होम »  तंबाकू कंट्रोल »  सिगरेट के नुकसान से बचना है तो आहार में शामिल करें ये...

सिगरेट के नुकसान से बचना है तो आहार में शामिल करें ये...

रोजाना दो से ज्यादा टमाटर या ताजे फल खाएं, खासतौर से सेब. इन्‍हें खाने से फेफड़ों को हुए नुकसान की भरपाई हो जाती है.

सिगरेट के नुकसान से बचना है तो आहार में शामिल करें ये...

सिगरेट से होने वाले नुकसान की भरपाई कर सकते हैं टमाटर और सेब

खास बातें

  1. फेफड़ों को बचाना है तो स‍िगरेट पीना छोड़ द‍ीज‍िए
  2. सिगरेट से जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई के ल‍िए फल खाइए
  3. खासतौर पर सेब और टमाटर को डाइट में शामिल करने से फायदा होगा
अगर आप सिगरेट पीते हैं या कभी पिया करते थे, तो यकीनन इससे आपकी सेहत को काफी नुकसान हुआ होगा. इसका सबसे ज्‍यादा नुकसान फेफड़ों को होता है. अगर आप इस बात को लेकर परेशान हैं तो सबसे पहले सिगरेट पीना छोड़ दीजिए. अब सवाल यह उठता है कि सिगरेट पीने से अब तक जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई कैसे होगी? तो जवाब है कि रोजाना दो से ज्यादा टमाटर या ताजे फल खाएं, खासतौर से सेब. इन्‍हें खाने से फेफड़ों को हुए नुकसान की भरपाई हो जाती है. एक रिसर्च के निष्कर्षों से पता चलता है कि जो लोग सिगरेट छोड़ देते हैं और टमाटर और फल ज्यादा खाने लगते हैं, उनमें 10 साल में फेफड़ों की कार्यप्रणाली में गिरावट कम होती है.

 
tomatoes


कमजोर फेफड़ों के चलते व्यक्ति की मौत की आशंका बढ़ जाती है, जो कि क्रोनिक ऑबस्ट्रक्टिव पलमोनरी डिजिज (सीओपीडी), दिल की बीमारियों और फेफड़ों के कैंसर के कारण होती है.

 
lung cancer awareness month 2017

प्रमुख शोधार्थी जॉन हापकिन्स ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की असिस्टेंट प्रोफेसर वानेशा गारेसिया-लार्सन ने बताया, 'इस रिसर्च से पता चलता है कि इस तरह का खाना उन लोगों में फेफड़ों के नुकसानकी मरम्मत में मदद कर सकता है जिन्होंने सिगरेट पीना छोड़ दिया है.'

apples offer a number of health benefits

इससे यह भी पता चलता है कि फलों को खाने में शामिल करने से फेफड़ों की प्राकृतिक बुढ़ापे की प्रक्रिया भी धीमी हो जाती है भले ही आप कभी सिगरेट न पीते हों या सिगरेट पीना करना छोड़ चुके हों.

INPUT: IANS
टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------