होम »  लिविंग हेल्दी »  मुश्किल एक्सरसाइज नहीं ये 'आराम-फरोशी' बनाएगी दिल को जवां!

मुश्किल एक्सरसाइज नहीं ये 'आराम-फरोशी' बनाएगी दिल को जवां!

शोध से पता चला है कि रात में सात घंटा नींद लेने वाले वयस्कों में दिल का बुढ़ापा सबसे कम है. सात घंटे से कम या ज्यादा की नींद का संबंध दिल की जवानी से जुड़ा हुआ है.

मुश्किल एक्सरसाइज नहीं ये

खास बातें

  1. कम उम्र में ही दिल से जुड़े रोग होने लगे हैं
  2. इस स्थिति से बचने के उपाय भी हैं.
  3. इसके उपाय कोई मुश्किल एक्सरसाइज या योग नहीं बल्कि आरामदायक नींद है
जरा रूकिए, थोड़ा आराम करिए और खुद को रीफ्रेश महसूस करें. जी हां, हम रोज-रोज जिम जाते हैं, भारी भरकम वजन उठाते हैं, जमकर पसीना बहाने के लिए मुश्किल-मुश्किल एक्सरसाइज करते हैं, लेकिन क्या हो अगर हम आपसे कहें कि इसके बजाए आपका दिल आराम फरमाने से जवां और हेल्दी हो सकता है तो... 

आज की जीवनशैली ने सभी को किसी न किसी सेहत से जुड़ी परेशानी से रुबरु करा दिया है. उम्र में जवान युवाओं की जीवनशैली ने उनके शरीर को काफी बूढ़ा बना दिया है. दिन भर की भागदौड़ और गलत जीवनशैली ने युवाओं खासकर उनके दिल को प्रभावित किया है. कम उम्र में ही दिल से जुड़े रोग होने लगे हैं. लेकिन इस स्थिति से बचने के उपाय भी हैं. आप मानें या न मानें लेकिन इसके उपाय कोई मुश्किल एक्सरसाइज या योग नहीं बल्कि आरामदायक नींद हैं... 
 

सीओपीडी रोगियों के दिल को है खतरा, यूं रखें ख्याल


जी हां, हर रोज सात घंटे की नींद आप के दिल को जवां रख सकती है और साथ ही दिल संबंधी रोगों का जोखिम भी घटा सकती है. शोध से पता चला है कि रात में सात घंटा नींद लेने वाले वयस्कों में दिल का बुढ़ापा सबसे कम है. सात घंटे से कम या ज्यादा की नींद का संबंध दिल की जवानी से जुड़ा हुआ है, जबकि कम नींद लेने वालों के दिल में बूढ़ापन देखा गया है.

नींद की अवधि, दिल की उम्र के साथ मिलकर दिल संबंधी जोखिमों व नींद की अवधि के फायदे के संप्रेषण में मददगार साबित हो सकती है.

नींद पूरी नहीं करेंगे तो देनी होगी इसकी भारी कीमत!


अमेरिका के जार्जिया में इमोरी विश्वविद्यालय की जूलिया दुरमर ने कहा, "ये परिणाम महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि यह लोगों के दिल संबंधी जोखिमों के संचार व नींद की अवधि को शामिल करने के परिमाणात्मक पद्धति को प्रदर्शित करते हैं."

इस शोध का प्रकाश 'स्लीप' नामक पत्रिका में हुआ है. इसमें 12,775 वयस्कों के आंकड़ों को शामिल किया गया, जिनकी आयु 30 से 74 साल के बीच थी. (इनपुट आईएएनएस)

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------