होम »  लिविंग हेल्दी »  Mini Workout: समय की कमी है, तो काम के साथ अपनी फिटनेस को मेंटेन रखने के लिए इन 5 मिनी वर्कआउट को आजमाएं

Mini Workout: समय की कमी है, तो काम के साथ अपनी फिटनेस को मेंटेन रखने के लिए इन 5 मिनी वर्कआउट को आजमाएं

Short Workouts: वर्कआउट के फायदे हम सभी जानते हैं. यह आपको फिट, एक्टिव, एनर्जेटिक रखता है. आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और आपको कई बीमारियों से बचाता है. बहुत से लोग अपने ज्यादातर काम के घंटे अपने डेस्क पर बैठे रहते हैं, जिसके कई नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव होते हैं.

Mini Workout: समय की कमी है, तो काम के साथ अपनी फिटनेस को मेंटेन रखने के लिए इन 5 मिनी वर्कआउट को आजमाएं

Mini Workout: वर्कआउट आपको फिट, एक्टिव, एनर्जेटिक रखता है.

Daily Workouts: वर्कआउट के फायदे हम सभी जानते हैं. यह आपको फिट, एक्टिव, एनर्जेटिक रखता है. आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और आपको कई बीमारियों से बचाता है. बहुत से लोग अपने ज्यादातर काम के घंटे अपने डेस्क पर बैठे रहते हैं, जिसके कई नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव होते हैं. आपको जो चाहिए वह है कुछ घूमना और एक क्वालिटी वर्कआउट जो आपके शरीर को एक्टिव रखेगा. हालांकि, अपने व्यस्त जीवन के कारण बहुत से लोगों के पास खाना बनाने या अपने परिवार के साथ समय बिताने जैसी सबसे बुनियादी चीजों के लिए हमेशा समय की कमी होती है. ऐसे में वर्कआउट करना दूर की कौड़ी लगता है, लेकिन क्या कोई समाधान है जो आपको अपने दूसरे कामों को करने के साथ-साथ एक क्वालिटी एक्सरसाइज का समय देता है? जी हां कुछच मिनी वर्कआउट हैं जो आपकी बॉडी को फिट रखने में मदद कर सकते हैं.

Dates Side Effects: खजूर खाने के शौकीन हैं तो रुक जाइए, इन 5 लोगों को नहीं करना चाहिए इसका सेवन

मिनी-वर्कआउट के स्वास्थ्य लाभ | Health Benefits Of Mini Workouts


कुछ मिनी-वर्कआउट ऑप्शन के जानने से पहले, यहां उनके कुछ स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानें.

  • सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण यह आपकी संपूर्ण फिटनेस में सुधार करता है. 50 मिनट या 5 मिनट, जो महत्वपूर्ण है वह यह है कि आपको एक क्वालिटी वर्कआउट मिल रहा है.
  • इन मिनी-वर्कआउट्स के पीछे का विचार यह है कि यह कम समय में क्वालिटी एक्सरसाइज सुनिश्चित कर सकता है. इसलिए, इन्हें आपके दैनिक कार्यक्रम में शामिल करना आसान है.
  • ये वर्कआउट सेशन छोटे हैं, इसलिए संभावना है कि आप इससे हमेशा चिपके रहेंगे. यह बहुत जरूरी है क्योंकि जब फिटनेस की बात आती है, तो निरंतरता महत्वपूर्ण होती है.

इनके अलावा, ये मिनी-वर्कआउट आपको किसी दूसरी वर्कआउट के स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करेंगे. वजन घटाने और मैनेज करने के अलावा यह हृदय रोग, टाइप -2 डायबिटीज, स्ट्रोक, ब्लड प्रेशर आदि जैसे गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं के होने के आपके जोखिम को कम करता है. यह मूड को बढ़ाता है, मानसिक स्वास्थ्य के समस्याओं के जोखिम को कम करता है और गुणवत्ता में सुधार करता है.

शरीर में अचानक से दिख रहे हैं ये 10 बदलाव, तो हो सकता है डायबिटीज का अलार्म

मिनी-वर्कआउट ऑप्शन | Mini-Workout Option

1. हाई इंटेसिटी इंटरवल ट्रेनिंग (HIIT)

ये वर्कआउट थोड़े समय के अंतराल में हाई-इंटेसिटी वाले वर्कआउट के लिए डिजाइन किए गए हैं. इसमें आप कम अंतराल में एक मूव से दूसरी मूव में स्विच करते हैं. यहां 5 मिनट रूटीन है जिसे आप आजमा सकते हैं.

2. पल्सिंग जंप स्क्वाट

  • इसके लिए सबसे पहले स्क्वाट पोजीशन में आ जाएं.
  • फिर जितना हो सके जंप से पहले दो बार पल्स करें.
  • ऐसा 20-25 बार करें.
  • इसके बाद अगले स्टेप में जंप करने से पहले कुछ सेकंड के लिए आराम करें.

3. फ्रोग जंप

  • पुश-अप स्थिति में शुरू करें.
  • फिर कूदें और अपने पैरों को अपनी हथेलियों के पास ले आएं, जो उसी स्थिति में रहना चाहिए.
  • पुश-अप पोजीशन में वापस जाएं.
  • इसे 20 बार दोहराएं.

4. वर्टिकल जंप

  • खड़े होने की स्थिति में आएं.
  • अपनी उंगलियों से जमीन को छूने के लिए नीचे उतरें.
  • अपनी आर्म्स को ऊपर उठाकर उठें और कूदें.
  • ऐसा ही 20 बार दोहराएं.

Weight Loss: फ्लैट टमी और फिट बॉडी पाने के लिए दही का सेवन है कमाल, इन तरीकों से करें डाइट में शामिल

5. हाई नी

  • खड़े होने की पॉजिशन में शुरुआत करें.
  • अपने अग्रभाग को अपने सामने इस प्रकार फैलाएं कि वह आपकी आर्म्स से लगभग 90° का कोण बना लें.
  • एक के बाद एक पैर पर कूदना शुरू करें ताकि आप अपनी जांघों को अपनी हथेलियों को छूने के लिए ला सकें.
  • 35 से 40 बार दोहराएं.

6. जंपिंग जैक प्लैंक

  • फोरआर्म प्लैंक में शुरू करें.
  • अपने कोर को मजबूत रखते हुए दोनों पैरों पर कूदें.
  • ऐसा 30 बार करें.

Hernia क्या है? लक्षण, कारण, इलाज, बचाव और उपचार, डॉक्टर से जानें सवालों के जवाब

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Menopause के दौरान शरीर में होने वाले बदलाव, किन बातों का रखें ध्यान, डॉक्टर से कब मिलना चाहिए

Cinnamon Side Effects: रोजाना दालचीनी का सेवन करने के इन साइडइफेक्ट्स पर भी रखें नजर


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Red Rice पाचन में है मददगार, Diabetes रोगियों के लिए भी फायदेमंद, जानें 5 शानदार स्वास्थ्य लाभ

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

घरेलू नुस्खे

Skin Care Routine: रात में चेहरे पर क्या लगाएं जिससे स्किन बन जाती है मुलायम, साफ और चमकदार, जानें

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------