होम »  डायबिटीज »  Yoga For Diabetes Control: ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए इन असरदार योगासनों का अभ्यास आज से ही शुरू कर दें!

Yoga For Diabetes Control: ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए इन असरदार योगासनों का अभ्यास आज से ही शुरू कर दें!

Yoga For Diabetes: योग आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है. यह डायबिटी में ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को मैनेज करने में भी मदद कर सकता है. यहां कुछ योगासनों के बारे में बताया गया है जो इस स्थिति को प्रभावी ढंग से मैनेज करने में मदद कर सकते हैं..

Yoga For Diabetes Control: ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए इन असरदार योगासनों का अभ्यास आज से ही शुरू कर दें!

Diabetes: मधुमेह एक पुरानी स्थिति है जिसमें रक्त शर्करा के लगातार मैनेज करने की जरूरत होती है

खास बातें

  1. योग डायबिटीज को प्रभावी ढंग से मैनेज करने में मदद कर सकता है.
  2. कम जीआई आहार रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है.
  3. नियमित व्यायाम भी स्वस्थ रक्त शर्करा के स्तर को हेल्दी रखता है.

How To Control Diabetes Naturally: रक्त शर्करा या ग्लूकोज आपके शरीर की ऊर्जा का मुख्य स्रोत है. यह आपके रक्त में पाया जाने वाला मुख्य शर्करा (Sugar) है और आपके द्वारा सेवन किए जाने वाले भोजन से प्राप्त होता है. आपके रक्त में ग्लूकोज (Glucose) होता है जो आपके शरीर की सभी कोशिकाओं को ऊर्जा के लिए उपयोग करता है. डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी स्थिति है जिसमें ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) आम तौर पर सामान्य से अधिक होता है. आपके ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए योग (Yoga To Manage Blood Sugar Level) काफी कारगर हो सकता है. योग अभ्यास करने के तीन अलग-अलग तरीके हैं जिन्हें आप इन आसनों के साथ लागू कर सकते हैं. पहले स्तर को आधार स्तर के रूप में जाना जाता है और इसे आपके आसन अभ्यास की नींव माना जा सकता है.

वजन कम करने और घटाने का उपाय हो सकता है यह Weight Loss Drink, खाली पेट करें ट्राई!

इस विशेष मोड के दौरान, आप लंबे समय तक आसन धारण नहीं कर पाएंगे. इसके बजाय, आप इन सभी मुद्राओं को बहुत कम समय के लिए धारण करें. ये कारगर तरीके से ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को कंट्रोल करने में आपकी मदद कर सकते हैं.


योग ब्लड शुगर लेवल को रखता है कंट्रोल | Yoga Keeps Blood Sugar Level Under Control

खाद्य और पोषण | food And Nutrition

आपको यो शरीर की सफाई के साथ शुरू करना चाहिए. आपके द्वारा सेवन किए जाने वाले भोजन के माध्यम से रक्त की आंतरिक सफाई की जाती है. अपने भोजन को हल्का रखना महत्वपूर्ण है और बहुत भारी नहीं है. इसका मतलब है कि आपको पाचन तंत्र पर बहुत अधिक दबाव नहीं डालना चाहिए जो भोजन को पोषण में बदलने में मदद करता है जो आपके शरीर को चाहिए.

ठंड के मौसम में सूखी खांसी कर रही है परेशान, तो ये आसान से घरेलू नुस्खे हैं रामबाण इलाज!

अपने पानी का सेवन बढ़ाएं

दिन भर में अक्सर पानी का सेवन करना चाहिए. हर आधे घंटे पानी की घूंट लेते रहें. इससे पहले कि आप अपने भोजन का सेवन करें और अपने अभ्यास के लिए अपने भोजन का सेवन करने से पहले 90 मिनट का अंतराल होना चाहिए. इन निम्नलिखित आसनों का अभ्यास दिन में दो बार किया जाना चाहिए. सुबह में एक बार और शाम को एक बार उनका अभ्यास करना आपके रक्त शर्करा के स्तर को विनियमित और प्रबंधित करने में मदद करेगा.

आसन (Posture)

1. मंडुकासन

बालासन या बाल मुद्रा में शुरू करें. अपनी एड़ी पर अपनी श्रोणि रखें और अपने पैर की उंगलियों को बाहर की ओर इंगित करें. अपनी एड़ी को एक-दूसरे के पास रखें. अपनी दाईं हथेली को अपनी नाभि पर और अपनी बाईं हथेली को दाईं ओर रखें. जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, नीचे झुकते हैं और जैसे ही आप सांस लेते हैं, ऊपर आते हैं. प्रत्येक 10 सेकंड के 3 सेट दोहराएं.

