होम »  मनसिक स्वास्थ्य »  Personality Disorders: बार-बार अंगुलियां चटकाने के पीछे हो सकती है यह बीमारी

Personality Disorders: बार-बार अंगुलियां चटकाने के पीछे हो सकती है यह बीमारी

पर्सनालिटी हर किसी व्‍यक्ति को अलग बनाती है. इसी से लोगों की पहचान बनती है. हमारे व्यवहार की शैली, हम बातों पर कैसे प्रतिक्रिया देते हैं, हमारे विचार, भावनाएं और रिश्तों को हम कैसे निभाते हैं, यह सभी हमारी पर्सनालिटी का हिस्सा हैं. ऐसे में अगर आपका व्‍यक्तित्‍व अलग-सा है, आप छोटी-छोटी बातों पर अजीब-सा व्‍यवहार करते हैं, बात-बात पर गुस्‍सा हो जाते हैं तो आपको पर्सनालिटी इश्‍यू हो सकते हैं.

Personality Disorders: बार-बार अंगुलियां चटकाने के पीछे हो सकती है यह बीमारी

पर्सनालिटी हर किसी व्‍यक्ति को अलग बनाती है. इसी से लोगों की पहचान बनती है. हमारे व्यवहार की शैली, हम बातों पर कैसे प्रतिक्रिया देते हैं, हमारे विचार, भावनाएं और रिश्तों को हम कैसे निभाते हैं, यह सभी हमारी पर्सनालिटी का हिस्सा हैं. ऐसे में अगर आपका व्‍यक्तित्‍व अलग-सा है, आप छोटी-छोटी बातों पर अजीब-सा व्‍यवहार करते हैं, बात-बात पर गुस्‍सा हो जाते हैं तो आपको पर्सनालिटी इश्‍यू हो सकते हैं.

Anger Management: इन 10 तरीकों से पाएं अपने गुस्‍से पर काबू

आइए जानते हैं कि पर्सनालिटी इश्‍यू का कैसे पता लगाया जाए:


  1. आपकी चाल से पता चल सकता है कि आप कितना कमजोर महसूस करते हैं

  2. बहुत से काम करने की लिस्‍ट बनाना

  3. खुद से बात करना

  4. अंगुलियां चटकाना

  5. नाखून कटकटाना

  6. हर चीज को लेकर निराशावादी होना

  7. सार्वजनिक रूप से तर्क देना

  8. आपके फोन की लत आपकी भावनात्मक स्थिरता को प्रकट कर सकती है

क्‍या है ऐंगज़ाइअटी डिसऑर्डर? जानें इसके प्रकार और कारण

अपनी पर्सनालिटी को बेहतर बनाने के लिए अपनी बात कहने के साथ-साथ दूसरों की बात सुनने की भी आदत डालें. खुद को ही हमेशा सही साबित करने की जिद्द से बचें. वहीं लोगों की आंखों में आंखें डालकर बात करने की कोशिश करें. बिना सोचे-समझे और माहौल को जानें अपनी प्रतिक्रिया देने से बचें.

सिज़ोफ्रेनिया: कारण और लक्षण, जिन्‍हें जानना है जरूरी

आपका व्यक्तित्व आपके विचारों, भावनाओं और व्यवहार का संयोजन होता है, जो आपको भीड़ में अलग पहचान बनाने में मदद करता है. आपकी पर्सनालिटी पर पड़ता असर आपकी बचपन की आदतें, आसपास का वातावरण, घटनाएं और आनुवंशिक भी हो सकता है.

पर्सनालिटी इश्‍यू से परेशान व्‍यक्ति अपना ध्‍यान भटकाने के लिए अल्‍कोहल का रूख कर सकता है, तनाव में जा सकता है या फिर डिप्रेशन का शिकार भी हो सकता है.

हेल्‍थ की और खबरों के लिए क्लिक करें

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------