होम »  स्किन & nbsp;»  Monsoon Skin Care: मानसून में होती हैं स्किन की ये 7 समस्याएं, जानें कारण, लक्षण, बचाव और इलाज

Monsoon Skin Care: मानसून में होती हैं स्किन की ये 7 समस्याएं, जानें कारण, लक्षण, बचाव और इलाज

Skin Care Tips: मानसून के दौरान मौसम तो बेहद सुहावना होता है. लेकिन इस सुहावने मौसम में स्किन से जुड़ी बहुत से समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए मानसून के समय अपनी स्किन का खास ख्याल रखने की कोशिश करनी चाहिए.

Monsoon Skin Care: मानसून में होती हैं स्किन की ये 7 समस्याएं, जानें कारण, लक्षण, बचाव और इलाज

Skin Care Tips: मानसून के समय स्किन का खास ख्याल रखने की कोशिश करनी चाहिए.

मानसून आ चुका है और इस मौसम में होने वाली बारिश का मजा लेने के लिए सभी ने प्लानिंग करना शुरू कर दी है. कोई किसी हिल स्टेशन जाने का प्लान कर रहा है, तो किसी ने जंगल सफारी का मन बना लिया है. क्योंकि इस मौसम में प्रकृति की खूबसूरती को केवल वही देख सकता है जिसे बारिश में भीगना – घूमना पसंद हो. लेकिन मानसून के मौसम में सब कुछ अच्छा हो ये भी जरूरी तो नहीं है. इस मौसम में स्किन से संबंधित कई समस्याएं भी हो जाती है. जो आपको काफी परेशान कर सकती और आपका घर से बाहर घूमने का प्लान बर्बाद कर सकती है. जानते हैं मानसून में स्किन से जुड़ी कौन सी समस्याएं आमतौर पर होती हैं और उनसे बचने के क्या तरीके हैं.

दिमाग को भी पोषण देता है घी हार्ट को रखता है हेल्दी, जानें अपने खाने में कितना घी मिलाना चाहिए

1. एक्ने - एग्जिमा


मानसून के सीजन के दौरान तापमान कम होने लगता है और मौसम में ठंडक होने लगती है. मौसम में हुए इस बदलाव के कारण स्किन पर एक्ने और एग्जिमा से जुड़ी परेशानियां नजर आने लगती है. ये समस्याएं जानलेवा नहीं होती है. लेकिन इसके कारण स्किन पर खुजली होना शुरू होती जाती है जिससे मुसीबत बढ़ जाती है.

लक्षण: एक्ने और एग्जिमा समस्या होने वाले स्किन पर लाल चकत्ते और दाने उभर आते है.


इलाज - रोकथाम: जब स्किन पर एक्ने – एक्जिमा की समस्या होने जाएं तो इसका इलाज होने में वक्त लगता है. इलाज के दौरान बरती गई लापरवाही से परेशानी बढ़ती जाती है. इसलिए जैसे ही स्किन पर लाल चकते या फिर दाने नजर आए तो तत्काल स्किन स्पेशलिस्ट को दिखाएं. इस समस्या से बचने के लिए सूखे कपड़े पहनें, अगर बारिश में भीग गए तो कोशिश करे कि ज्यादा देर गीला न रहना पड़े.

दूध पीने से शरीर को ये 5 नुकसान हो सकते हैं, जानें एक दिन में कितने गिलास पीना फायदेमंद है

2. बालों में रूसी

मानसून में बालों में रूसी होना एक आम समस्या है. इस समस्या का कारण वातावरण में नमी ज्यादा होना है. नमी ज्यादा होने से सिर के डेड स्किन नहीं निकल पाती है जिसके कारण सिर पर रूसी होने लगती है. नमी बढ़ने के सिर के बाल चिपचिपे हो जाते है.

लक्षण: स्किन से जुड़ी इस समस्या में सिर में खुजली होने लगती है. रूसी के कारण बाल भी झड़ने लगते है. नमी ज्यादा होने के कारण बाल उलझते भी बहुत है.

इलाज - रोकथाम: रूसी की परेशानी से छुटकारा पाने में एप्पल साइडर विनेगर बहुत उपयोगी होता है. एप्पल साइडर विनेगर के एक चम्मच को आधा कप गुनगुने पानी में मिलाकर बालों की जड़ों लगाना चाहिए. ऐसा करने से रूसी खत्म होने लगती है. एप्पल साइडर विनेगर के बाद बालों को शैंपू से धो लेना चाहिए.

डायबिटीज में रामबाण से कम नहीं ये 5 नट्स, शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए हैं अचूक उपाय

3. स्किन एलर्जी

बरसात के मौसम में स्किन एलर्जी की समस्या आम है. प्रदूषण के कारण होने वाली इस समस्या से सबसे ज्यादा मेट्रो सिटी में रहने वाले लोग होते है. क्योंकि इन शहरों में प्रदूषण का स्तर दूसरे शहरों की अपेक्षा हमेशा ही ज्यादा होता है.

