होम »  कैंसर »  कैंसर मरीजों के लिए नई उम्मीद है टेस्टोस्टेरोन थेरेपी...

कैंसर मरीजों के लिए नई उम्मीद है टेस्टोस्टेरोन थेरेपी...

कैंसर मरीजों में अक्सर वसा और कंकाल की मांसपेशियों की तेज गति से क्षरण होता है.

कैंसर मरीजों के लिए नई उम्मीद है टेस्टोस्टेरोन थेरेपी...

कैंसर के मरीजों में शरीर द्रव्यमान सूचकांक (बॉडी मास) में कमी से निपटने में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन से इलाज प्रभावी हो सकता है और इससे जीवन की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है. एक शोध में पता चला है. कैंसर से जुड़ी करीब 20 फीसदी मौतें कैचेक्सिया सिंड्रोम की वजह से होती है, जिसमें कैंसर मरीजों में अक्सर वसा और कंकाल की मांसपेशियों की तेज गति से क्षरण होता है.

शोध का यह निष्कर्ष महत्वपूर्ण है, क्योंकि वर्तमान में कंकाल मांसपेशियों के नुकसान को ठीक करने के लिए कोई स्थापित थेरेपी नहीं है. इससे मरीजों की मांसपेशी काम करना बंद कर देती या कमजोर हो जाती है.
 

साथी के करीब आने के लिए कौन-सा मौसम है बेहतर?
 


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

रात से ज्‍यादा बेहतर हैं सुबह के ‘वो खास पल’...


अमेरिका की टेक्सास विश्वविद्यालय की चिकित्सा शाखा की मेलिंडा शेफील्ड-मूरे ने कहा, "हम उम्मीद के साथ बताना चाहते हैं कि ये मरीज जो अपने बिस्तर से उठ पाने में सहज नहीं महसूस करते कम से कम वे जीवन की मूल गुणवत्ता पाने में समर्थ होंगे, जिससे कि वह अपना ख्याल रखें और इलाज प्राप्त करें."
 

सेक्‍स के दौरान होने वाली इन कॉमन इन्‍जरी के बारे में जानते हैं आप...

उन्होंने कहा कि पहले पोषण आधारित उपचार मरीजों के शरीर के वजन घटने से रोकने में विफल रहा.
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------