होम »  डायबिटीज »  बच्चों में भी बढ़ रहे हैं डायबिटीज के मामले, क्या हैं लक्षण, इलाज और बचाव

बच्चों में भी बढ़ रहे हैं डायबिटीज के मामले, क्या हैं लक्षण, इलाज और बचाव

बच्चों में टाईप 1 मधुमेह की संभावना ज्यादा रहती है. जी हां, बच्चों में मधुमेह या डायबिटीज आजकल एक आम सी समस्या बन गई है. 

बच्चों में भी बढ़ रहे हैं डायबिटीज के मामले, क्या हैं लक्षण, इलाज और बचाव

विश्व मधुमेह दिवस पर खास: डायबिटीज मेलिटस बेहद गंभीर मैटाबोलिक विकार है, जिसके चलते शरीर में शुगर यानी काबोर्हाइड्रेट का अपघटन सामान्य रूप से नहीं होता. इसका बुरा असर दिल, नसों, किडनी और न्यूरोलॉजिकल सिस्टम पर पड़ सकता है. अगर डायबिटीज लंबे समय से है तो मरीज की आंखों पर इसका असर हो सकता है और उसके देखने की क्षमता भी जा सकती है. डायबिटीज या मधुमेह दो तरह का होता है. एक टाईप 1 और दूसरा टाईप 2. दोनों तरह का मधुमेह किसी भी उम्र में हो सकता है, लेकिन बच्चों में टाईप 1 मधुमेह की संभावना ज्यादा रहती है. जी हां, बच्चों में मधुमेह या डायबिटीज आजकल एक आम सी समस्या बन गई है. 

World Diabetes Day 2018: क्यों होता है डायबिटीज, मधुमेह के प्रकार और ब्लड शुगर लेवल को कम करने के घरेलू नुस्खे

बच्चों में मधुमेह की समस्या के लक्षण-  
बच्चों को आमतौर पर थकान, सिर में दर्द, ज्यादा प्यास लगने, ज्यादा भूख लगने, व्यवहार में बदलाव, पेट में दर्द, बेवजह वजन कम होने, खासतौर पर रात के समय बार-बार पेशाब आने, यौन अंगों के आस-पास खुजली होने पर उनमें मधुमेह के लक्षणों को पहचाना जा सकता है. बच्चों में टाईप 1 डायबिटीज के लक्षण कुछ ही सप्ताहों में तेजी से बढ़ जाते हैं. टाईप 2 मधुमेह के लक्षण धीरे-धीरे बढ़ते हैं और कई मामलों में महीनों या सालों तक इनका निदान नहीं हो पाता.


Weight Loss: अब वजन घटाएगी हल्‍दी, बैली फैट को करेगी कम

बच्चों में मधुमेह या डायबिटीज का इलाज - 
डायबिटीज से पीड़ित बच्चों को इंसुलिन थेरेपी दी जाती है. अक्सर निदान के पहले साल में बच्चे को इंसुलिन की कम खुराक दी जाती है. इसे 'हनीमून पीरियड' कहा जाता है. आमतौर पर बहुत छोटे बच्चों को रात में इंजेक्शन नहीं दिए जाते, लेकिन उम्र बढ़ने के साथ रात को इंसुलिन शुरू किया जाता है.

Home Remedies: दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा, कैसे बचाएं खुद को, पढ़ें नुस्खे

बच्चों में होता है टाईप 2 डायबिटीज का भी खतरा- 
मोटे बच्चों में टाईप 2 मधुमेह की संभावना अधिक होती है. गतिहीन जीवनशैली के कारण शरीर इंसुलिन और रक्तचाप पर नियन्त्रण नहीं रख पाता. चीनी से युक्त खाद्य एवं पेय पदार्थों का सेवन सीमित मात्रा में करें. ज्यादा चीनी से बने खाद्य पदार्थों के सेवन ने वजन बढ़ता है, जो शरीर में इंसुलिन स्तर के लिए खतरनाक है. विटामिन और फाईबर से युक्त संतुलित, पोषक आहार के सेवन से टाईप 2 डायबिटीज की संभावना को घटाया जा सकता है. (इनपुट-आईएएनएस)

और खबरों के क्लिक करें.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------