो सकती है. पेट के पीएच वापस सामान्य करने के लिए एक गिलास गुनगुना नींबू पानी पीना चाहिए.

Post-Workout Nutrition: वर्कआउट के बाद अच्छी और तेजी से रिकवरी के लिए खाएं ये पौष्टिक चीजें

8rb0nqjoCause Of Heartburn: कई लोगों को कॉफी से हार्टबर्न की समस्या हो सकती है

5. शराब

अल्कोहल कई बार हार्टबर्न के लिए भी जिम्मेदार होता है. शराब के प्रभाव में, हमारे शरीर की मांसपेशियां शिथिल हो जाती हैं और इसलिए एसिड ग्रासनली में ऊपर की ओर उठता है और एसिडीटी का कारण बनता है. शराब का सेवन एसोफैगल कैंसर के विकास और उन्नति को भी ट्रिगर कर सकता है. शराब के सेवन से बचना और कम करना हार्टबर्न के लक्षणों को रोकने और बचने का एक अच्छा तरीका है.

वेट लॉस डाइट पर हैं, तो इन 10 हेल्दी स्नैक्स को बनाएं अपना दोस्त, भूख भी होगी छूमंतर!

6. मसालेदार भोजन

मसालेदार या गर्म खाना हार्टबर्न की समस्या पैदा कर सकता है. मसालेदार भोजन में कैप्साइसिन नामक एक यौगिक होता है, जो हमारे पेट में पाचन को धीमा कर देता है. इसका मतलब यह है कि हम जो भोजन करते हैं वह हमारे पेट में लंबे समय तक रहेगा जो हार्टबर्न का एक बड़ा जोखिम कारक है. जितना संभव हो मसालेदार भोजन से बचना सबसे अच्छा है.

हार्टबर्न से राहत पाने के लिए नेचुरल उपाय | Natural Remedy To Get Relief From Heartburn

1. अदरक

अदरक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं से राहत प्रदान करने में मदद कर सकता है और पेट के एसिड को अन्नप्रणाली में यात्रा करने से भी रोकता है. अदरक हार्टबर्न का इलाज करने के लिए एक प्रभावी और क्विक तरीके से अच्छी तरह से काम कर सकता है. आप भोजन करने से पहले ताजा अदरक का एक छोटा काट खा सकते हैं या अदरक का पाउडर भी ले सकते हैं. अदरक की चाय बनाने से एक और हेल्दी और उपयोगी तरीका है.

Health Tips: ये 5 आयुर्वेदिक चीजें स्वास्थ्य के लिए खतरनाक भी हो सकती हैं! जानें इनके साइडइफेक्ट्स

eveiu768

2. दलिया

दलिया आपके शरीर के लिए बहुत हेल्दी है और वजन घटाने के लिए सहायक है. इसके साथ ही, दलिया फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है, जिसका मतलब एसिड रिफ्लक्स और हार्टबर्न का कम जोखिम भी है. इसलिए यह पेट भरने या रिफ्लक्स का कारण भी नहीं बनता है. ओटमील को अपने आहार में शामिल करने के कई तरीके हैं और आप इसे रोज कर सकते हैं.

डायबिटीज रोगियों के लिए कमाल है रसभरी फल, हाई शुगर लेवल को कम करने के साथ देता है ये अद्भुत फायदे

3. केला

केला भी आपके पेट के लिए एक अत्यंत लाभकारी फल है और इसे आहार में एक या दूसरे तरीके से शामिल करने की सलाह दी जाती है. यह फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है जो पाचन तंत्र को भी बेहतर बनाने में मदद करता है. केले में मौजूद पोटेशियम की अच्छी मात्रा पेट में बलगम के उत्पादन को बढ़ा सकती है, जिसके परिणामस्वरूप अतिरिक्त एसिड बनने को कम किया जा सकता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------