होम »  लिविंग हेल्दी & nbsp;»  Hormones Balance: इनबैलेंस हार्मोन शरीर पर कहर बरपा सकते हैं, जानें संतुलित करने के 6 आसान और प्राकृतिक तरीके

Hormones Balance: इनबैलेंस हार्मोन शरीर पर कहर बरपा सकते हैं, जानें संतुलित करने के 6 आसान और प्राकृतिक तरीके

Ways To Balance Your Hormones: आज की तेज-तर्रार लाइफस्टाइल के साथ हार्मोनल इनबैलेंस आम हो गया है. इसके अलावा, कुछ हार्मोन उम्र के साथ कम हो जाते हैं. यहां हार्मोन्स को बैलेंस करने के कुछ तरीके बताए गए हैं.

Hormones Balance: इनबैलेंस हार्मोन शरीर पर कहर बरपा सकते हैं, जानें संतुलित करने के 6 आसान और प्राकृतिक तरीके

Hormones Balance: शरीर के बेहतर कामकाज में हार्मोन की बड़ी भूमिका होती है.

खास बातें

  1. शरीर के बेहतर कामकाज में हार्मोन की बड़ी भूमिका होती है.
  2. हार्मोन्स भूख, वजन को नियंत्रित करने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं.
  3. आज की तेज-तर्रार लाइफस्टाइल के साथ हार्मोनल इनबैलेंस आम हो गया है.

How To Balance Hormones Naturally: शरीर के बेहतर कामकाज में हार्मोन की बड़ी भूमिका होती है. शरीर में प्राकृतिक रसायनों के रूप में कार्य करते हुए, इंसुलिन, एस्ट्रोजन, डोपामाइन, एफएसएच और टीएसएच जैसे हार्मोन आपके मूड, बालों के विकास, वजन, प्रजनन स्तर, ऊर्जा, चिंता के लिए जिम्मेदार होते हैं. हार्मोन का आपके मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ता है. हार्मोन्स आपकी भूख, वजन और मनोदशा को नियंत्रित करने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं. आम तौर पर, आपकी अंतःस्रावी ग्रंथियां आपके शरीर में विभिन्न प्रक्रियाओं के लिए जरूरी हार्मोन की सटीक मात्रा का उत्पादन करती हैं. हालांकि, आज की तेज-तर्रार लाइफस्टाइल के साथ हार्मोनल इनबैलेंस आम हो गया है. इसके अलावा, कुछ हार्मोन उम्र के साथ कम हो जाते हैं. यहां हार्मोन्स को बैलेंस करने के कुछ तरीके बताए गए हैं.

Belly Fat घटाने के लिए सिट-अप्स एक्सरसाइज सबसे ज्यादा इफेक्टिव नहीं है, तो कौन सी हैं मददगार, यहां जानें

क्या आप हार्मोनल समस्याओं से पीड़ित हैं?


हमारा एंडोक्राइन सिस्टम हार्मोनल डिलीवरी को कंट्रोल करने के लिए सिंक में काम करता है और जब थोड़ी सी बेमेल या कमी होती है, तो इससे स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं हो सकती हैं. हालांकि, उपचार के सिंथेटिक रूप हमेशा आपके लाभ के लिए काम नहीं कर सकते हैं और कुछ मामलों में, दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं.

एक अच्छी खबर है कि आपके हार्मोन को बैलेंस करने और आपके शरीर को अच्छी तरह से काम करने के लिए कुछ प्राकृतिक तरीके हैं. गोलियां, पैच, ड्रिंक या इंजेक्शन के उपयोग के बिना, उन्हें स्वाभाविक रूप से बैलेंस करने के कुछ तरीके यहां दिए गए हैं.


चाय के शौकीनों को चाय से जुड़े इन 5 मिथ्स पर नहीं करना चाहिए विश्वास, ये अफवाह के सिवा कुछ नहीं

सही खाएं (Eat Right)

जब आप अच्छा खाते हैं, तो यह आपके शरीर पर रिफ्लेक्टिव होता है और जब आप नहीं करते हैं, तो इसकी क्षति के पहले लक्षण अंतःस्रावी तंत्र पर दिखाई देते हैं. यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके हार्मोन कम सक्रिय या अति सक्रिय नहीं हैं, आपकी प्लेट में कई ग्रुप्स के सही पोषक तत्व और भोजन होना जरूरी है.

भरपूर प्रोटीन, फाइबर युक्त भोजन करें और कार्ब्स और एक्स्ट्रा शुगर में कटौती करें. साथ ही, अपनी डाइट में हेल्दी फैट को शामिल करना भी महत्वपूर्ण है, जो हार्मोन प्रोडक्शन को बढ़ावा देता है. कैफीन और डेयरी जैसे खाद्य पदार्थ, अगर अधिक मात्रा में सेवन किए जाते हैं, तो इससे हार्मोनल असंतुलन हो सकता है.

