होम »  लिविंग हेल्दी »  दिलबर है तो हेल्दी रहेगा दिल, ये हम नहीं शोध कहता है...

दिलबर है तो हेल्दी रहेगा दिल, ये हम नहीं शोध कहता है...

शादीशुदा लोगों में हृदय रोग का खतरा कम रहता है.

दिलबर है तो हेल्दी रहेगा दिल, ये हम नहीं शोध कहता है...

हमने अक्सर प्रेमी या साथी के लिए दिलबर शब्द का इस्तेमाल करते हैं. हाल ही में हुई एक शोध ने इसके अर्थ को और भी सही साबित कर दिया. इस अध्ययन में दावा किया गया है कि शादी से लोगों को दिल की बीमारियों और स्ट्रोक से बचने में मदद मिल सकती है. ‘हार्ट’ नाम की पत्रिका में यह अध्ययन प्रकाशित हुआ है. शादीशुदा जिंदगी के प्रभाव पर पिछले शोधों में मिले-जुले नतीजे सामने आए थे. इन मुद्दों पर स्पष्टता लाने के लिए वैज्ञानिकों ने प्रासंगिक प्रकाशित अध्ययनों के लिए शोध डेटाबेस को खंगाला.
 

क्या है सिकल सेल, इसके इलाज, कारण और लक्षण...

आखिर बालों को कितना नुकसान पहुंचा सकते हैं केमिकल बेस्ड प्रॉडक्ट...

करीब 80 फीसदी हृदय रोगों के पीछे उम्र, लिंग, उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल, धूम्रपान और मधुमेह जैसे कारक जिम्मेदार होते हैं. बहरहाल, यह साफ नहीं है कि बाकी 20 फीसदी मामले क्यों सामने आते हैं. ब्रिटेन की कीले यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पिछले शोध का भी सहारा लिया जिसमें यूरोप, स्कैंडिनेविया, उत्तरी अमेरिका, पश्चिम एशिया और एशिया के 42 से 77 साल की उम्र के करीब 20 लाख लोग शामिल थे. 
Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ये है एक रेयर ट्यूमर, महज 0.5 फीसदी लोग होते हैं शिकार, दिल्ली में हुआ सफल इलाज...


Lymphatic Filariasis: मच्छरों से सावधान! वायरस ही नहीं ये भयंकर रोग भी फैलाते हैं मच्छर


आंकड़ों से खुलासा हुआ कि जिन्होंने जीवनसाथी को हमेशा के लिए खो दिया था, तलाकशुदा थे या कभी शादी नहीं की थी, उनमें हृदय रोगों का खतरा ज्यादा था. शादीशुदा नहीं होने से दिल का दौरा पड़ने का भी खतरा ज्यादा रहता है. इसी शोध में निष्कर्ष निकला कि शादीशुदा लोगों में हृदय रोग का खतरा कम रहता है.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------