Pneumonia

Image Credit Getty

लक्षण, उपचार
व बचाव...

क्या होता है

यह फेफड़ों का गंभीर संक्रमण है, जो बैक्टीरिया के कारण होता है. 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में मौत के कारणों में निमोनिया अग्रणी संक्रमण है.

Image Credit Getty

निमोनिया होने पर...

फेफड़े संक्रमित होने से श्वसन प्रणाली प्रभावित होती है. इसमें एक या दोनों फेफड़ों के थैलों में मवाद भर जाती है और सूजन आ जाती है.

Video Credit Getty

लक्षण

बलगम वाली खांसी, बुखार, मतली, उल्टी, दस्त, पसीना और ठंड लगना, सांस लेने में तकलीफ, शरीर का तापमान कम हो सकता है.

Video Credit Getty

किसे है खतरा

आमतौर पर दो साल या उससे कम उम्र के बच्चों और 65 वर्ष व उससे अधिक उम्र के लोगों में ज़्यादा खतरा देखा जाता है.

Video Credit Getty

बचाव

निमोनिया के लिए टीके उपलब्ध हैं. हाईजीन, धूम्रपान से परहेज़, मज़बूत इम्यूनिटी, व्यायाम और स्वस्थ आहार बचाव के उपायों में शामिल हैं.

Image Credit Getty

फ्लू और निमोनिया

निमोनिया में रोगी लंबे समय तक तेज़ बुखार से पीड़ित होता है, जो फ्लू के मामले में कम देखने को मिलता है.

Image Credit Getty

बुज़ुर्ग रखें ध्यान

बुज़ुर्गों में निमोनिया के 50% मामलों में खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ के बजाय तेज़ सांस, पेटदर्द, भूख न लगने जैसे लक्षण दिखते हैं.

Image Credit Getty

डाइग्नोज़

एक्सरे से निमोनिया का पता चलता है. ब्लड टेस्ट, यूरिन टेस्ट और थूक की जांच से भी निमोनिया को डाइग्नोज़ किया जा सकता है.

Video Credit Getty

इलाज

मरीजों को एन्टी-बायोटिक्स, फ्लुइड, ऑक्सीजन और फिज़ियोथैरेपी दी जा सकती है. यह डॉक्टर पर निर्भर करता है.

Video Credit Getty

नोट

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है. अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह लें.

Video Credit Getty

सेहत के खज़ाने से जुड़ी
जानकारी के लिए

Video Credit Getty

doctor.ndtv.com/hindi