होम »  लिविंग हेल्दी & nbsp;»  Camel Pose क्या है? फायदे और नौसिखियों के लिए उष्ट्रासन करने का तरीका

Camel Pose क्या है? फायदे और नौसिखियों के लिए उष्ट्रासन करने का तरीका

Camel Pose Benefits: इस पोज की समानता कैमल के समान है, इसलिए इस योग मुद्रा को अक्सर उष्ट्रासन या ऊंट मुद्रा के रूप में जाना जाता है. आइए जानें इस मुद्रा को कैसे करें और इससे होने वाले सभी लाभों के बारे में जानें.

Camel Pose क्या है? फायदे और नौसिखियों के लिए उष्ट्रासन करने का तरीका

इस योग में शरीर की लगभग सभी प्रमुख मांसपेशियों में खिंचाव होता है.

Ustrasana Of Benefits: कैमल पोज को जब सही ढंग से किया जाता है, तो हमारे शरीर की लगभग सभी प्रमुख मांसपेशियों में खिंचाव होता है. इसके अलावा, यह छाती, पेट और जांघों सहित हमारे कई अंगों को उत्तेजित और टोन करता है. इस पोज में हमारे शरीर का अगला भाग पूरी तरह से शामिल होता है. ध्यान दें कि शुरुआती लोगों को कुछ भी तनाव से बचने के लिए इस मुद्रा को लगभग 20 सेकंड तक ही रखना चाहिए. इस पोज की समानता कैमल के समान है, इसलिए इस योग मुद्रा को अक्सर उष्ट्रासन या ऊंट मुद्रा के रूप में जाना जाता है. आइए जानें इस मुद्रा को कैसे करें और इससे होने वाले सभी लाभों के बारे में जानें.

Skincare Tips For Men: फेमस डर्मेटोलॉजिस्ट जयश्री शरद से जानें पुरुष कैसे करें अपनी स्किन की देखभाल


उष्ट्रासन क्या है? | What Is Ustrasana?

उस्त्र शब्द का अर्थ है ऊंट, और आसन का अर्थ है मुद्रा, जो संस्कृत से लिया गया एक अर्थ है. उष्ट्रासन एक बैकबेंड पोज है जो शरीर की पूरी मांसपेशियों को फैलाता है, आपकी कोर ताकत और आपके कंधों के लचीलेपन को बढ़ाता है.


आप अपने लचीलेपन के अनुसार इस आसन की गहराई में बदलाव ला सकते हैं. अगर वे उन्नत अभ्यासी हैं तो कुछ लोग झुकते समय अपने पैरों को अपने सिर से छू सकते हैं.

उष्ट्रासन के लाभ | Benefits Of Ustrasana

हम सभी जानते हैं कि योग का हमारे शरीर पर क्या सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. उष्ट्रासन से आपको मिलने वाले लाभों की लिस्ट इस प्रकार है:

कैमल पोज नियमित रूप से करने से पेट के अंगों को उत्तेजित करके आपके पाचन स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद मिलती है.

इस मुद्रा का अभ्यास करने से पीठ के निचले हिस्से का दर्द कम होता है, पीठ की मांसपेशियां मजबूत होती हैं.

इस मुद्रा में गहरा खिंचाव पीठ से संबंधित समस्याओं में आपकी मुद्रा में काफी सुधार करने में मदद करता है.

यह मासिक धर्म चक्र से जुड़े ऐंठन, सूजन, मिजाज से निपटने में मदद करता है.

Side Effects Of Warm Water: ज्यादा गर्म पानी पीने के नुकसान, रहें सावाधान नहीं तो होंगी ये परेशानियां...

खिंचाव जांघों, पेट और बाहों की मांसपेशियों को उत्तेजित करता है, जिससे आपको अनवांटेड पाउंड को कुशलतापूर्वक कम करने में मदद मिलती है.

कैमल पोज हिप फ्लेक्सर्स को फैलाने में मदद करती है, मांसपेशियों के स्वास्थ्य को बनाए रखती है, जिससे आपको टोंड कूल्हे मिलते हैं.

उष्ट्रासन डायबिटीज, स्पॉन्डिलाइटिस, थायराइड, ब्रोंकाइटिस, आवाज विकार आदि जैसी स्वास्थ्य स्थितियों पर चिकित्सीय प्रभाव प्रदान करता है.

यह योग मुद्रा हृदय चक्रों को खोलती है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ाकर ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं और हृदय की मांसपेशियों को फैलाते हैं.

ऊंट मुद्रा का अभ्यास करने से किडनी की कार्यप्रणाली को हेल्दी बनाए रखने में मदद मिलती है, जिससे मूत्र संक्रमण या विकारों से राहत मिलती है.

सर्दियों में जुकाम होने से पहले ही करें बचाव, यहां हैं 5 तरीके जो कॉमन कोल्ड से बचाएंगे

उष्ट्रासन के लिए शुरुआती गाइड

अगर आप एक नौसिखिया हैं, तो उष्ट्रासन करने से पहले निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • ऊंट मुद्रा में आप शुरू में तनाव पैदा किए बिना अपने पैरों तक पहुंचने में सक्षम नहीं हो सकते हैं. अगर आप अभी भी अपने पैरों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं तो आप लकड़ी के ब्लॉक की मदद ले सकते हैं और अपने हाथ रख सकते हैं.
  • अगर आप एक नौसिखिया हैं, तो सुनिश्चित करें कि इस मुद्रा को 20 सेकंड से अधिक समय तक न रखें.
  • इस आसन को करने का सही समय या तो सुबह या शाम को खाली पेट है.
  • किसी भी योग आसन का अभ्यास करने से पहले अपनी आंतों को खाली रखना जरूरत है. इसलिए खाना खाने के बाद चार से छह घंटे का अंतर रखें.

Periods में यौन संबंध ठीक या गलत? एक्ससपर्ट से जानें

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

पोषण विशेषज्ञ ने बताए Alive Seeds के जबरदस्त फायदे, जानें कैसे करें डाइट में शामिल

दिखने में अच्छी नहीं लगती बाजुओं पर लटकती चर्बी, अपनी आर्म्स को टोन करने के लिए ट्राई करें ये एक्सरसाइज


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आपके बच्चे में भूख की कमी, कमजोर हड्डियां और डार्क यूरिन के साथ ये 6 लक्षण दिखें, तो हो सकता है थैलेसीमिया

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

--------------------------------विज्ञापन---------------------------------- -