होम »  हार्ट »  यह है भारत में ज्यादातर मौतों की वजह, युवाओं को होता है ज्यादा खतरा!

यह है भारत में ज्यादातर मौतों की वजह, युवाओं को होता है ज्यादा खतरा!

मस्तिष्काघात से मौत के मामले कुल मिलाकर तो घटे हैं लेकिन भारत के पूर्वोत्तर राज्य में इनमें वृद्धि देखी गयी.

यह है भारत में ज्यादातर मौतों की वजह, युवाओं को होता है ज्यादा खतरा!

भारत में 2015 में मौत के 25 फीसदी से अधिक मामलों में हृदयरोग जिम्मेदार रहा है जो बड़े स्तर पर ग्रामीण आबादी और युवाओं को अपना निशाना बना रहा हैं. यह बात एक अध्ययन में सामने आई है. टोरंटो में सेंट माइकल हॉस्पिटल के सेंटर फॉर ग्लोबल हेल्थ रिसर्च के निदेशक प्रभात झा के नेतृत्व में हुए अध्ययन में कहा गया है कि देश के ग्रामीण क्षेत्रों में 30 से 69 साल के आयुवर्ग के लोगों में हृदय की रक्तवाहिनियों के संकुचित होने की वजह से दिल संबंधी परेशानियों से मृत्यु के मामले तेजी से बढ़े हैं और 2000 से 2015 के बीच ये शहरी इलाकों में सामने आये मामलों से आगे निकल गये. 

फीमेल कॉन्‍डोम इस्‍तेमाल करते वक्‍त ध्‍यान रखें ये बातें...

सेक्‍स के दौरान होने वाली इन कॉमन इन्‍जरी के बारे में जानते हैं आप...

इसके विपरीत मस्तिष्काघात से मौत के मामले कुल मिलाकर तो घटे हैं लेकिन भारत के पूर्वोत्तर राज्य में इनमें वृद्धि देखी गयी. लैंसेट पत्रिका के अनुसार इन राज्यों में मस्तिष्काघात से मौत के मामले राष्ट्रीय औसत से करीब तीन गुना अधिक हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो में डल्ला लाना स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में प्रोफेसर झा ने कहा , ‘‘भारत में हृदयरोगों के मामले राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ने और मस्तिष्काघात के मामले कुछ राज्यों में बढ़ने का तथ्य आश्चर्यजनक है. ’‘

अगर पसंद है लव बाइट्स, तो हो जाएं सावधान, ये हो सकते है नुकसान
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------