होम »  डायबिटीज »  World Diabetes Day 2020: ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए लाइफस्टाइल में करें ये बदलाव, जानें वर्ल्ड डायबिटीज डे की थीम!

World Diabetes Day 2020: ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए लाइफस्टाइल में करें ये बदलाव, जानें वर्ल्ड डायबिटीज डे की थीम!

World Diabetes Day: इस पुरानी स्थिति के बारे में जानकारी फैलाने के लिए हर 14 नवंबर को विश्व मधुमेह दिवस मनाया जाता है. वर्ल्ड डायबिटीज डे 2020 की थीम (World Diabetes Day 2020 Theme) 'नर्स और डायबिटीज' है. यह विषय मधुमेह की रोकथाम (Prevention Of Diabetes) और मैनेज करने में नर्सों की भूमिका पर प्रकाश डालता है.

World Diabetes Day 2020: ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए लाइफस्टाइल में करें ये बदलाव, जानें वर्ल्ड डायबिटीज डे की थीम!

World Diabetes Day 2020: डायबिटीज में लगातार ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने की जरूरत होती है

खास बातें

  1. नियमित व्यायाम रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है.
  2. ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए कम जीआई वाले फूड्स खाने चाहिए.
  3. डायबिटीज से राहत पाने के लिए फलों को मॉडरेशन में खाना चाहिए.

World Diabetes Day 2020: डायबिटीज विश्व स्तर पर एक बड़ी स्वास्थ्य चुनौती है. यह एक मेटाबॉलिज्म बीमारी है, जिसमें अग्न्याशय की अक्षमता के कारण शरीर में ग्लूकोज का लेवल हाई हो जाता है और इंसुलिन का उत्पादन भी बाधित होता है. इस पुरानी स्थिति के बारे में जानकारी फैलाने के लिए हर 14 नवंबर को विश्व मधुमेह दिवस मनाया जाता है. वर्ल्ड डायबिटीज डे 2020 की थीम (World Diabetes Day 2020 Theme) 'नर्स और डायबिटीज' है. यह विषय मधुमेह की रोकथाम (Prevention Of Diabetes) और मैनेजमेंट में नर्सों की भूमिका पर प्रकाश डालता है. डायबिटीज वाले लोग हृदय, आंख, गुर्दे, रक्त वाहिकाओं और तंत्रिकाओं के रोगों के लिए उच्च जोखिम में होते हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का अनुमान है कि दुनिया भर में लगभग 422 मिलियन लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं और हर साल 1.6 मिलियन लोग इस बीमारी के कारण मरते हैं. डब्ल्यूएचओ के अनुसार, कम आय वाले और विकासशील देशों में लोग मधुमेह की चपेट में अधिक आते हैं. भारत मधुमेह के मामलों में दक्षिण पूर्व एशिया का नेतृत्व करता है.

डायबिटीज के लिए ये 5 सुपरफूड्स हैं रामबाण उपाय, ब्लड शुगर लेवल को रखते हैं कंट्रोल!

अंतर्राष्ट्रीय मधुमेह फाउंडेशन के 2019 के डायबिटीज एटलस के अनुसार, वैश्विक रूप से 6 मधुमेह रोगियों (Diabetic Patients) में से एक, भारत में निवास करता है. रिपोर्ट यह भी बताती है कि भारत में अगले 25 वर्षों में मधुमेह के मामलों में 134 मिलियन से अधिक की वृद्धि होने की संभावना है, जो एक खतरनाक स्थिति है और इस पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है.


मोटे तौर पर डायबिटीज तीन प्रकार की होती है- टाइप 1 डायबिटीज जिसमें इम्यून सिस्टम इंसुलिन पैदा करने वाली कोशिकाओं पर हमला करता है. दूसरी टाइप 2 डायबिटीज जिसमें मानव शरीर में पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं करता है या इसके प्रति प्रतिरोधक क्षमता विकसित नहीं हो पाती है. और तीसरी गर्भावधि डायबिटीज जो गर्भावस्था के दौरान पता चलती है और हो सकती है. इसमें माता और बच्चे दोनों को जटिलताएं होती हैं. टाइप 2 मधुमेह अधिक सामान्य है और यह गतिहीन जीवन शैली और मोटापे जैसे कारकों के संयोजन के कारण होता है. तनाव भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. गर्भावस्था के दौरान होने वाले हार्मोनल परिवर्तन के कारण गर्भकालीन मधुमेह का कारण होता है.

ये विंटर वेजिटेबल इम्यूनिटी बढ़ाने और ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के साथ देती है कई शानदार फायदे!