साथ ही, ग्रीन टी शरीर में एंटीऑक्सिडेंट की आपूर्ति करने, घ्रेलिन, इंसुलिन जैसे हार्मोन लेवल को कम करने और शरीर में कोर्टिसोल लेवल को मैनेज करने में मददगार पाई गई है.

रिफाइंड ऑयल की तुलना में जैतून का तेल क्यों फायदेमंद है? यहां जानें ऑलिव ऑयल के गजब फायदे

ज्यादा खाने और कम खाने से बचें (Avoid Overeating And Undereating)

अकुशल वेट मैनेजमेंट और खराब खान-पान की आदतों के कारण भी हार्मोनल बदलाव होते हैं. बहुत अधिक या बहुत कम खाने से भी समस्याएं हो सकती हैं, इंसुलिन लेवल बढ़ सकता है, कोर्टिसोल का उत्पादन हो सकता है और आपके मेटाबॉलिज्म पर असर पड़ सकता है. आपकी उम्र, लिंग और स्वास्थ्य के आधार पर, सही कैलोरी बैलेंस बनाए रखना और सही खाना महत्वपूर्ण है.

नियमित रूप से व्यायाम करें (Exercise Regularly)

व्यायाम न केवल आपको फिट रखता है बल्कि सही हार्मोनल संतुलन सुनिश्चित करने में भी सक्रिय रूप से काम करता है. नियमित शारीरिक गतिविधि में संलग्न रहना आपको फिट रखता है, एक्स्ट्रा फैट से लड़ता है, एंटी इफ्लेमेटरी हार्मोन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है और इंसुलिन संवेदनशीलता को भी बढ़ाता है.

एरोबिक्स, स्ट्रेंथ ट्रेनिंग और एंड्योरेंस एक्सरसाइज जैसे जोरदार वर्कआउट, विशेष रूप से, हार्मोन लेवल और जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने में बहुत मददगार होते हैं.

मटर और टमाटर ही नहीं ये चीजें भी बढ़ाती हैं यूरिक एसिड लेवल, जानें गाउट रोगी क्या खाएं और क्या नहीं

डॉक्‍टरों ने कहा था Count Your Days,अब कैंसर को हरा खुशियां गिन रहा है अमित

तनाव को बेहतर तरीके से मैनेज करें (Manage Stress Better)

अनियमित कार्यक्रम, बिजी लाइफस्टाइल या तनाव का कारण बनती हैं. अगर समय पर इलाज नहीं किया जाता है, तो समस्याएं पुरानी हो सकती हैं. जब शरीर तनाव में होता है, तो हार्मोन का उत्पादन भी प्रभावित होता है.जब उन्हें समय पर नियंत्रित नहीं किया जाता है, तो वे कहर बरपा सकते हैं. इसलिए, तनाव को मैनेज करना जरूरी है. हार्मोनल संतुलन को बढ़ावा देने के लिए ध्यान, योग, थेरेपी या केवल वर्कआउट को उपयोग में लाने की जरूरत है.

बिना जिम के घर पर रोज करें ये 10 आसान एक्‍सरसाइज, कंट्रोल में रहेगा आपका कंट्रोल

बेहतर नींद लें (Sleep Better)

अगर आपको लगता है कि पर्याप्त नींद न लेना आपको सुबह के समय परेशान कर रहा है, तो फिर से सोचें. असमान नींद पैटर्न भी आपके हार्मोन को संभावित नुकसान पहुंचा सकता है. बिना असफल हुए अपनी नींद को प्राथमिकता देना नितांत महत्वपूर्ण है. जब आप झपकी लेते हैं, तो शरीर विषाक्त पदार्थों से लड़ता है और शरीर को महत्वपूर्ण हार्मोन के साथ रिचार्ज करता है. जब आप ठीक से नींद नहीं लेते हैं, तो आप अपने स्वास्थ्य को जोखिम में डालते हैं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Raksha Bandhan 2021: दमकती त्वचा पाने के लिए रक्षाबंधन से पहले अपनाएं ये स्किन केयर रूटीन

Raksha Bandhan 2021: रक्षाबंधन पर फिटनेस फ्रीक भाई को दें ये तोहफे


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Weight Loss Tips: वेट लॉस को आसान बनाने में ये 4 जड़ी-बूटियां कर सकती हैं आपकी मदद

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

--------------------------------विज्ञापन---------------------------------- -