होम »  रिहैबिलिटेशन मेडिसिन »  तो क्या अब आसान हो जाएगा शराब की लत से छुटकारा पाना...

तो क्या अब आसान हो जाएगा शराब की लत से छुटकारा पाना...

लत में पड़ने के दौरान एथेनाल या शराब व्यक्ति के व्यवहार व दिमाग में कैसे बदलाव लाते हैं, यह समझना एक बड़ी चुनौती है.

तो क्या अब आसान हो जाएगा शराब की लत से छुटकारा पाना...

ऐसे बहुत से लोग हमने अपने आसपास देखे हैं जो किसी नशे की लत के शिकार हो गए हैं. वे इससे छुटकारा भी चाहते हैं लेकिन कई कारणों से ऐसा कर पाने में असफल होते हैं. लेकिन अब यह आसान हो सकता है. वैज्ञानिकों ने एक मस्तिष्क प्रोटीन की पहचान की है, जो व्यक्ति के शराब पीने की क्षमता से जुड़ा हुआ है. इन वैज्ञानिकों में एक भारतीय मूल का भी है. इस शोध से शराब की लत से परेशान लोगों के इलाज का मार्ग प्रशस्त हो सकता है.

शोधकर्ताओं के दल ने पाया कि मस्तिष्क प्रोटीन, जिसे एमयूएनसी 13-1 कहते हैं, वह शराब पीने की क्षमता के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है.


मुश्किल एक्सरसाइज नहीं ये 'आराम-फरोशी' बनाएगी दिल को जवां!

नींद पूरी नहीं करेंगे तो देनी होगी इसकी भारी कीमत!

सीओपीडी रोगियों के दिल को है खतरा, यूं रखें ख्याल


स्वस्थ लंबी उम्र चाहिए तो भरें लंबे-लंबे कदम
 

टेक्सास के ह्यूस्टन विश्वविद्यालय के जयदीप दास ने कहा, "शराब की लत दुनिया भर में सबसे महत्वपूर्ण मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं में एक है. लत में पड़ने के दौरान एथेनाल या शराब व्यक्ति के व्यवहार व दिमाग में कैसे बदलाव लाते हैं, यह समझना एक बड़ी चुनौती है."

दास बताते हैं कि इस अवस्था में इसके प्रति सहनशीलता विकसित होना एक महत्वपूर्ण कदम है.

उन्होंने कहा, "यदि कोई व्यक्ति एक बार शराब पीकर उसे बर्दाश्त कर सकता है तो वह दूसरी बार और फिर पीता है. यदि हम शराब को एमयूएनसी13-1से बंधने से रोक सकें तो यह शराबियों में शराब को बर्दाश्त करने की क्षमता घटाने में मददगार होगा. यदि हम शराब बर्दाश्त करने की क्षमता घटा सकें, तो शराब की लत लगने से भी रोक सकते हैं." (इनपुट आईएएनएस)

और खबरों के लिए क्लिक करें.
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------