होम »  लिविंग हेल्दी »  Strong Muscles: एक्सरसाइज ही नहीं मसल्स को मजबूत करने के लिए इन 5 चीजों का सेवन भी जरूरी भी कर सकती हैं कमाल

Strong Muscles: एक्सरसाइज ही नहीं मसल्स को मजबूत करने के लिए इन 5 चीजों का सेवन भी जरूरी भी कर सकती हैं कमाल

How To Get Strong Muscles: बढ़ती उम्र के साथ मांसपेशियों की कमजोरी आम हो जाती है. यहां कुछ नेचुरल चीजें हैं जिन्हें आपको मजबूत मांसपेशियों को पाने के लिए अपनाना चाहिए.

Strong Muscles: एक्सरसाइज ही नहीं मसल्स को मजबूत करने के लिए इन 5 चीजों का सेवन भी जरूरी भी कर सकती हैं कमाल

How To Get Strong Muscles: बढ़ती उम्र के साथ मांसपेशियों की कमजोरी आम हो जाती है.

खास बातें

  1. बढ़ती उम्र के साथ मांसपेशियों की कमजोरी आम हो जाती है.
  2. यहां कुछ चीजें हैं जिन्हें आपको मजबूत मांसपेशियों के लिए अपनाना चाहिए.
  3. कम उम्र में कमजोरी होना आपके शरीर के लिए हानिकारक है.

How To Strengthen Muscles Naturally: आपके जोड़ों में दर्द होना या आसानी से थकान महसूस होना कमजोरी के लक्षण हो सकते हैं. हमारा शरीर उन्हें प्रभावित करने वाले कारकों के अनुसार कई प्रकार की कमजोरी का अनुभव करता है. यह चोट, उम्र का कारक, बीमारी, कुपोषण आदि के कारण हो सकता है. मांसपेशियों में कमजोरी एक आम समस्या है जिसका सामना ज्यादातर लोग तब करते हैं जब वे बड़े हो जाते हैं. हालांकि कुछ लोगों को कम उम्र से ही मांसपेशियों में कमजोरी का अनुभव होना शुरू हो जाता है. कम उम्र में कमजोरी होना आपके शरीर के लिए हानिकारक है और यह इस बात का संकेत है कि लंबे समय में स्वास्थ्य समस्याओं से बचने के लिए आपको जल्द ही इस पर ध्यान देने की जरूरत है. यहां मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए कुछ नेचुरल तरीकों के बारे में बताया गया है.

Weight Loss वाली डाइट फैड या फैब पोषण विशेषज्ञ के बताए इन 3 तरीकों से लगाएं पता

मांसपेशियों की कमजोरी के कारण क्या हैं? | Causes Of Muscle Weakness


मांसपेशियों में कमजोरी कई कारणों से हो सकती है. वे कुपोषण, इंटेंस वर्कआउट या ट्रेनिंग और बीमारी या चोट जैसी शारीरिक स्थितियां हैं. कुपोषण और चोट अस्थायी स्थितियां हैं जो समय के साथ ठीक हो सकती हैं.

मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए क्या खाएं | What To Eat To Strengthen Muscles

1. अंडे

हमारे शरीर की प्रॉपर फंक्शनिंग के लिए ऊर्जा और पोषण की जरूरत होती है जिसके लिए अंडे वास्तव में एक महान स्रोत हैं. वे विटामिन ए, राइबोफ्लेविन, प्रोटीन और फोलिक एसिड जैसे बहुत सारे सूक्ष्म और मैक्रोन्यूट्रिएंट्स का एक पैकेट हैं जो शरीर के कार्यों और विकास के लिए बहुत अच्छे हैं. नाश्ते में इनका रोजाना सेवन करना काफी है. अंडे की जर्दी भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह प्रोटीन और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होती है.

क्या वाकई बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद है Mustard Oil? यहां जानें सरसों के तेल के फायदे

2. इसेंसियल ऑयल

बी रोजमेरी तेल यानि मेंहदी का तेल एक और इसेंसियल ऑयल है जो मांसपेशियों की कमजोरी को कम करने में मदद कर सकता है क्योंकि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो मांसपेशियों के दर्द से निपटने के लिए जरूरी होते हैं. नीलगिरी का तेल मांसपेशियों के दर्द और इससे जुड़े लक्षणों से राहत पाने के लिए यह शक्तिशाली उपाय है. इसमें शक्तिशाली एंटी इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो मांसपेशियों की समस्याओं से लड़ने में जरूरी होते हैं. 

3. सेब साइडर सिरका

अध्ययनों से पता चला है कि शरीर में पोटेशियम की कमी से मांसपेशियों में दर्द और बेचैनी होती है. इस कमी को पूरा करने के लिए एप्पल साइडर विनेगर एक बेहतरीन विकल्प है. यह कैल्शियम और पोटेशियम जैसे सूक्ष्म पोषक तत्वों से भरा हुआ है. इस प्रकार इसका सेवन मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है और एंटी इंफ्लमेटरी गुण दर्द को कम करने में सहायता करते हैं.

सर्दी-खांसी के लिए वरदान है अजवाइन, झट से दिलाता है आराम, ये हैं इस्तेमाल करने के 6 तरीके

4. दूध

दूध कैल्शियम और प्रोटीन के सिंथेसिस को बढ़ाने और सुधारने का एक सिद्ध तरीका रहा है जो न केवल मांसपेशियों बल्कि हड्डियों के लिए भी अच्छा है. यह अब तक के सभी आयु वर्ग के लोगों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सबसे पुराने विकल्पों में से एक है. रोजाना 2 गिलास सादा दूध लेना काफी है.

क्या है बच्चे पैदा करने की सही उम्र:

5. बादाम

बादाम मैग्नीशियम और विटामिन ई के बेहतरीन स्रोत हैं जो आपकी मांसपेशियों और संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं. यह ऊर्जा देने के लिए भोजन से कार्बोहाइड्रेट के साथ-साथ प्रोटीन को भी परिवर्तित करता है. यह बदले में स्वाभाविक रूप से मांसपेशियों की कमजोरी और अन्य असुविधाओं का मुकाबला करने में सहायता करता है. इसके सेवन के लिए 8-10 बादाम को रात भर पानी में एक कप दूध के साथ भिगोकर या दूध के साथ अच्छी तरह मिलाकर लेना एक अच्छा विकल्प है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

हेल्थ की और खबरों के लिए जुड़े रहिए

Diabetes Diet: वो 7 चीजें जो डायबिटीज रोगियों के लिए हैं रामबाण, आसानी से काबू में रखती हैं ब्लड शुगर लेवल

Skin Care Tips: स्किन पर इन 3 तरीकों से लगाएंगे एलोवेरा तो मिलेंगे ये 5 गजब के फायदे, डल स्किन भी खिल उठेगा


Promoted
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Benefits Of Garlic In Winter: सर्दियों में लहसुन का सेवन करने के इन फायदों को जानकर रह जाएंगे आप हैरान

टिप्पणी

NDTV Doctor Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook  पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं सेहत से जुड़ी नई शोध और रिसर्च की खबरें, तंदुरुस्ती से जुड़े फीचर्स, यौन जीवन से जुड़ी समस्याओं के हल, चाइल्ड डेवलपमेंट, मेन्स हेल्थवुमन्स हेल्थडायबिटीज  और हेल्दी लिविंग अपडेट्स. 

................... विज्ञापन ...................

 

................... विज्ञापन ...................

-------------------------------- विज्ञापन -----------------------------------