लक्षण: स्किन एलर्जी के ज्यादातर लक्षण पीठ के ऊपरी हिस्से, पैर और हाथों में नजर आते हैं.

इलाज और रोकथाम: स्किन एलर्जी को एंटीहिस्टामाइन की मदद से रोका जा सकता है. स्किन एलर्जी से बचने के लिए घर से बाहर निकलते समय मास्क का उपयोग करना चाहिए. ऐसे स्थानों पर कम जाने की कोशिश करना चाहिए जहां पर प्रदूषण ज्यादा होता है. स्किन एलर्जी धूल के कण, पौधे, जानवरों के बाल और किसी दूसरे तत्व से हो सकती है.

4. हाइपरपिग्मेंटेशन

मानसून के सीजन में होने वाली कई गंभीर समस्याओं में से एक हाइपरपिग्मेंटेशन होती है. इसके कारण चेहरे की स्किन पर काले धब्बे या चकत्ते नजर आने लगते है. हाइपरपिग्मेंटेशन की समस्या तब होती है जब सूरज की तेज धूप के कारण मेलानोसाइट्स की सक्रियता बढ़ने लगती है.

मानसून में अपने स्किन केयर रुटीन में शामिल करें इन फ्रूट फैसपैक, दमकने लग जाएगी आपकी स्किन

लक्षण: चेहरे पर काले धब्बे नजर आते है.

इलाज और रोकथाम:  सूरज की धूप में निकलना बंद करके हाइपरपिग्मेंटेशन की समस्या को कम किया जा सकता है. कई बार ऐसा हर किसी के लिए संभव नहीं होता है तो ऐसे में बाजार में दवाएं और लेजर थेरेपी का ऑप्शन भी बाजार में मौजूद है.

5. फेशियल फॉलिक्युलिटिस

मानसून के दौरान कई बार बालों की जड़ों में घाव और जलन की समस्या हो जाती है. इस परेशानी को फेशियल फॉलिक्युलिटिस कहते है. इस समस्या के चलते बाल बेहद आसानी से टूटने लगते हैं.

लक्षण: बालों की मजबूती कम हो जाती है. जैसे ही आप कंघी करते है कई सारे बाल टूट कर गिर जाते है.

इलाज और रोकथाम: बालों की जड़ों में घाव होने के समस्या का मुख्य कारण बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन होता है. क्योंकि बारिश के दौरान ज्यादा पसीना, डिहाइड्रेशन और नमी के कारण इंफेक्शन (फंगल) का खतरा बढ़ जाता है. इस समस्या को बढ़ने से रोकने के लिए बालों को सूखा रखने की कोशिश करना चाहिए.

गलत तरीके से फल खाना आपको बीमार कर सकता है! न्यूट्रिशनिस्ट से जानें फलों का सेवन करने के 6 हेल्दी तरीके

सावधान! अश्वगंधा खाने के खतरनाक नुकसान-

6. हाइपरहाइड्रोसिस

बारिश के दौरान कई बार बगल, हथेलियों, चेहरे, प्राइवेट पार्ट्स और तलवों में बहुत ज्यादा पसीना निकलने की समस्या का सामना करना पड़ता है. इसके कारण पसीने की बदबू और स्किन इन्फेक्शन का होना का खतरा भी बढ़ जाता है.

लक्षण: शरीर में पसीना बहुत आता है.

इलाज और रोकथाम: हाइपरहाइड्रोसिस का बोटोक्स की मदद से किया जा सकता है, लेकिन बोटॉक्स का इलाज काफी महंगा होता है. इसके अपने खतरे भी होते है. अगर इन परेशानियों से दूर रहना चाहते है, तो बारिश के समय साफ सफाई पर फोकस करें.

Skin Care Tips: सेंसिटिव स्किन है तो इन 5 तरह के फेसपैक लगाने से बचें, खराब हो सकती है आपकी स्किन

7. बैक्टीरियल इंफेक्शन

बारिश के मौसम में गंदे पानी की समस्या भी बहुत परेशान करती है. गंदे पानी का कारण स्किन रोग होने की संभावना बढ़ जाती है.

लक्षण – बैक्टीरियल इंफेक्शन होने वाले तेज खुजली और शरीर पर बारीक दाने नजर आने लगते है.

इलाज और रोकथाम - इस परेशानी से बचने के लिए बारिश में स्किन पर नमी न जमा न होने दें. नमी के चलते खुजली और इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है. खुजली होने लगती है ऐसे में बाजार से दवाएं लेने से अच्छा है कि स्किन स्पेशलिस्ट के पास जाकर उनकी सलाह के आधार पर दवाएं ली जाए.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

पेट की चर्बी और मोटापा कम करना चाहते हैं, तो इन 5 टिप्स को फॉलो करने से ही बनेगी बात

Hair Fall Causes: बालों के झड़ने से परेशान हैं तो इन 5 चीजों का सेवन आज से ही कर दें बंद


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

थायराइड को कंट्रोल करने के लिए यहां है असरदार डाइट प्लान, जानें क्या खाएं और किन चीजों से करें परहेज

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

--------------------------------विज्ञापन---------------------------------- -