होम »  लिविंग हेल्दी »  किसी को भी हो सकता है Breast Cancer, लेकिन बचाव के लिए आपको ये 6 काम तो करने ही चाहिए

किसी को भी हो सकता है Breast Cancer, लेकिन बचाव के लिए आपको ये 6 काम तो करने ही चाहिए

Breast Cancer Awareness Month: स्तन कैंसर दुनिया भर में महिलाओं की मौत के प्रमुख कारणों में से एक है, लेकिन कुछ निवारक उपाय हैं जो उनके जीवन को बढ़ा सकते हैं, और नियमित जांच उनमें से एक है. लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव से स्तन कैंसर के खतरे को कम कर सकते हैं.

किसी को भी हो सकता है Breast Cancer, लेकिन बचाव के लिए आपको ये 6 काम तो करने ही चाहिए

Breast Cancer Awareness Month: ब्रेस्ट कैंसर के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं.

Breast Cancer Awareness Month: ब्रेस्ट कैंसर के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. स्तन कैंसर के बढ़ते मामलों ने महिलाओं में सर्वाइकल कैंसर के मामलों को भी पीछे छोड़ दिया है. भारतीय महिलाओं में लगभग 14% कैंसर से पीड़ित हैं. हर 4 मिनट में एक भारतीय महिला को ब्रेस्ट कैंसर का पता चलता है. यह शहरी और ग्रामीण भारत दोनों में बढ़ रहा है. जितनी जल्दी इसका निदान किया जाता है, उतना ही बेहतर होता है. स्तन कैंसर दुनिया भर में महिलाओं की मौत के प्रमुख कारणों में से एक है, लेकिन कुछ निवारक उपाय हैं जो उनके जीवन को बढ़ा सकते हैं, और नियमित जांच उनमें से एक है.  ब्रेस्ट कैंसर के लिए कई जोखिम कारक हैं. कुछ परिवर्तनीय हैं और कुछ गैर-परिवर्तनीय हैं. जिन कारकों को हम बदल नहीं सकते हैं उनमें शामिल हैं.

  • वृद्ध होना
  • देर से रजोनिवृत्ति होना
  • स्तन या डिम्बग्रंथि के कैंसर का पारिवारिक इतिहास होना
  • जेनेटिक कारक

हम इन जोखिमों के बारे में बहुत कुछ नहीं कर सकते हैं, लेकिन स्तन कैंसर के विकास के जोखिम को कम करने के लिए अन्य जोखिम कारकों को संशोधित किया जा सकता है. इस बात के प्रमाण हैं कि लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव निश्चित रूप से जोखिम को कम कर सकते हैं. यहां कुछ लाइफस्टाइल चेंजेस के बारे में बताया गया है जिन्हें स्तन कैंसर की रोकथाम के लिए अपनाया जा सकता है.


High Uric Acid को कंट्रोल करने और जोड़ों के दर्द को कम करने में मददगार हैं ये 5 आयुर्वेदिक उपाय

शराब का सेवन कम करना: इस बात के पर्याप्त प्रमाण हैं कि शराब पीने से स्तन कैंसर का खतरा बढ़ सकता है. इसलिए बेहतर यही होगा कि आप शराब का सेवन बिल्कुल न करें.

शारीरिक रूप से सक्रिय रहना: शारीरिक गतिविधि के लिए डेली रूटीन रखने से निश्चित रूप से कैंसर का खतरा सामान्य रूप से कम हो जाता है. इस लाभ का संभावित कारण ज्ञात नहीं है, लेकिन शरीर के वजन, वसा, सूजन, हार्मोन और ऊर्जा के स्तर पर व्यायाम के प्रभावों में योगदान दिया जा सकता है.

हेल्दी वेट बनाए रखना: बॉडी मास इंडेक्स या बीएमआई समझने के लिए एक अच्छा पैरामीटर है. माना जाता है कि महिलाओं में 85 सेमी से कम की कमर परिधि के साथ 24 से कम के हेल्दी बीएमआई को बनाए रखने से जीवन शैली से संबंधित कई विकारों के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है.

Weight Loss Mistakes: वजन घटाने के दौरान कर रहे हैं ये 5 गलतियां, तो आप खुद को दे रहे हैं धोखा

स्तनपान और इसे लंबे समय तक बनाए रखना: किसी के बच्चे को स्तनपान कराने से निश्चित रूप से स्तन कैंसर के खिलाफ सुरक्षात्मक प्रभाव पड़ता है. ऐसा कहा जाता है कि अगर इसे 1 साल से अधिक समय तक जारी रखा जाए तो जोखिम और कम हो सकता है.

गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन सीमित करना: गर्भनिरोधक गोलियों का उपयोग करने वाली महिलाओं में स्तन कैंसर के खतरे में थोड़ी वृद्धि हो सकती है. इसलिए इनका सेवन सीमित करना बहुत जरूरी है.

डाइट: ज्यादातर स्वास्थ्य समस्याओं को दूर रखने के लिए अच्छी तरह से संतुलित भोजन अच्छा काम करता है. कोई भी डाइट स्तन कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद नहीं कर सकता है लेकिन फैटी भोजन से बचना चाहिए. साबुत अनाज के साथ प्लांट बेस्ड डाइट का सेवन करना चाहिए.

कुछ अन्य कारक जो संभावित रूप से जोखिम को बढ़ाने में योगदान दे सकते हैं उन्हें बड़े पैमाने पर एक समाज के रूप में कम करना होगा. उदाहरण के लिए, प्लास्टिक, ब्यूटी प्रोडक्ट्स, कॉस्मेटिक्स, कीटनाशक, पॉलीक्लोरीनयुक्त बाइफिनाइल आदि में पाए जाने वाले रसायन और पदार्थ स्तन कैंसर के जोखिम को प्रभावित कर सकते हैं. इनका एक्सपोजर जहां तक ​​संभव हो सीमित होना चाहिए.

Stomach Health Tips: अपच की समस्या तो इन 7 फूड्स को बिल्कुल न खाएं, और खराब हो सकता है पेट

सावधान! अश्वगंधा खाने के खतरनाक नुकसान

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Diabetes रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है ये एक चीज, पाचन, स्किन, दिल के लिए भी कमाल

Vitamin D: सिर्फ हड्डियां ही नहीं, विटामिन डी आपकी स्किन के लिए भी है फायदेमंद


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

क्या आप जानते हैं कि वर्कआउट से पहले कौन से 5 काम नहीं करने चाहिए? यहां बताया गया है

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------