होम »  लिविंग हेल्दी »  खर्राटों और स्लीप एपनिया को दूर करेगा बस एक फेस मास्क...

खर्राटों और स्लीप एपनिया को दूर करेगा बस एक फेस मास्क...

अगर आप भी खर्राटों (Snoring Problem) और स्लीप एपनिया (Sleep Apnea) से परेशान हैं, तो आपके लिए यह अच्छी खबर साबित हो सकती है.

खर्राटों और स्लीप एपनिया को दूर करेगा बस एक फेस मास्क...

फेस मास्क (Face Mask) को सीपीएपी मशीन भी कहा जाता है.

अगर आप भी खर्राटों (Snoring Problem) और स्लीप एपनिया (Sleep Apnea) से परेशान हैं, तो आपके लिए यह अच्छी खबर साबित हो सकती है. धकर्ताओं ने पाया है कि रात के समय चेहरे पर मास्क लगाना उन लोगों के ऊर्जा स्तर और जीवन शक्ति में सुधार कर सकता है, जो स्लीप एपनिया से पीड़ित हैं. स्लीप एपनिया एक ऐसी बीमारी है जिसमें रात को सोते समय सांस लेने में तकलीफ और खर्राटे आने की शिकायत रहती है. फेस मास्क (Face Mask) को सीपीएपी मशीन भी कहा जाता है. यह वर्तमान में केवल उन लोगों के लिए ही अनुशंसित है, जिनकी स्लीप एपनिया मध्यम स्तर से गंभीर हो चुकी है.

Snoring: खर्राटों से हैं परेशान तो ऐसे करें इलाज, जानें क्यों आते हैं खर्राटे

अध्ययन द लांसेट रेस्पिरेटरी मेडिसिन पत्रिका में प्रकाशित हुआ है, जिसके लिए इंपीरियल कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं ने ब्रिटेन के 11 राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) स्लीप सेंटर से 200 से अधिक रोगियों को शामिल किया. उन्होंने स्लीप एपनिया से जुड़े मध्यम मामलों में उपचार के विभिन्न पहलुओं की जांच की.


क्या होता है स्लीप एपनिया (What is Sleep Apnea)

स्लीप एपनिया विश्व स्तर पर एक अरब से अधिक वयस्कों को प्रभावित करता है और नींद के दौरान वायु मार्ग बहुत संकीर्ण हो जाता है, जिससे लोग रात में कई बार सांस लेना बंद कर देते हैं. यह जोर से खर्राटे आने का कारण भी बन सकता है. शोधकर्ताओं के अनुसार, इसका उपचार मास्क है जो नाक या मुंह पर फिट किया जाता है. इसे एक निरंतर सकारात्मक वायुमार्ग दबाव (सीपीएपी) मशीन कहा जाता है, जो सांस लेने के मार्ग को खुला रखते हुए धीरे-धीरे मुंह और गले में हवा को धकेलता है. अध्ययन में 115 रोगियों को तीन महीने के लिए सीपीएपी का उपयोग करने के लिए कहा गया था, जिसमें उन्हें स्लीप एपनिया के मामलों में काफी सुधार देखने को मिला.

Turmeric Milk: हल्दी वाला दूध क्यों है गोल्डन मिल्क, जानें बनाने की विधि

snoring

What is Sleep Apnea: स्लीप एपनिया विश्व स्तर पर एक अरब से अधिक वयस्कों को प्रभावित करता है

स्लीप एपनिया का खतरा (Sleep Apnea Risk Factors)

अध्ययन के मुख्य लेखक मैरी मोरेल ने कहा, "हम स्लीप एपनिया और इसके रोगियों के बढ़ते मामलों को देख रहे हैं. पहले हालांकि यह मुख्य रूप से अधिक वजन वाले पुरुषों को प्रभावित करता रहा है. अब हम जानते हैं कि इसका असर रजोनिवृत्ति के बाद महिलाओं, बुजुर्गो और यहां तक कि बच्चों पर भी होता है." मोरेल ने कहा, "स्लीप एपनिया के सभी मामलों में लगभग 60 फीसदी मामलों को हल्के के रूप में वर्गीकृत किया जाता है, लेकिन अब तक हमें नहीं पता था कि सीपीएपी इन रोगियों के लिए मददगार होगा या नहीं."

Sleeping Tips: कम नींद लेने से बढ़ सकता है मोटापा और ब्लड प्रेशर, जानें और क्या होते हैं नुकसान

शोधकर्ताओं ने सीपीएपी का उपयोग करने वाले रोगियों में थकान, अवसाद, सामाजिक और भावनात्मक कामकाज सहित कई अतिरिक्त कारकों में सुधार देखा. (इनपुट-आईएएनएस)

क्‍या होते हैं सपने? क्‍यों देखते हैं हम सपने? जानिए सपनों से जुड़े कुछ मजेदार फैक्‍ट्स

Type 2 Diabetes: शरीर में बढ़े हुए इंसुलिन को इन नेचुरल तरीकों से घटाएं, ब्लड शुगर भी होगा कंट्रोल! 

Blood Circulation: ब्लड सर्कुलेशन बेहतर करेंगे ये 4 सुपरफूड्स, दिल की बीमारियां रहेंगी दूर!

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------