बार-बार पेशाब आना, बार-बार प्यास लगना और भूख लगना, अत्यधिक थकान और वजन कम होना डायबिटीज के लक्षण (Symptoms Of Diabetes) हैं, लेकिन यह केवल 60% रोगियों में ही हो सकता है. मधुमेह का निदान (Diagnosis Of Diabetes) रक्त परीक्षण के माध्यम से किया जा सकता है, अर्थात उपवास प्लाज्मा ग्लूकोज और मौखिक ग्लूकोज सहिष्णुता परीक्षण.

ankuc8o8World Diabetes Day: एक स्वस्थ जीवन शैली टाइप -2 मधुमेह के जोखिम को रोकने में मदद कर सकती है

एक हेल्दी लाइफस्टाइल टाइप -2 डायबिटीज के जोखिम को रोकने में मदद कर सकती है

टाइप -1 डायबिटीज इंसुलिन पर निर्भर है और इंसुलिन इंजेक्शन का प्रबंध करके इसे जांच में रखा जा सकता है. वर्तमान में, मौखिक विरोधी मधुमेह दवाओं के कई वर्ग उपलब्ध हैं. यह जानने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करना उचित है कि कौन सी दवा आपको सबसे अच्छी है.

बैलेंस डाइट में किन फूड्स को करना चाहिए शामिल? हमेशा हेल्दी रहने के लिए इन पोषक तत्वों का करें सेवन

यह भी ध्यान दिया जाना चाहिए कि टाइप -2 डायबिटीज से निपटने के लिए अकेले दवाओं के बजाय बहु-आयामी दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है. यह देखा गया है कि टाइप -2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों ने जीवनशैली संशोधनों के माध्यम से स्थिति को उलटने का दावा किया है. कम से कम 30 मिनट के नियमित व्यायाम का एक संयोजन, एक संतुलित आहार का सेवन, सरल कार्बोहाइड्रेट और प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों से परहेज़ करना मधुमेह से उत्पन्न जटिलताओं को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है जैसे स्ट्रोक, रेटिना को नुकसान, गुर्दे और हृदय रोग. कार्बोहाइड्रेट को 50-55% से अधिक कैलोरी और फलों में योगदान नहीं करना चाहिए; सब्जियों और साबुत अनाज को आहार में शामिल किया जाना चाहिए.

धूम्रपान छोड़ना और शराब की खपत को सीमित करना और रक्तचाप को नियंत्रित करना इस स्थिति को प्रबंधित करने में एक लंबा रास्ता तय करता है. इसके अलावा, कम से कम 30 मिनट के व्यायाम के कुछ प्रकार जैसे तेज चलना, दौड़ना, या कार्डियोवैस्कुलर कसरत वजन को नियंत्रित करने में मदद करेगा; वजन मुख्य अपराधी है जो मधुमेह के खतरे को तेज करता है. मधुमेह के उपचार को सुधारने के लिए कई तरह के शोध किए गए हैं.

सर्दियों में ये 7 सुपरफूड्स हैं कई मर्ज की दवा, डाइट में शामिल कर पाएं गजब के फायदे!

रोगी को यह समझाया जाना चाहिए कि मधुमेह से पीड़ित लोग भी जीवन शैली में बदलाव, नियमित जांच और संतुलित आहार और व्यायाम के माध्यम से स्वस्थ, जटिलता मुक्त और एक उत्पादक जीवन जी सकते हैं.

(डॉ. धीरज कपूर, प्रमुख - एंडोक्रिनोलॉजी, आर्टेमिस अस्पताल)

अस्वीकरण: इस लेख के भीतर व्यक्त की गई राय लेखक की निजी राय है. एनडीटीवी इस लेख की किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, उपयुक्तता, या वैधता के लिए जिम्मेदार नहीं है. सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है. लेख में दिखाई देने वाली जानकारी, तथ्य या राय एनडीटीवी के विचारों को प्रतिबिंबित नहीं करती है और एनडीटीवी उसी के लिए कोई जिम्मेदारी या दायित्व नहीं मानता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

जबरदस्त स्वास्थ्य लाभों से भरी तुलसी की पत्तियों के कुछ दुष्प्रभाव भी हैं, सेवन करने से पहले एक बार जान लें

Winter Diet: कैल्शियन और विटामिन डी से भरपूर ये 5 फूड्स बनाते हैं हड्डियों को मजबूत, विंटर डाइट में करें शामिल!


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Sitaphal Health Benefits: सर्दियों में क्यों जरूर खाना चाहिए सीताफल? यहां जानें 5 दिलचस्प कारण

कई स्वास्थ्य समस्याओं से छुटकारा दिलाती हैं इन चार चीजों की पत्तियां, इम्यून सिस्टम को भी रखती हैं मजबूत

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

घरेलू नुस्खे

Home Remedies For Sore Throat: गले की खराश को झेलें नहीं, इन असरदार देसी नुस्खों को अपनाएं और तुरंत पाएं छुटकारा!

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------