Type 2 Diabetes: क्या है मोटापे और डायबिटीज का रिश्ता, जानें कैसे खुद को बचा सकते हैं आप

2. पादहस्तासन

समस्तीथि में शुरू. सांस छोड़ते और धीरे से अपने ऊपरी शरीर को कूल्हों से नीचे झुकाएं और अपनी नाक को अपने घुटनों तक स्पर्श करें. अपनी हथेलियों को अपने पैरों के दोनों ओर रखें. अगर आप फर्श तक पहुंचने में असमर्थ हैं तो आप अपने घुटनों को मोड़ सकते हैं.

सलाह

अगर आपने हाल ही में अपने हैमस्ट्रिंग में सर्जरी, घुटने की सर्जरी या सर्जरी की थी, तो इसको करने से बचें. अगर आपके पैरों, कूल्हों, पीठ और कंधों पर हाल ही में कोई चोट लगी है, तो इस मुद्रा को न करें. अगर आप गंभीर पीठ दर्द, उच्च रक्तचाप, हृदय की समस्याओं से पीड़ित हैं, तो घुटने की समस्या, कटिस्नायुशूल या पेट की हर्निया है तो इसे अधिक न करें क्योंकि इससे आपके घुटनों, जांघों, पिंडलियों, टखनों पर बहुत अधिक दबाव पड़ सकता है और मोच आ सकती है.

डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए कारगर हैं ये 9 हेल्दी स्नैक्स, आज से ही कर दें डाइट में शामिल!

4puah4eControl Diabetes Naturally: पादहस्तासन पाचन को बढ़ाने में मदद करता है

3. पद्यंगुष्ठासन

समाधिस्थी में खड़े होकर सांस छोड़ते और आगे झुकें. अपने सिर को छोड़ दें और अपने कंधों और गर्दन को आराम से रखें. आगे की ओर मोड़ते समय, कमर के बजाय अपने धड़ को कूल्हे जोड़ों से स्थानांतरित करने का प्रयास करें. अपने बड़े पैर की उंगलियों को पकड़ें, और अपनी बाहों को सीधा करते हुए ऊपर देखें. सांस छोड़ते और आगे की ओर मोड़ें. पूरे अभ्यास में पैरों और घुटनों को सीधा रखने की कोशिश करें.

फैटी लीवर में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए? हेल्दी लीवर डाइट में इन 5 फूड्स को करें शामिल!

4. पस्चीमोत्तानासन - आगे की ओर झुकना

दण्डासन से शुरू करें. जब आपके पैर आगे की ओर खिंचे हुए हों तो अपने घुटनों को थोड़ा झुकाकर रखें. अपनी बाहों को ऊपर उठाएं और अपनी रीढ़ को सीधा रखें. सांस लें और अपने पेट को खाली करें. सांस छोड़ने के साथ, कूल्हे पर आगे झुकें और अपने ऊपरी शरीर को अपने निचले शरीर पर रखें. अपनी बाहों को नीचे लाएं और अपनी उंगलियों से अपने पैर की उंगलियों को पकड़ें. अपने नाक से अपने घुटनों को छूने की कोशिश करें.

योग आसन आपके आंतरिक अंगों पर खिंचाव और उनकी मालिश करने का काम करते हैं. जब आप नियमित रूप से इन पोज का अभ्यास करते हैं, तो यह अंगों को रक्त और ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाता है. यह प्रभावी रूप से उनकी दक्षता और कार्यप्रणाली में सुधार करता है जो आपके स्वास्थ्य को सकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है. आसन वैज्ञानिक संरेखण और तकनीकों पर आधारित होते हैं जो शरीर के सिस्टम को संतुलित करने, उन्हें विनियमित करने और उन्हें साफ करने के लिए लक्षित करते हैं.

अस्वीकरण: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है. एनडीटीवी इस लेख की किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता, या वैधता के लिए जिम्मेदार नहीं है. सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है. लेख में दिखाई देने वाली जानकारी, तथ्य या राय एनडीटीवी के विचारों को प्रतिबिंबित नहीं करती है और एनडीटीवी उसी के लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व नहीं मानता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

सर्दियों में ड्राई हेयर, रूसी और बालों के झड़ने से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये असरदार हेयर केयर रुटीन

प्रोटीन से भरपूर नाश्ता सेहत को देता है ये 5 बेहतरीन फायदे, यहां है 22 प्रोटीन फूड्स की लिस्ट


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हल्दी के साथ इन 5 आयुर्वेदिक हर्ब्स को लगाने से आएगा चेहरे पर ग्लो और दिखेंगे जवां

फैट कम करने का जबरदस्त नुस्खा है सौंफ, बस जान लें इस्तेमाल का तरीका, पढ़ें सौंफ के फायदे-नुकसान

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------